Monday, June 24, 2024
Homeराजनीति'TMC को लूट कर खा रहीं मिमी और नुसरत जहां': ममता के मंत्री ने...

‘TMC को लूट कर खा रहीं मिमी और नुसरत जहां’: ममता के मंत्री ने अपने ही पार्टी के नेताओं पर मढ़ा इल्जाम, बोले- ‘इनकी वजह से लोग हमें चोर समझते हैं’

तृणमूल कॉन्ग्रेस के नेता श्रीकांत महाता का वीडियो सामने आया है। इसमें वह कह रहे हैं कि पार्टी के शीर्ष नेता इमानदार कार्यकर्ताओं को दरकिनार कर रहे हैं और ऐसे लोगों को करीबी बना रहे हैं जो पार्टी की छवि बिगड़वा रहे हैं।

पश्चिम बंगाल की ममता सरकार में उपभोक्ता मामलों के राज्य मंत्री व तृणमूल कॉन्ग्रेस के नेता श्रीकांत महाता का वीडियो सामने आया है। इसमें वह अपने अपनी ही पार्टी की सांसद मिमी चक्रवर्ती और नुसरत जहां समेत कुछ अन्य नेताओं पर पार्टी को लूटने का आरोप लगा रहे हैं। उनकी शिकायत कि पार्टी के शीर्ष नेता इमानदार कार्यकर्ताओं को दरकिनार कर रहे हैं और ऐसे लोगों को करीबी बना रहे हैं जो पार्टी की छवि बिगड़वा रहे हैं।

वायरल वीडियो सालबोनी के विधायक पश्चिम मेदिनीपुर में कहते हैं,

“हमें अपनी नागरिकता को बचाने के लिए उसी अनुसार योजना बनानी होगी। जरूरत पड़ने पर हमें बीडीओ, पुलिस और अन्य अधिकारियों को प्रतिनियुक्ति देनी चाहिए, उनसे पूछना होगा कि हमारे पास नागरिकता है या नहीं। हमारी नागरिकता बचाने के लिए बुद्धिजीवी समाज और किसान संघर्ष कर रहे हैं। और अगर जरूरत पड़ी तो हम ममता बनर्जी के पास जाएँगे।”

उन्होंने आगे कहा,

“इससे पहले हम अभिषेक बनर्जी, सुब्रत बख्शी को भी समझाना चाहते थे लेकिन वह समझना नहीं चाहते। वे जिन लोगों को अच्छे साथी के रूप में समझ रहे हैं। फिर हम कैसे बचेंगे। उन्हें कहना चाहिए कि बुरे लोग बुरे होते हैं। महादेव से लेकर संध्या रॉय, सयानी, सयंतिता, मिमी, नुसरत, नेपाल सिंह, संजीव सिंह तक पार्टी के अजीज बन गए हैं, फिर हम इस पार्टी का हिस्सा नहीं हो सकते।”

उन्होंने कहा,

“अगर ये नेता पैसे लूटकर पार्टी के अजीज बन रहे हैं तो हम मंत्री नहीं बनना चाहते। लोग कह रहे हैं कि इस कैबिनेट के सभी मंत्री चोर हैं। पार्टी उन चोरों की सुनेगी। हमें नया रास्ता ढूँढना होगा। हमें इसके खिलाफ जनआंदोलन छेड़ना होगा।”

उल्लेखनीय है कि बंगाल में एसएससी घोटाले में पार्थ चटर्जी और अनुब्रत मंडल की गिरफ्तारी के बाद टीएमसी नेता महाता की यह टिप्पणी अन्य पार्टी नेताओं के ऊपर आई है। उन्होंने सब पर पार्टी को लूटने का इल्जाम लगाया है। इससे पहले पार्टी के नेताओं के खिलाफ राज्य में कई जगह प्रदर्शन देखे गए थे। लोगों ने चोर-चोर के नारे भी लगाए थे।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

चर्च में फायरिंग, यहूदियों के धर्मस्थल को जलाया, पादरी का काटा गला: आतंकी हमले में रूस के 15 पुलिसकर्मियों की मौत, 6 आतंकवादी भी...

रूस में हुए आतंकी हमले में 15 से ज्यादा पुलिसकर्मियों की मौत हो गई, पादरी का सिर कलम कर दिया गया और 25 से ज्यादा घायल बताए जा रहे हैं।

किसानों के आंदोलन से तंग आ गए स्थानीय लोग: शंभू बॉर्डर खुलवाने पहुँची भीड़, अब गीदड़-भभकी दे रहे प्रदर्शनकारी

किसान नेताओं ने अंबाला शहर अनाज मंडी में मीडिया बुलाई, जिसमें साफ शब्दों में कहा कि आंदोलन खराब नहीं होना चाहिए। आंदोलन खराब करने वाला खुद भुगतेगा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -