Thursday, August 5, 2021
Homeराजनीतिशिवसेना MP की गाड़ी से कुचल कर मारा गया हिरण, AAREY जंगल पर पर्यावरण...

शिवसेना MP की गाड़ी से कुचल कर मारा गया हिरण, AAREY जंगल पर पर्यावरण बचाने का दावा कर रही है पार्टी

पार्क के डायरेक्टर अनवर ने अपील की है कि गाड़ी चलाने वाले उद्यान के भीतर ट्रैफिक नियमों का पालन करें। एसयूवी को जब्त कर लिया गया है। उजले रंग की एसयूवी को डायरेक्टर के दफ्तर के बाहर पार्क किया गया था। फॉरेस्ट ऑफेंस का मामला भी दर्ज किया गया है।

आरे में मेट्रो कार शेड प्रोजेक्ट को उद्धव ठाकरे की सरकार ने रोक दिया है। शिवसेना के नेतृत्व वाली सरकार ने पर्यावरण एक्टिविस्ट्स की माँगों पर मुहर लगाते हुए कहा है कि आरे में अब एक भी पेड़ नहीं काटा जाएगा। इधर उद्धव सरकार पर्यावरण बचाने का दावा कर रही है, उधर शिवसेना नेता की कार ने हिरण को कुचल डाला। संजय गाँधी नेशनल पार्क में शिवसेना सांसद राजेंद्र गावित की एसयूवी गाड़ी से कुचल कर एक स्पॉटेड हिरन की मौत हो गई।

जंगल के मुख्य कंजर्वेटर और पार्क के डायरेक्टर अनवर अहमद ने बताया कि एक व्यक्ति के ख़िलाफ़ अंधाधुंध गाडी चलाने का मामला दर्ज किया गया है। जाँच अभी भी जारी है। ये घटना बुधवार (नवंबर 30, 2019) को हुई। राजेंद्र गावित की गाड़ी त्रिमूर्ति स्टेशन के पास से गुजर रही थी। तभी एक स्पॉटेड डियर वहाँ से सड़क पार कर रहा था। शिवसेना सांसद की गाड़ी ने हिरण को कुचल डाला, जिसके बाद उसकी मौत हो गई। ये घटना शाम के 6-6.30 बजे हुई। हिरण को नेशनल पार्क में स्थित वेटेरनरी अस्पताल ले जाया गया, जहाँ उसे मृत घोषित कर दिया गया।

पार्क के डायरेक्टर अनवर ने अपील की है कि गाड़ी चलाने वाले उद्यान के भीतर ट्रैफिक नियमों का पालन करें। एसयूवी को जब्त कर लिया गया है। उजले रंग की एसयूवी को डायरेक्टर के दफ्तर के बाहर पार्क किया गया था। फॉरेस्ट ऑफेंस का मामला भी दर्ज किया गया है।

आरे जंगलों पर पर्यावरण संरक्षण का दावा कर रहे शिवसेना ने अभी तक अपने सांसद की गाड़ी से कुचल कर मारे गए हिरण को लेकर अभी तक कोई बयान नहीं दिया है। राजेंद्र गावित की जिस गाड़ी से ये घटना हुई, उसका नंबर है- MH 48 BH 9909। रविवार तक इस गाड़ी को जब्त कर के नेशनल पार्क के डायरेक्टर के दफ्तर के बाहर रखा गया था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अगर बायोलॉजिकल पुरुषों को महिला खेलों में खेलने पर कुछ कहा तो ब्लॉक कर देंगे: BBC ने लोगों को दी खुलेआम धमकी

बीबीसी के आर्टिकल के बाद लोग सवाल उठाने लगे हैं कि जब लॉरेल पैदा आदमी के तौर पर हुए और बाद में महिला बने, तो यह बराबरी का मुकाबला कैसे हुआ।

दिल्ली में कमाल: फ्लाईओवर बनने से पहले ही बन गई थी उसपर मजार? विरोध कर रहे लोगों के साथ बदसलूकी, देखें वीडियो

दिल्ली के इस फ्लाईओवर का संचालन 2009 में शुरू हुआ था। लेकिन मजार की देखरेख करने वाला सिकंदर कहता है कि मजार वहाँ 1982 में बनी थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
113,029FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe