Sunday, June 16, 2024
Homeराजनीति'हमारा रिश्ता जन-जन का, मन से मन का': मतुआ हर्टलैंड में PM मोदी, बंगाल...

‘हमारा रिश्ता जन-जन का, मन से मन का’: मतुआ हर्टलैंड में PM मोदी, बंगाल की 70 सीटों पर इनका प्रभाव

"किसने सोचा था कि भारत का प्रधानमंत्री कभी ओरकांडी आएगा। मैं आज वैसा ही महसूस कर रहा हूँ, जो भारत में रहने वाले ‘मतुआ संप्रदाय’ के मेरे हजारों-लाखों भाई-बहन ओरकांडी आकर महसूस करते हैं।"

बांग्लादेश दौरे के दूसरे दिन शनिवार (27 मार्च 2021) को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मतुआ हर्टलैंड ओरकांडी पहुँचे। मंदिर में पूजा-अर्चना की। बंगाल में इस समुदाय के लगभग दो करोड़ लोग रहते हैं और वहाँ की 70 विधानसभा सीटों पर इनका असर है

ओरकांडी मंदिर में दर्शन करने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मतुआ समुदाय के लोगों को संबोधित किया। इस दौरान राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल और विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रंगला मौजूद रहे। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि उन्होंने यहाँ आने की इच्छा बहुत पहले प्रकट की थी। उन्होंने कहा कि हमारा रिश्ता मन से मन का और जन से जन का है।

ओरकांडी में प्राथमिक स्कूल बनाने का ऐलान

प्रधानमंत्री मोदी ने मतुआ समुदाय के लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि ओरकांडी में भारत सरकार लड़कियों के मिडिल स्कूल को अपग्रेड करेगी और भारत सरकार द्वारा यहाँ एक प्राइमरी स्कूल भी स्थापित किया जाएगा। ये भारत के करोड़ों लोगों की तरफ से हरिचंद ठाकुर जी को श्रद्धांजलि है।

ओरकांडी में पीएम ने कोरोना वायरस महामारी पर भी बात की। उन्होंने कहा, “कोरोन काल में दोनों ही देशों ने अपने सामर्थ को दिखाया है। मेक इन इंडिया वैक्सीन भारत-बांग्लादेश के हर जन को पहुँचे, भारत इसे अपना कर्तव्य समझता है।”

पीएम ने पश्चिम बंगाल में बनगाँव से सांसद शांतनु ठाकुर की तारीफ की। उन्होंने कहा, “मेरा सौभाग्य है की हरिचंद देव की विरासत को सँभाल रहे शांतनु ठाकुर संसद में मेरे सहयेगी हैं। मुझसे छोटे हैं पर उनसे भी हमें बहुत कुछ सीखने का मौका मिलता है वो बहुत कर्मठ हैं।”

पीएम मोदी ने कहा इस पवित्र अवसर की प्रतीक्षा बहुत वर्षो से थी। उन्होंने कहा, “मेरी इच्छा 2015 से है जब मैं पीएम बना था तभी से यहाँ आने की इच्छा थी वो आज पूरी हुई। उन्होंने कहा कि मुझे याद है, पश्चिम बंगाल में ठाकुरनगर में जब मैं गया था, तो वहाँ मेरे मतुआ भाइयों-बहनों ने मुझे परिवार के सदस्य की तरह प्यार दिया था। विशेष तौर पर ‘बॉरो-माँ’ का अपनत्व, माँ की तरह उनका आशीर्वाद, मेरे जीवन के अनमोल पल रहे हैं।”

उन्होंने कहा, “भारत और बांग्लादेश दोनों ही देश अपने विकास से, अपनी प्रगति से पूरे विश्व की प्रगति देखना चाहते हैं। दोनों ही देश दुनिया में अस्थिरता, आतंक और अशांति की जगह स्थिरता, प्रेम और शांति चाहते हैं। यही मूल्य, यही शिक्षा हरिचंद देव ने हमें दी थी।” 

पीएम ने कहा कि किसने सोचा था कि भारत का प्रधानमंत्री कभी ओरकांडी आएगा। मैं आज वैसा ही महसूस कर रहा हूँ, जो भारत में रहने वाले ‘मतुआ संप्रदाय’ के मेरे हजारों-लाखों भाई-बहन ओरकांडी आकर महसूस करते हैं। पीएम ने कहा कि मैं बांग्लादेश के राष्ट्रीय पर्व पर भारत के आपके 130 करोड़ भाइयों-बहनों की तरफ से आपके लिए प्रेम और शुभकामनाएँ लाया हूँ। आप सभी को बांग्लादेश की आज़ादी के 50 साल पूरे होने पर ढेरों बधाई, हार्दिक शुभकामनाएँ।

इससे पहले PM मोदी दक्षिण-पूर्व सतखिरा स्थित जेशोरेश्वरी काली मंदिर गए थे, यहाँ उन्होंने पूजा-अर्चना की। इसे 51 शक्तिपीठों में से एक माना जाता है। पीएम मोदी ने यहाँ माँ काली को हाथ से निर्मित मुकुट पहनाया, उनके चरणों में साड़ी भेंट की। इसके बाद मंत्रोच्चार के साथ पूजा-अर्चना की। यह मुकुट चाँदी से बना है, जिस पर सोने की परत चढ़ाई गई है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

J&K में योग दिवस मनाएँगे PM मोदी, अमरनाथ यात्रा भी होगी शुरू… उच्च-स्तरीय बैठक में अमित शाह का निर्देश – पूरी क्षमता लगाएँ, आतंकियों...

2023 में 4.28 लाख से भी अधिक श्रद्धालुओं ने बाबा अमरनाथ का दर्शन किया था। इस बार ये आँकड़ा 5 लाख होने की उम्मीद है। स्पेशल कार्ड और बीमा कवर दिया जाएगा।

परचून की दुकान से लेकर कई हजार करोड़ के कारोबार तक, 38 मुकदमों वाले हाजी इक़बाल ने सपा-बसपा सरकार में ऐसी जुटाई अकूत संपत्ति:...

सहारनपुर में मिर्जापुर का रहने वाला मोहम्मद इकबाल परचून की दुकान से काम शुरू कर आगे बढ़ता गया। कभी शहद बेचा, तो फिर राजनीति में आया और खनन माफिया भी बना।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -