Sunday, June 20, 2021
Home राजनीति IAS था, जनता का नौकर था... लेकिन PM कैंडिडेट मोदी का इंटरव्यू दूरदर्शन पर...

IAS था, जनता का नौकर था… लेकिन PM कैंडिडेट मोदी का इंटरव्यू दूरदर्शन पर काट कर चलवाया था

जवाहर सरकार ने 2014 लोकसभा चुनावों के दौरान दूरदर्शन पर प्रसारित बीजेपी के प्रधानमंत्री उम्मीदवार नरेंद्र मोदी के इंटरव्यू को 'स्पष्ट रूप से एडिट' करने की बात स्वीकार की थी।

प्रसार भारती के पूर्व सीईओ और IAS रह चुके जवाहर सरकार इस समय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ नीता अंबानी की फोटोशॉप्ड तस्वीर शेयर करने के कारण चर्चा में हैं। हालाँकि, ऐसा पहली दफा नहीं है कि जवाहर सरकार ने पीएम मोदी की छवि धूमिल करने का प्रयास किया हो। इससे पहले साल 2014 में भी लोकसभा चुनावों के समय भी वह मोदी विरोधी काम करके खबरों में आ चुके हैं।

2 मई 2014 को प्रकाशित मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, जवाहर सरकार ने 2014 लोकसभा चुनावों के दौरान दूरदर्शन पर प्रसारित बीजेपी के प्रधानमंत्री उम्मीदवार नरेंद्र मोदी के इंटरव्यू को ‘स्पष्ट रूप से एडिट’ करने की बात स्वीकार की थी। मोदी का ये इंटरव्यू 27 अप्रैल, 2014 को दूरदर्शन पर प्रसारित हुआ था।

सरकार ने मानी थी 2014 में मोदी के इंटरव्यू में काट-छाँट की बात

दूरदर्शन ने 27 अप्रैल को प्रसारित मोदी के इंटरव्यू के कुछ हिस्सों को एडिट किया था, जिसमें उन्होंने प्रियंका गांधी वाड्रा और कॉन्ग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के राजनीतिक सलाहकार अहमद पटेल का जिक्र किया था। इसे लेकर राजनीतिक तूफान खड़ा हो गया था और भारतीय जनता पार्टी ने दूरदर्शन पर सरकार के नियंत्रण का आरोप लगाया था।

नरेंद्र मोदी के इंटरव्यू को जवाहर सरकार ने काट-छाँट करके चलवाया था और इसे वह अपने पत्र में स्वीकार भी चुके हैं। उस समय पूरे 56 मिनट का इंटरव्यू महज 28 मिनट में, बिना किसी को जानकारी दिए प्रसारित किया गया था।

इंटरव्यू से जो हिस्सा काटा गया वहाँ मोदी ने प्रियंका गाँधी और अहमद पटेल पर अपनी सॉफ्ट बातों को रखा था। लेकिन मोदी का यह कॉर्नर दिखाना शायद सिरकार कें नेतृत्व में दूरदर्शन को नामंजूर था। अंत: फैसला लिया गया कि इंटरव्यू ले लिया है तो वह टेलीकास्ट होगा, लेकिन एडिटिंग के बाद। बताया जाता है जिस समय मोदी के इंटरव्यू की यह एडिटिंग चल रही थी उस समय कुछ लोगों को ही ए‍डिटिंग रूम में जाने की इजाजत थी। बाकी लोगों को उस कमरे से बाहर रखा गया था।

साल 2014 में मोदी के इंटरव्यू की कहानी

साल 2014 में भाजपा द्वारा नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री पद का दावेदार बनाने की जब घोषणा की गई तभी दूरदर्शन पत्रकार अशोक श्रीवास्तव ने उस इंटरव्यू को अहमदाबाद में शूट किया। लेकिन अंदरूनी कारणों से दूरदर्शन ने इसके प्रसारण में देर कर दी। उस समय सरकार को कई जगह से संदेश आने लगे कि कहीं इंटरव्यू ड्रॉप तो नहीं कर दिया गया।

सोशल मीडिया और फोन कॉल्स से पड़ रहे दबाव के बाद 27 अप्रैल को इस इंटरव्यू को बिना किसी को सूचित किए प्रसारित किया गया। इंटरव्यू में काट-छाँट किस स्तर पर हुई थी इसका अंदाजा इससे लगता है कि 56 मिनट का इंटरव्यू था और प्रसारित हुआ मात्र 28 मिनट का।

ये एडिटिड इंटरव्यू देख भाजपा समर्थक दूरदर्शन पत्रकार अशोक श्रीवास्तव पर अपना गुस्सा निकालने लगे और सरकार से तमाम सवाल-जवाब होने लगे। सरकार ने पहले तो इस हरकत का ठीकरा तत्कालीन सूचना एवं प्रसारण मंत्री मनीष तिवारी पर फोड़ दिया। जिससे भाजपा ने तत्कालीन सरकार पर मीडिया को कंट्रोल करने के आरोप लगाए।

लेकिन दूरदर्शन की पोल तब खुली जब तिवारी ने सरकार की बातों से किनारा कर लिया। तिवारी ने कहा, “प्रसार भारती एक स्वायत्त प्रसारक है और संसद के एक अधिनियम द्वारा शासित है। केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्रालय का प्रसारक के साथ एक व्यापक संबंध है। हम उनके समाचार एजेंडे में हस्तक्षेप नहीं करते हैं।”

अब ये जानना दिलचस्प है कि सरकार ने अपने पत्र में लिखा क्या था। तो इंडिया टुडे की रिपोर्ट बताती है कि सरकार ने इस पत्र में इंटरव्यू टेलीकास्ट करने वाली स्थिति को बयान किया था। इसमें बताया था कि कैसे डीडी न्यूज के सर्वोत्तम प्रयास (एडिटेड वीडियो) के बावजूद एक संतुलित वीडियो नहीं बन पाया और वह लोग इस बात को लेकर आश्वस्त नहीं थे कि इसके काउंटर में राहुल गाँधी का इंटरव्यू होगा या नहीं।

नरेंद्र मोदी के इंटरव्यू का यह वीडियो 1 मई 2014 को नरेंद्र मोदी यूट्यूब चैनल पर अपलोड किया गया था। इसमें मात्र 6:00 सेकेंड के स्लॉट के बाद देख सकते हैं कि उन्होंने प्रियंका गाँधी को बेटी कहते हुए अपनी बात रखी है। जिसे दूरदर्शन ने वीडियो से एडिट करवा दिया था।

इसके अलावा इस इंटरव्यू में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कॉन्ग्रेस के दिवंगत नेता अहमद पटेल के लिए भी कई दोस्ताना बातें कहीं थी। उन्होंने बताया था कि कैसे उनसे संबंध अहमद पटेल से अच्छे थे और वह लोग उन्हें अहमद भी नहीं कहते बल्कि बाबूभाई कहते थे। हालाँकि अहमद पटेल ने चुनाव नजदीक देखते हुए मोदी के दावों को खारिज कर दिया था और कहा था कि उन्होंने सिर्फ 1980 में मोदी के साथ लंच किया था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘नाइट चार्ज पर भेजो रं$* सा*$ को’: दरगाह परिसर में ‘बेपर्दा’ डांस करना महिलाओं को पड़ा महंगा, कट्टरपंथियों ने दी गाली

यूजर ने मामले में कट्टरपंथियों पर निशाना साधते हुए पूछा है कि ये लोग दरगाह में डांस भी बर्दाश्त नहीं कर सकते और चाहते हैं कि मंदिर में किसिंग सीन हो।

इन 6 तरीकों से उइगर मुस्लिमों का शोषण कर रहा है चीन, वहीं की एक महिला ने सुनाई खौफनाक दास्ताँ

रिपोर्ट में कहा गया है कि चीन योजनाबद्ध तरीके से उइगर मुसलमानों की संख्‍या सीमित करने में जुटा है और इसका असर अगले 20 वर्षों में साफ देखने को मिलेगा।

शशि थरूर की अध्यक्षता वाली संसदीय स्थायी समिति के सामने पेश हुआ Twitter, खुद अपने ही जाल में फँसा: जानें क्या हुआ

संसदीय समिति ने ट्विटर के अधिकारियों से पूछताछ करते हुए साफ कहा कि देश का कानून सर्वोपरि है ना कि आपकी नीतियाँ।

हिन्दू देवी की मॉर्फ्ड तस्वीर शेयर कर आस्था से खिलवाड़, माफी माँगकर किनारे हुआ पाकिस्तानी ब्रांड: भड़के लोग

एक प्रमुख पाकिस्तानी महिला ब्रांड, जेनरेशन ने अपने कार्यालय में हिंदू देवता की एक विकृत छवि डालकर हिंदू धर्म का मजाक उड़ाया।

केजरीवाल सरकार को 30 जून तक राशन दुकानों पर ePoS मशीन लगाने का केंद्र ने दिया अल्टीमेटम, विफल रहने पर होगी कार्रवाई

ऐसा करने में विफल रहने पर क्या कार्रवाई की जाएगी यह नहीं बताया गया है। दिल्ली को एनएफएसए के तहत लाभार्थियों को बाँटने के लिए हर महीने 36,000 टन चावल और गेहूँ मिलता है।

सपा नेता उम्मेद पहलवान दिल्ली में गिरफ्तार, UP पुलिस ले जाएगी गाजियाबाद: अब्दुल की पिटाई के बाद डाला था भड़काऊ वीडियो

गिरफ्तारी दिल्ली के लोक नारायण अस्पताल के पास हुई है। गिरफ्तारी के बाद उसे गाजियाबाद लाया जाएगा और फिर आगे की पूछताछ होगी।

प्रचलित ख़बरें

70 साल का मौलाना, नाम: मुफ्ती अजीजुर रहमान; मदरसे के बच्चे से सेक्स: Video वायरल होने पर केस

पीड़ित छात्र का कहना है कि परीक्षा में पास करने के नाम पर तीन साल से हर जुम्मे को मुफ्ती उसके साथ सेक्स कर रहा था।

‘…इस्तमाल नहीं करो तो जंग लग जाता है’ – रात बिताने, साथ सोने से मना करने पर फिल्ममेकर ने नीना गुप्ता को कहा था

ऑटोबायोग्राफी में नीना गुप्ता ने उस घटना का जिक्र भी किया है, जब उन्हें होटल के कमरे में बुलाया और रात बिताने के लिए पूछा।

BJP विरोध पर ₹100 करोड़, सरकार बनी तो आप होंगे CM: कॉन्ग्रेस-AAP का ऑफर महंत परमहंस दास ने खोला

राम मंदिर में अड़ंगा डालने की कोशिशों के बीच तपस्वी छावनी के महंत परमहंस दास ने एक बड़ा खुलासा किया है।

‘रेप और हत्या करती है भारतीय सेना, भारत ने जबरन कब्जाया कश्मीर’: TISS की थीसिस में आतंकियों को बताया ‘स्वतंत्रता सेनानी’

राजा हरि सिंह को निरंकुश बताते हुए अनन्या कुंडू ने पाकिस्तान की मदद से जम्मू कश्मीर को भारत से अलग करने की कोशिश करने वालों को 'स्वतंत्रता सेनानी' बताया है। इस थीसिस की नजर में भारत की सेना 'Patriarchal' है।

वामपंथी नेता, अभिनेता, पुलिस… कुल 14: साउथ की हिरोइन ने खोल दिए यौन शोषण करने वालों के नाम

मलयालम फिल्मों की एक्ट्रेस रेवती संपत ने एक फेसबुक पोस्ट में 14 लोगों के नाम उजागर कर कहा है कि इन सबने उनका यौन शोषण किया है।

कम उम्र में शादी करो, एक से ज्यादा करो: अभिनेता फिरोज खान ने पैगंबर मोहम्मद का दिया उदाहरण

फिरोज खान ने कहा कि शादी सीखने का एक अनुभव है। इस्लामिक रूप से यह प्रोत्साहित भी करता है, इसलिए बहुविवाह आम प्रथा होनी चाहिए।
- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
104,984FollowersFollow
392,000SubscribersSubscribe