Monday, May 20, 2024
Homeराजनीति'खुद को भगवान राम से भी बड़ा समझती है कॉन्ग्रेस, उसके राज में बढ़ी...

‘खुद को भगवान राम से भी बड़ा समझती है कॉन्ग्रेस, उसके राज में बढ़ी माओवादी हिंसा’: छत्तीसगढ़ के महासमुंद और जांजगीर-चांपा में बोले PM मोदी – I.N.D.I. में सिर-फुटव्वल

पीएम मोदी ने सवाल दागा कि आखिर कॉन्ग्रेस का हिंसा के साथ ये कैसा नाता है? उन्होंने कहा कि अपने भ्रष्टाचार को छिपाने के लिए कॉन्ग्रेस हिंसा को बढ़ावा देती रही, लोग जान गँवाते रहे, लेकिन कॉन्ग्रेस अपनी तिजोरी भरने में लगी रही।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार (23 अप्रैल, 2024) को छत्तीसगढ़ के महासमुंद और जांजगीर-चांपा में रैली कर भाजपा प्रत्याशियों के लिए वोट माँगा। पीएम ने राजस्थान के टोंक-सवाई माधोपुर में रैली करने के बाद छत्तीसगढ़ का दौरा किया। उससे पहले उन्होंने हनुमान जयंती के अवसर पर एक वीडियो के जरिए देशवासियों को शुभकामनाएँ भी दी। लोकसभा चुनाव 2024 को लेकर जहाँ विपक्ष सुस्त पड़ा है, पीएम मोदी धुआँधार रैलियाँ करने में लगे हुए हैं।

अब कश्मीर में भी लागू बाबसाहेब का संविधान: छत्तीसगढ़ के जांजगीर-चांपा में PM नरेंद्र मोदी

जांजगीर-चांपा पहुँचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि छत्तीसगढ़ वासियों ने मोदी की हर गारंटी पर मुहर लगाई है। उन्होंने जनता से कहा कि कुछ महीने पहले मैं विधानसभा चुनाव में भाजपा के लिए आपसे आशीर्वाद माँगने आया था, भाजपा के हर साथी को आप सब ने बहुत आशीर्वाद दिया, हमारे सेवा भाव को बहुत मान दिया। उन्होंने इसके लिए जनता का हृदय से आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि अयोध्या के जिस मंदिर की उम्मीद देश छोड़ चुका था, उस उम्मीद को पूरा करने का काम भाजपा ने किया है।

पीएम मोदी ने कहा कि कॉन्ग्रेस के लोग हम पर तंज करते थे, हर चुनाव में हमसे पूछा जाता था कि मंदिर कब बनेगा? बकौल पीएम मोदी, हमने उन्हें तारीख भी बताई, समय भी बताया, निमंत्रण भी भेजा, लेकिन उन्होंने प्राण प्रतिष्ठा के कार्यक्रम का निमंत्रण ठुकरा दिया। उन्होंने आरोप लगाया कि कॉन्ग्रेस खुद को भगवान राम से भी बड़ा मानती है। प्रधानमंत्री ने कहा कि धर्म के नाम पर देश को बाँटने वाली कॉन्ग्रेस आज़ादी के बाद पहले दिन से तुष्टिकरण में लगी हुई थी।

उन्होंने स्पष्ट कहा कि तुष्टिकरण और वोटबैंक की राजनीति कॉन्ग्रेस के DNA में है, तुष्टिकरण के लिए कॉन्ग्रेस को दलितों, पिछड़ों और जनजातीय समाज का हक भी ​छीनना पड़े तो एक सेकंड भी नहीं लगाएगी।पीएम मोदी ने कहा कि इसके उल्ट भाजपा ‘सबका साथ, सबका विकास’ के मंत्र पर चलने वाली पार्टी है और पार्टी की प्राथमिकता- गरीब, युवा, महिला और किसानों का कल्याण है। पीएम ने कहा कि 2014 से पहले करीब 60 वर्ष तक, कॉन्ग्रेस के एक ही परिवार ने सीधा या रिमोट से सरकार चलाई। उन्होंने आरोप लगाया कि कॉन्ग्रेस कभी नहीं चाहती कि दलित, पिछड़े, आदिवासियों की भागीदारी बढ़े।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, “2014 में आपने अपने बीच से आए मोदी को इतनी बड़ी जिम्मेदारी दी। मैं आप सभी के बीच से आया हूँ। मैं ग़रीबी को जी कर आया हूँ। जिन मुसीबतों को आपके माता-पिता ने झेला है, उन्हें मैंने भी झेला है। कॉन्ग्रेस ने अब एक और बड़ा खेल शुरू कर दिया है। पहले कर्नाटक से कॉन्ग्रेस सांसद ने कहा कि ​दक्षिण भारत को अलग देश घोषित कर देंगे और अब कॉन्ग्रेस के गोवा के उम्मीदवार कह रहे हैं कि गोवा पर देश का संविधान लागू नहीं होता, गोवा पर देश का संविधान थोपा गया। ये भारत का और बाबा साहेब आंबेडकर का अपमान है।”

बकौल पीएम मोदी, ये जम्मू-कश्मीर के कुछ लोग भी कहा करते थे कि यहाँ भारत का संविधान नहीं चलेगा, जनता ने मोदी को आशीर्वाद दिया और आज जम्मू-कश्मीर में बाबा साहेब का संविधान लागू हो गया। उन्होंने कहा कि जब भी चुनाव आता है, तो कॉन्ग्रेस वाले एक ही घिसी-पिटी टेप रिकॉर्ड बजाते रहते हैं – भाजपा वाले आएँगे, संविधान खत्म कर देंगे, भाजपा वाले आएँगे, आरक्षण खत्म कर देंगे। पीएम मोदी ने कहा कि अरे, कितने दिनों तक झूठ चलाते रहोगे। उन्होंने कहा कि एक बात याद रखी जानी चाहिए, खुद बाबा साहेब आंबेडकर भी आकर कहें तो भी कोई संविधान नहीं बदल सकता।

‘लोग जान गँवाते रहे, कॉन्ग्रेस तिजोरी भरती रही’ : छत्तीसगढ़ के महासमुंद में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

वहीं महासमुंद में जनसभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि 19 अप्रैल को छत्तीसगढ़ में बस्तर सीट पर मतदान हुआ, देश के और राज्यों में भी मतदान हुआ। उन्होंने कहा कि प्रथम चरण के मतदान ने साफ कर दिया है कि देश का मन एकदम साफ है और देश का मन कहता है कि शक्तिशाली, विकसित भारत बनाने के लिए एक मजबूत सरकार बनानी है, इसलिए, जनता जनार्दन का भरोसा भाजपा पर है। बकौल पीएम मोदी, I.N.D.I. गठबंधन में आपस में ही सिर-फुटव्वल चल रही है, 2 दिन पहले झारखंड में इंडी अलायंस की रैली थी, वहाँ सरेआम सिर फोड़े गए, कपड़े फाड़े गए।

पीएम मोदी ने कहा कि दिल्ली में जहाँ कॉन्ग्रेस का शाही परिवार रहता है, वहाँ शाही परिवार का वोट कॉन्ग्रेस को नहीं जाएगा और आपको कहते हैं वोट दो, क्योंकि शाही परिवार जहाँ रहता है, वहाँ कॉन्ग्रेस का उम्मीदवार ही नहीं है। पीएम मोदी ने कहा कि जिस कॉन्ग्रेस से दिल्ली का भरोसा उठ गया हो, उस पर छत्तीसगढ़ भरोसा कैसे कर सकता है, तभी तो देश कह रहा है, फिर एक बार मोदी सरकार। उन्होंने कहा कि कॉन्ग्रेस जब भी सत्ता में रही है, उसने विकास को पटरी से उतारने का ही काम किया है।

बकौल प्रधानमंत्री, कॉन्ग्रेस और विकास साथ-साथ चल ही नहीं सकते हैं। इसके अलावा कॉन्ग्रेस जहाँ-जहाँ सरकार में रही, हिंसा और भ्रष्टाचार चरम पर पहुँच गया। पीएम मोदी ने कहा कि जब तक नॉर्थ-ईस्ट में थी, वहाँ हिंसा की गतिविधियाँ शांत नहीं हुईं। इसी तरह, उन्होंने उदाहरण दिया कि जब तक छत्तीसगढ़ में रही, प्रदेश में नक्सली, माओवादी हिंसा बढ़ती रही। साथ ही सवाल दागा कि आखिर कॉन्ग्रेस का हिंसा के साथ ये कैसा नाता है? उन्होंने कहा कि अपने भ्रष्टाचार को छिपाने के लिए कॉन्ग्रेस हिंसा को बढ़ावा देती रही, लोग जान गँवाते रहे, लेकिन कॉन्ग्रेस अपनी तिजोरी भरने में लगी रही।

महासमुंद में पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा, “PM किसान सम्मान निधि के तहत 3 लाख करोड़ रुपए किसानों के खातों में सीधे हस्तांतरित किया गया है। अगर देश में कॉन्ग्रेस सरकार होती, तो इसमें ये करीब ढाई लाख करोड़ रुपए पर कोई न कोई पंजा मार लेता। जब तक देश में भाजपा सरकार है, तब तक आपके हक का पैसा सीधे आपके खाते में पहुँचता रहेगा। कॉन्ग्रेस ने 60 साल तक देश पर राज किया, लेकिन उन्हें कभी इसकी चिंता नहीं हुई कि क्या कभी गरीब के बच्चे भी भूखे सोते होंगे? क्या कभी गरीब के घर में भी चूल्हा नहीं जलता होगा?”

PM ने कहा कि मोदी इस दर्द को जानता था, इसलिए मुफ्त राशन की योजना शुरू की और आज गरीब को मुफ्त राशन मिल रहा है। उन्होंने कहा कि कोई नहीं चाहता कि उसकी संतानें भी गरीब रहें, लेकिन ये कॉन्ग्रेस के शाही परिवार की करनी का फल है जो गरीब था वो गरीब ही रहा। पीएम मोदी ने कहा कि कॉन्ग्रेस की वजह से ही इतनी बड़ी आबादी पिछड़ी रह गई, वंचित रह गई, शोषित रह गई। साथ ही उन्होंने कहा कि कॉन्ग्रेस ने ओबीसी कमीशन को संवैधानिक दर्जा नहीं दिया, मेडिकल की परीक्षाओं में ओबीसी आरक्षण तक नहीं दिया।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

भारत पर हमले के लिए 44 ड्रोन, मुंबई के बगल में ISIS का अड्डा: गाँव को अल-शाम घोषित चला रहे थे शरिया, जिहाद की...

साकिब नाचन जिन भी युवाओं को अपनी टीम में भर्ती करता था उनको जिहाद की कसम दिलाई जाती थी। इस पूरी आतंकी टीम को विदेशी आकाओं से निर्देश मिला करते थे।

कनाडा, अमेरिका, अरब… AAP ने करोड़ों का लिया चंदा, लेकिन देने वालों की पहचान छिपा ली: ED का खुलासा, खालिस्तानी आतंकी पन्नू ने भी...

ED की एक रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि AAP ने ₹7.08 करोड़ की विदेशी फंडिंग में गड़बड़ियाँ की हैं। इस रिपोर्ट को गृह मंत्रालय को भेजा गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -