Friday, September 17, 2021
Homeराजनीतिदिवाली पर PM मोदी देंगे अपने संसदीय क्षेत्र को ₹614 करोड़ की सौगात: वाराणसी...

दिवाली पर PM मोदी देंगे अपने संसदीय क्षेत्र को ₹614 करोड़ की सौगात: वाराणसी में पूरी की गई 19 परियोजनाएँ

प्रधानमंत्री मोदी अपने इस वर्चुअल कार्यक्रम के दौरान 118 करोड़ से सीड स्टोर निर्माण आईपीडीएस फेस-2, 60 करोड़ से शिक्षक आवास का निर्माण, 29.6 करोड़ से रीजनल आथ्रोलॉजी विंग, 19 करोड़ से गंगा प्रदूषण नियंत्रण, गौ संरक्षण केंद्र, केंद्रीय कारागार की बाउंड्रीवाल एयरपोर्ट पर यात्री निवास ब्रिज, 8.7 करोड़ से स्पोटर्स स्टेडियम में....

दीपावली से पहले पीएम नरेंद्र मोदी अपने संसदीय क्षेत्र काशी के निवासियों को बड़ी सौगात देंगे। 9 नवंबर को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पीएम मोदी काशी को 682 करोड़ का उपहार देंगे। सोमवार (नवंबर 9, 2020) को पीएम मोदी वर्चुअल तरीके से 19 परियोजनाओं का लोकार्पण और 17 परियोजनाओं का शिलान्यास करेंगे। इस दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लखनऊ से कार्यक्रम में शामिल होंगे। हालाँकि कई मीडिया रिपोर्ट में 33 परियोजनाएँ बताई जा रही है।

बता दें कि पीएम मोदी जिन 19 परियोजनाओं का लोकार्पण करेंगे उनके निर्माण में 232 करोड़ रुपए खर्च हुए हैं। खास बात यह है कि ये सभी 19 परियोजनाएँ कोरोना काल में पूरी हुई हैं। वहीं 17 परियोजनाओं के निर्माण में 465 करोड़ रुपए की लागत आएगी।

प्रधानमंत्री मोदी अपने इस वर्चुअल कार्यक्रम के दौरान 118 करोड़ से सीड स्टोर निर्माण आईपीडीएस फेस-2, 60 करोड़ से शिक्षक आवास का निर्माण, 29.6 करोड़ से रीजनल आथ्रोलॉजी विंग, 19 करोड़ से गंगा प्रदूषण नियंत्रण, गौ संरक्षण केंद्र, केंद्रीय कारागार की बाउंड्रीवाल एयरपोर्ट पर यात्री निवास ब्रिज, 8.7 करोड़ से स्पोटर्स स्टेडियम में इंफ्रास्ट्रक्चर विकास कार्य, 18.4 रामनगर अस्पताल का अपग्रेडेशन, 45 करोड़ से बीएचयू में 100 बेड का एमसीएच विंग सहित अन्य परियोजनाओं का लोकार्पण करेंगे।

वाराणसी कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने वर्चुअल कार्यक्रम की अधिक जानकारी देते हुए कहा कि 9 अक्टूबर को लोकार्पण होने वाली परियोजनाओं की खास बात यह है कि यह सारी परियोजनाएँ कोरोना काल के लॉकडाउन पीरियड में पूरी की गई हैं। जनपद वाराणसी में लगभग 10000 करोड़ की परियोजनाएँ संचालित हैं। यह सारी परियोजनाएँ अगले साल दिसंबर तक पूरी हो जाएँगी। इसमें कई परियोजनाएँ पहले भी पूरी हो सकती है। जिसका सीधा लाभ जनता को मिलेगा।

वाराणसी कमिश्नर ने आगे बताया कि सारनाथ बुद्ध सर्किट का बहुत ही महत्वपूर्ण अंग है। शुरुआत में इस परियोजना को लेकर काफी कठिनाई आई थी और नतीजे भी संतोषजनक नहीं मिल पाए थे क्योंकि हर महीने हजारों की संख्या में पर्यटक धामेख स्तूप पर आते हैं तो लाइट एंड साउंड का एक शो वहाँ पर पर्यटन को बढ़ावा देने के मकसद से शुरू किया जा रहा है। इस आधे घंटे के लाइट और साउंड के शो में बुद्ध धर्म के विकास और सारनाथ के महत्व के बारे में बताया जाएगा।

अमिताभ बच्चन के वॉइस ओवर वाले कार्यक्रम के बारे में उन्होंने कहा कि यहाँ के लिए सबसे मुख्य आकर्षण यह है कि इसमें वॉइस ओवर विख्यात अभिनेता अमिताभ बच्चन की आवाज में है। कमिश्नर दीपक अग्रवाल का मानना है कि इस साउंड और लाइट शो द्वारा आयोजित किया जाने वाला यह कार्यक्रम न केवल पर्यटकों और बौद्ध धर्म को मानने वालों को काफी अच्छा लगेगा, बल्कि वाराणसी की अर्थव्यवस्था में भी बढ़ोतरी होगी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘फर्जी प्रेम विवाह, 100 से अधिक ईसाई लड़कियों का यौन शोषण व उत्पीड़न’: केरल के चर्च ने कहा – ‘योजना बना कर हो रहा...

केरल के थमारसेरी सूबा के कैटेसिस विभाग ने आरोप लगाया है कि 100 से अधिक ईसाई लड़कियों का फर्जी प्रेम विवाह के नाम पर यौन शोषण किया गया।

डॉ जुमाना ने किया 9 बच्चियों का खतना, सभी 7 साल की: चीखती-रोती बच्चियों का हाथ पकड़ लेते थे डॉ फखरुद्दीन व बीवी फरीदा

अमेरिका में मुस्लिम डॉक्टर ने 9 नाबालिग बच्चियों का खतना किया। सभी की उम्र 7 साल थी। 30 से अधिक देशों में है गैरकानूनी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
122,922FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe