Friday, May 31, 2024
Homeराजनीतिभाजपा में शामिल होंगे TMC विधायक सब्यसाची दत्ता, अमित शाह रहेंगे मौजूद

भाजपा में शामिल होंगे TMC विधायक सब्यसाची दत्ता, अमित शाह रहेंगे मौजूद

मुकुल रॉय फरवरी में सब्यसाची दत्ता के घर गए थे। इसके बाद से ही उनके बीजेपी में शामिल होने की अटकलें लगाई जा रही थी। उनका पार्टी नेताओं से अरसे से मतभेद भी चल रहा था।

पश्चिम बंगाल में सत्ताधारी तृणमूल कॉन्ग्रेस (टीएमसी) के एक और विधायक भाजपा में शामिल होने जा रहे हैं। बिधाननगर के मेयर रह चुके विधायक सब्यसाची दत्ता मंगलवार (अक्टूबर 1, 2019) को भाजपा की सदस्यता लेंगे। इस मौके पर केंद्रीय गृह मंत्री और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह भी मौजूद रहेंगे।

एएनआई ने सब्यसाची के हवाले से यह जानकारी दी है। उन्होंने बताया कि सदस्यता ग्रहण समारोह नेताजी इंडोर स्टेडियम में होगा। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष और राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य मुकुल रॉय समेत कई शीर्ष नेता मौजूद रहेंगे।

बताया जा रहा है कि सब्यसाची के साथ ही उनके हजारों समर्थक भी भाजपा में शामिल होंगे। फरवरी में सब्यसाची दत्ता के घर मुकुल रॉय के जाने के बाद से ही उनके बीजेपी में शामिल होने की अटकलें लगाई जा रही थी। अब टीएमसी नेता ने खुद इस बात की पुष्टि कर दी है।

सब्यसाची का काफी समय से पार्टी नेताओं से मतभेद भी चल रहा था। उन्होंने भी पार्टी के शीर्ष नेताओं के खिलाफ मोर्चा खोल रखा था। उन्हें मेयर के पद से हटाने के लिए टीएमसी के सदस्य ही अविश्वास प्रस्ताव लेकर आए थे।

प्रदेश भाजपा के महासचिव संजय सिंह ने बताया कि अमित शाह 1 अक्टूबर को दोपहर कोलकाता पहुँचेंगे। वे नेताजी इंडोर स्टेडियम में सभा को संबोधित करेंगे।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

200+ रैली और रोडशो, 80 इंटरव्यू… 74 की उम्र में भी देश भर में अंत तक पिच पर टिके रहे PM नरेंद्र मोदी, आधे...

चुनाव प्रचार अभियान की अगुवाई की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने। पूरे चुनाव में वो देश भर की यात्रा करते रहे, जनसभाओं को संबोधित करते रहे।

जहाँ माता कन्याकुमारी के ‘श्रीपाद’, 3 सागरों का होता है मिलन… वहाँ भारत माता के 2 ‘नरेंद्र’ का राष्ट्रीय चिंतन, विकसित भारत की हुंकार

स्वामी विवेकानंद का संन्यासी जीवन से पूर्व का नाम भी नरेंद्र था और भारत के प्रधानमंत्री भी नरेंद्र हैं। जगह भी वही है, शिला भी वही है और चिंतन का विषय भी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -