Tuesday, November 30, 2021
Homeराजनीतिमृतकों के परिजनों को ₹2 लाख, घायलों को ₹50 हजार: PM मोदी ने बंगाल...

मृतकों के परिजनों को ₹2 लाख, घायलों को ₹50 हजार: PM मोदी ने बंगाल को दिया ₹1000 करोड़ का राहत पैकेज

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बशीरहाट में तूफान के कारण बुरी तरह प्रभावित हुए जिलों का जायजा लेने के बाद, तुरंत पश्चिम बंगाल के लिए ₹1,000 करोड़ के राहत पैकेज की घोषणा की। इसके अलावा उन्होंने इस मौके पर तूफान के कारण मरने वालों के परिजनों को 2 लाख रुपए देने व घायलों को 50 हजार रुपए की आर्थिक मदद पहुँचाने का ऐलान किया।

अम्फान तूफान (amphan cyclone) के कारण पश्चिम बंगाल और ओडिशा में मची भारी तबाही को देखते हुए आज (मई 22, 2020) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हालातों का जायजा लेने बंगाल पहुँचे। यहाँ उन्होंने हवाई सर्वेक्षण कर स्थिति को परखा और फिर ₹1000 करोड़ के राहत पैकेज का ऐलान किया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बशीरहाट में अधिकारियों के साथ बातचीत करने के बाद और तूफान के कारण बुरी तरह प्रभावित हुए जिलों का जायजा लेने के बाद, तुरंत पश्चिम बंगाल के लिए ₹1,000 करोड़ के राहत पैकेज की घोषणा की।

इसके अलावा उन्होंने इस मौके पर तूफान के कारण मरने वालों के परिजनों को 2 लाख रुपए देने व घायलों को 50 हजार रुपए की आर्थिक मदद पहुँचाने का ऐलान किया।

पीएम मोदी ने कहा, कोरोना वायरस महामारी के बीच हम तूफान अम्फान के लिए तैयार थे। बावजूद इसके हम 80 लोगों की जान को नहीं बचा पाए। राज्य में इंफ्रास्ट्रक्चर को भारी नुकसान हुआ है। लोगों के घर टूट गए हैं।

पीएम नरेंद्र मोदी ने इस दौरान ममता बनर्जी, राज्यपाल जगदीप धनखड़ और राज्य के अन्य अधिकारियों के साथ समीझा बैठक की। इस बैठक में पीएम ने उन्हें आश्वस्त किया कि वे बंगाल की इस दुख की घड़ी में उनके साथ खड़े हैं।

उन्होंने कहा, बंगाल जल्द-जल्द से खड़ा हो जाए और तेज गति से आगे बढे़, इसके लिए भारत सरकार बंगाल के साथ कंधे से कंधा मिलाकर काम करेगी और जो भी आवश्यकताएँ होगी उन आवश्यकताओं को पूर्ण करते हुए बंगाल की मदद के लिए हम खड़े रहेंगे।

बता दें, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हालातों को देखते हुए इस दौरान 80 लोगों की मौत पर दुख व्यक्त किया। जिन परिवारों ने अपने स्वजनों को खोया उनके प्रति केंद्र सरकार की ओर से संवेदना प्रकट की।

जानकारी के अनुसार, बंगाल में तूफान से प्रभावित इलाकों को देखने के बाद अब प्रधानमंत्री ओडिशा के दौरे पर भी जाएँगे। जहाँ वे मुख्यमंत्री नवीन पटनायक से मिलकर हालातों का जायजा लेंगे।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘UPTET के अभ्यर्थियों को सड़क पर गुजारनी पड़ी जाड़े की रात, परीक्षा हो गई रद्द’: जानिए सोशल मीडिया पर चल रहे प्रोपेगंडा का सच

एक तस्वीर वायरल हो रही है, जिसके आधार पर दावा किया जा रहा है कि ये उत्तर प्रदेश में UPTET की परीक्षा देने वाले अभ्यर्थियों की तस्वीर है।

बेचारा लोकतंत्र! विपक्ष के मन का हुआ तो मजबूत वर्ना सीधे हत्या: नारे, निलंबन के बीच हंगामेदार रहा वार्म अप सेशन

संसद में परंपरा के अनुरूप आचरण न करने से लोकतंत्र मजबूत होता है और उस आचरण के लिए निलंबन पर लोकतंत्र की हत्या हो जाती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
140,547FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe