Sunday, July 14, 2024
Homeराजनीति'मंदिर मानसिक गुलामी का मार्ग, घंटी बजाने वाले पाखंडी': लालू-राबड़ी के आवास पर लगे...

‘मंदिर मानसिक गुलामी का मार्ग, घंटी बजाने वाले पाखंडी’: लालू-राबड़ी के आवास पर लगे पोस्टर में RJD ने दिखाई राम मंदिर से घृणा

इंडी गठबंधन की बिहार में प्रमुख साझेदार पार्टी आरजेडी का सनातन पर हमला लगातार जारी है। अब लालू प्रसाद यादव और राबड़ी देवी के घर के बाहर विवादित पोस्टर लगा मिला है। इसमें मंदिर को गुलामी का मार्ग बताया गया है। ये पोस्टर राजद समर्थकों ने लगाए हैं।

इंडी गठबंधन की बिहार में प्रमुख साझेदार पार्टी आरजेडी का सनातन पर हमला लगातार जारी है। अब लालू प्रसाद यादव और राबड़ी देवी के घर के बाहर विवादित पोस्टर लगा मिला है। इसमें मंदिर को गुलामी का मार्ग बताया गया है। ये पोस्टर राजद समर्थकों ने लगाए हैं।

पोस्टर को 7 जनवरी 2024 को सावित्री बाई फुले की जयंती के अवसर पर होने वाले कार्यक्रम के लिए लगाया गया है। इसमें लिखा है, “मंदिर का मतलब मानसिक गुलामी का मार्ग और स्कूल का मतलब होता है जीवन में प्रकाश का मार्ग। जब मंदिर की घंटी बजती है तो हमें संदेश देती है कि हम अंधविश्वास, पाखंड, मूर्खता और अज्ञानता की तरफ बढ़ रहे हैं और जब स्कूल की घंटी बजती है तो यह संदेश मिलता है कि हम तर्कपूर्ण ज्ञान और वैज्ञानिकता व प्रकाश की ओर बढ़ रहे हैं। अब तय करना है कि आपको किस ओर जाना चाहिए?”

इस पोस्टर में मंदिर और शिक्षा की तुलना की गई है। इस पोस्टर में एक तरफ लालू यादव और राबड़ी देवी की तस्वीर है तो दूसरी तरफ उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव की तस्वीर है। पोस्टर में ऊपर तरफ महात्मा बुद्ध, सम्राट अशोक, सावित्री बाई फुले तथा अन्य महापुरुषों की तस्वीर भी है। इस कार्यक्रम का आयोजन डेहरी पड़ाव मैदान, (डेहरी ऑन सोन) रोहतास में 7 जनवरी 2024 को दिन में 11 बजे से होना है। इसके उद्घाटनकर्ता विवादित बयानों के जरिए चर्चा में रहने वाले डॉ(प्रो) चंद्रशेखर होंगे। इसके मुख्य अतिथि मंत्री आलोक मेहता होंगे।

इस पोस्टर पर सनातन और हिंदू विरोधी बयान देने वाले आरडेजी विधायक फतेह बहादुर सिंह की भी तस्वीर लगी है। फतेह बहादुर सिंह ने कुछ दिन पहले सरस्वती को लेकर घटिया टिप्पणियाँ की थी। यही नहीं, वो माँ दुर्गा को लेकर भी आपत्तिजनक बयान दे चुका है।

कुशवाहा समाज से ताल्लुक रखने वाले और बिहार के रोहतास जिले के डेहरी से सत्ताधारी RJD के विधायक फतेह ने कहा था, “आप ही के ग्रंथ में लिखा हुआ कि सुरसती (सरस्वती) जो है, ब्रह्मा की बेटी है और ब्रह्मा जी का अपनी ही पुत्री पर नियत खराब हुआ और उन्होंने (ब्रह्मा) उनके साथ शादी कर लिया। आप खुद समझिए… पूजा किसका होता है, चरित्रवान का या चरित्रहीन का?”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

10 साल का इस्कॉन, 30 साल का युवक और न्यूयॉर्क में पहली रथयात्रा… जब महाप्रभु जगन्नाथ का प्रसाद ग्रहण कर डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा...

कंपनी ने तब कहा कि ये जमीन बिकने वाली है और करार के तहत अब इसके नए मालिकों के ऊपर है कि वो ये जमीन देते हैं या नहीं। नए मालिक डोनाल्ड ट्रम्प ही थे।

ट्रेनी IAS पूजा खेडकर की ऑडी सीज, ऊटपटांग माँगों के बचाव में रिटायर्ड IAS बाप: रिवॉल्वर लहराने पर FIR के बाद लाइसेंस रद्द करने...

ट्रेनिंग के दौरान ही VIP सुविधाओं के लिए नखरा करने वाली IAS पूजा खेडकर की करस्तानियों का उनके पिता दिलीप खेडकर ने बचाव किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -