Tuesday, September 21, 2021
Homeराजनीतिमहाराष्ट्र की 288, हरियाणा की 90 सीटों के लिए डाले जा रहे वोट: 18...

महाराष्ट्र की 288, हरियाणा की 90 सीटों के लिए डाले जा रहे वोट: 18 राज्यों में 53 सीटों पर उपचुनाव भी

महाराष्ट्र में भाजपा मुख्यमंत्री फड़णवीस के नेतृत्व में दूसरे कार्यकाल के लिए प्रयासरत है, जबकि हरियाणा में भाजपा मनोहर लाल खट्टर के नेतृत्व मेंं दोबारा चुनाव जीतने की कोशिश में है। वोटों की गिनती 24 अक्टूबर को होगी।

महाराष्ट्र और हरियाणा में विधानसभा चुनावों के मद्देनजर आज यानी सोमवार (अक्टूबर 21, 2019) को वोट डाले जा रहे हैं। इसके अलावा देश के 18 राज्यों की 51 विधानसभा सीटों और 2 लोकसभा सीटों के लिए उपचुनाव भी हो रहे हैं। महाराष्ट्र विधानसभा में 288 और हरियाणा विधानसभा में 90 सीटे हैं।

दोनों ही राज्यों में भाजपा की दोबारा सत्ता में वापसी के आसार दिखाई दे रहे हैं। वोटों की गिनती 24 अक्टूबर को होगी। महाराष्ट्र में भाजपा मुख्यमंत्री फड़णवीस के नेतृत्व में दूसरे कार्यकाल के लिए प्रयासरत है, जबकि हरियाणा में भाजपा मनोहर लाल खट्टर के नेतृत्व मेंं दोबारा चुनाव जीतने की कोशिश में है।

हरियाणा विधानसभा की 90 सीटों के लिए 1169 उम्मीदवार मैदान में हैं। की राजनीतिक किस्मत का फैसला होगा। महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में इस बार कुल 3239 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं। इनमें 150 महिला हैं।

महाराष्ट्र में पहली बार वोटर वेरीफिएबल पेपर ऑडिट ट्रेल(वीवीपैट) मशीन का भी उपयोग किया जा रहा है। मुकाबला बीजेपी -शिवसेना-रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (आठवले) के महागठबंधन और कांग्रेस-राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के गठबंधन के बीच है। हरियाणा में भाजपा का मुकाबला कॉन्ग्रेस, इनेलो और उससे टूट कर बनी जेजेपी से है।

अप्रैल-मई में हुए लोकसभा चुनाव में भाजपा-शिवसेना गठबंधन ने महाराष्ट्र की 48 लोकसभा सीटों में से 41 सीटें जीती थीं, जबकि कॉन्ग्रेस ने एक और राकांपा ने चार सीटों पर जीत दर्ज की थी। उद्धव ठाकरे के पुत्र एवं युवा सेना प्रमुख आदित्य ठाकरे मुंबई के वर्ली से चुनाव लड़ रहे हैं। ठाकरे परिवार से चुनावी राजनीति में कदम रखने वाले 29 वर्षीय आदित्य पहले व्यक्ति हैं।

हरियाणा में 2014 के विधानसभा चुनाव में भाजपा 47 सीटें जीतकर पहली बार सत्ता में आयी थी। भाजपा ने इसी साल हुए जींद उपचुनाव में भी जीत हासिल की थी। लिया था जिससे उसकी सीटों की संख्या बढ़कर 48 हो गई थी। इनेलो के 19 विधायक हैं जबकि कॉन्ग्रेस के 17 विधायक हैं। पिछले विधानासभा चुनाव में बसपा और शिअद ने एक एक सीटें जबकि पांच सीटें निर्दलीयों ने जीती थीं। 17 राज्यों की 51 विधानसभा सीटों पर भी उपचुनाव होगा।

इसके अलावा 17 राज्यों की 51 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव के लिए भी वोट डाले जा रहे हैं। इनमें से करीब 30 सीटें भाजपा और उसके सहयोगी दलों के पास थीं। भाजपा शासित उत्तर प्रदेश की 11, गुजरात की छह, बिहार की पॉंच, असम की चार और हिमाचल प्रदेश तथा तमिलनाडु की दो-दो विधानसभा सीटों पर उपचुनाव हो रहा है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जिस राजस्थान में सबसे ज्यादा रेप, वहाँ की पुलिस भेज रही गंदे मैसेज-चौकी में भी हो रही दरिंदगी: कॉन्ग्रेस है तो चुप्पी है

NCRB 2020 की रिपोर्ट के मुताबिक राजस्थान में जहाँ 5,310 केस दुष्कर्म के आए तो वहीं उत्तर प्रेदश में ये आँकड़ा 2,769 का है।

आज पाकिस्तान के लिए बैटिंग, कभी क्रिकेट कैंप में मौलवी से नमाज: वसीम जाफर पर ‘हनुमान की जय’ हटाने का भी आरोप

पाकिस्तान के साथ सहानुभूति रखने के कारण नेटिजन्स के निशाने पर आए वसीम जाफर पर मुस्लिम क्रिकेटरों को तरजीह देने के भी आरोप लग चुके हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,586FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe