Thursday, May 23, 2024
Homeराजनीति'सपा रामभक्तों पर गोली और आतंकियों पर से मुकदमे वापस लेती थी': CM योगी...

‘सपा रामभक्तों पर गोली और आतंकियों पर से मुकदमे वापस लेती थी’: CM योगी ने कहा- अब यहाँ दंगाई के साथ कोरोना भी शांत हो जाता है

अखिलेश पर निशाना साधते हुए मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि इन्होंने सिर्फ अपने परिवार का विकास किया। उन्होंने कहा कि परिवार की परिभाषा अखिलेश नहीं समझते, उनके लिए 25 करोड़ की जनता उनका परिवार है।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार (5 दिसंबर) को चंदौली में कहा कि प्रदेश में अब दंगाई और उपद्रवी ही नहीं, कोरोना भी शांत भी हो जाता है। समाजवादी पार्टी (सपा) के प्रमुख और प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि ये रामभक्तों पर गोलियाँ चलवा सकते हैं और आज भाजपा पौराणिक स्थलों का निर्माण करा रही है। आज प्रदेश में माफिया और अपराधियों की इतनी जुर्रत नहीं कि वे व्यापारियों या बेटियों पर आँख उठाकर भी देख सकें।

मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने कहा कि सत्ता में रहने हुए समाजवादी पार्टी की सरकार ने राम भक्तों पर गोलियाँ चलवाईं, लेकिन राम जन्मभूमि पर हमला करने वाले आतंकवादियों की पैरवी करते हुए उनके खिलाफ दायर मुकदमों को वापस लिया था। यही थी प्रदेश की सपा सरकार। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में विकास बहुत पहले हो जाना चाहिए था, बुआ-बबुआ (अखिलेश यादव और मायावती) की जोड़ी क्या कर रही थी। इन्होंने केवल अपना विकास किया।

सीएम योगी ने कहा कि प्रदेश में सपा की चार बार सरकार रही, लेकिन प्रदेश का विकास करने के बजाय सरकार भ्रष्टाचार में डूबी रही। आज प्रदेश में अगर कोई माफिया किसी व्यापारी को सताने की कोशिश करता है तो बुलडोजर चलवा दिया जाता है। उन्होंने कहा कि अगर कोई किसी माँ-बेटी की तरफ आँख उठाकर भी देखने की कोशिश की तो उसकी छाती पर बुलडोजर चलवा दिया जाएगा।

अखिलेश पर निशाना साधते हुए मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि इन्होंने सिर्फ अपने परिवार का विकास किया। उन्होंने कहा कि परिवार की परिभाषा अखिलेश नहीं समझते, उनके लिए 25 करोड़ की जनता उनका परिवार है। उन्होंने कहा, जिनके लिए अपना परिवार ही पूरा प्रदेश था, वे लोग सिर्फ परिवार का विकास करते थे। हमारे लिए प्रदेश की 25 करोड़ जनता ही परिवार है। परिवार की इस परिभाषा को अगर अखिलेश यादव समझे होते तो परिवार ना होने का मेरे ऊपर आक्षेप ना करते।”

दरअसल, बांदा में बुधवार (1 दिसंबर) को अखिलेश यादव ने कहा था, ”हम सबने देखा जब लॉकडाउन लगाया गया तब कैसे प्रवासी मजदूर घर के लिए पैदल निकले। कई लोगों की मौत तक हो गई, लेकिन भाजपा सरकार ने उनके लिए कुछ नहीं किया। यह दर्द वही समझ सकता है, जिसका परिवार हो। जिसका परिवार ही नहीं, वह परिवार वालों की परवाह क्यों करेगा?”

इस दौरान सीएम योगी ने चंदौली जिले के सकलडीहा विधानसभा क्षेत्र में 30 करोड़ रुपये की परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया। इसमें रामगढ़ स्थित बाबा कीनाराम आश्रम के जीर्णोद्धार और सुंदरीकरण भी शामिल है। दो महीने पहले बाबा कीनाराम के नाम से स्थापित मेडिकल कॉलेज का शिलान्यास किया था। अब इसका सुंदरीकरण की योजना का शुभारंभ किया गया।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘प्यार से माँगते तो जान दे देती, अब किसी कीमत पर नहीं दूँगी इस्तीफा’: स्वाति मालीवाल ने राज्यसभा सीट छोड़ने से किया इनकार

आम आदमी पार्टी की राज्यसभा सांसद स्वाति मालीवाल ने अब किसी भी हाल में राज्यसभा से इस्तीफा देने से इनकार कर दिया है।

‘टेबल पर लगा सिर, पैर पकड़कर नीचे घसीटा’: विभव कुमार ने CM केजरीवाल के घर में कैसे पीटा, स्वाति मालीवाल ने अब कैमरे पर...

स्वाति मालीवाल ने बताया कि जब उन्होंने विभव कुमार को धक्का देने की कोशिश की तो उन्होंने उनका पैर पकड़ लिया और नीचे घसीट दिया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -