Monday, May 20, 2024
Homeराजनीति'सत्ता में आते ही दंगाइयों को फिर बिल में घुसाएँगे': CM योगी ने कहा-...

‘सत्ता में आते ही दंगाइयों को फिर बिल में घुसाएँगे’: CM योगी ने कहा- कैराना-मुजफ्फरनगर के अपराधियों को प्रत्याशी बना रहे हैं अखिलेश

सीएम योगी ने कहा कि अखिलेश 'अन्न संकल्प' का नाटक कर रहे हैं। उनकी सूची इस बात को साबित करती है कि वे सामाजिक न्याय, गरीबों, दलितों, पिछड़ों, व्यापारियों और सम्मानित नागरिकों की संपत्ति पर कब्जा करने वाले पेशेवर अपराधियों को प्रश्रय देकर उन्हें आगे बढ़ाने की अपनी प्रवृत्ति से अभी भी पीछे नहीं हटे हैं।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Uttar Pradesh Chief Minister Yogi Adityanath) ने सोमवार (17 जनवरी 2022) को कहा कि भाजपा की दोबारा सरकार बनती है तो गुंडे और अपराधियों पर वैसे ही कार्रवाई होगी, जैसे पहले इन्हें बिल में घुसाया था। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव (Samajwadi Party President Akhilesh Yadav) पर कटाक्ष करते हुए कहा कि अपराधियों के साथी हाथ में अन्न लेकर संकल्प करने का नाटक कर रहे हैं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट कर कहा, “मैं प्रदेशवासियों को आश्वस्त करता हूँ कि जनता-जनार्दन के आशीर्वाद से जब 10 मार्च को भारतीय जनता पार्टी पुनः प्रचंड बहुमत के साथ सरकार बनाएगी तो वह फिर से पेशेवर गुंडों व अपराधियों पर वैसे ही टूटेगी, जैसे पहले इन्हें बिल के अंदर घुसाया था।”

अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए मुख्यमंत्री योगी ने उन्हें ‘जिन्नाप्रेमी’ बताते हुए दंगाईयों और आतंकवादियों का साथी कहा। उन्होंने कहा कि ये लोग आज हाथ में अन्न लेकर किसानों का हितैषी होने का स्वांग कर रहे हैं। आपको बताते चलें कि अखिलेश यादव ने प्रदेश में भाजपा को हराने के लिए ‘अन्न संकल्प’ लिया है।

उन्होंने कहा, “पाँच वर्ष के दौरान हमारी सरकार ने पेशेवर अपराधियों और गुंडों के मन में भय पैदा किया था, जनता को भयमुक्त वातावरण दिया था। आज समाजवादी पार्टी का चेहरा एक बार फिर से सबके सामने आ गया है। कैराना से लेकर बुलंदशहर तक जो चेहरे समाजवादी पार्टी के सामने आए हैं, उनमें कैराना में हिंदू व्यापारियों के पलायन के लिए जिम्मेदार अपराधियों को, मुजफ्फरनगर के जिम्मेदार अपराधियों को और पेशेवर हिस्ट्रीशीटर को अपना कैंडिडेट बनाकर समाजवादी पार्टी ने अपने वास्तविक चरित्र को देश-प्रदेश के सामने प्रस्तुत कर दिया है कि प्रदेश के बारे में उनकी मंशा क्या है।”

उन्होंने आगे कहा, “उनकी सूची ने इस बात को साबित कर दिया है कि उनका सामाजिक न्याय, गरीबों, दलितों, पिछड़ों, व्यापारियों और सम्मानित नागरिकों की संपत्ति पर कब्जा करने वाले पेशेवर अपराधियों को प्रश्रय देकर उन्हें आगे बढ़ाने की अपनी प्रवृत्ति से आज भी पीछे हटे नहीं हैं।”

बता दें कि साल 2017 में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश में भाजपा की सरकार बनते ही अपराधियों पर कार्रवाई शुरू हो गई थी। अकेले साल 2021 में विभिन्न मुठभेड़ों में 26 कुख्यात ढेर कर दिए गए। इसी अवधि में 3910 पुलिसकर्मियों को गिरफ्तार किया गया। इतना ही नहीं, गैंगस्टर एक्ट के तहत भी 9933 अपराधियों को सलाखों के पीछे भेजा गया। 1012 करोड़ रुपए की संपत्ति को कबत किया गया। पूरे साढ़े 4 वर्षों की बात करें तो भाजपा सरकार में अब तक अपराधियों के 1,900 करोड़ रुपए के साम्राज्य को ध्वस्त किया गया।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

भारत में 1300 आइलैंड्स, नए सिंगापुर बनाने की तरफ बढ़ रहा देश… NDTV से इंटरव्यू में बोले PM मोदी – जमीन से जुड़ कर...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आँकड़े गिनाते हुए जिक्र किया कि 2014 के पहले कुछ सौ स्टार्टअप्स थे, आज सवा लाख स्टार्टअप्स हैं, 100 यूनिकॉर्न्स हैं। उन्होंने PLFS के डेटा का जिक्र करते हुए कहा कि बेरोजगारी आधी हो गई है, 6-7 साल में 6 करोड़ नई नौकरियाँ सृजित हुई हैं।

कॉन्ग्रेस कार्यकर्ताओं ने अपने ही अध्यक्ष के चेहरे पर पोती स्याही, लिख दिया ‘TMC का एजेंट’: अधीर रंजन चौधरी को फटकार लगाने के बाद...

पश्चिम बंगाल में कॉन्ग्रेस का गठबंधन ममता बनर्जी के धुर विरोधी वामदलों से है। केरल में कॉन्ग्रेस पार्टी इन्हीं वामदलों के साथ लड़ रही है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -