Tuesday, August 3, 2021
Homeराजनीतिआंध्र प्रदेश में 6 हिंदू मंदिरों पर हुए हमले, क्या यह सब जगन रेड्डी...

आंध्र प्रदेश में 6 हिंदू मंदिरों पर हुए हमले, क्या यह सब जगन रेड्डी सरकार की मर्जी से हो रहा: TDP नेता ने लगाए कई गंभीर आरोप

"इस साल फरवरी महीने के बाद से आंध्र प्रदेश में हिंदू मंदिरों पर 6 हमले हुए हैं। अभी तक कोई गिरफ्तारी नहीं की गई है। अपराधी अब डर नहीं रहे हैं। क्या यह सब राज्य सरकार की मर्जी से हो रहा है? क्या YSR पार्टी इस प्रकार की हिंसा का लाभ उठा रही है? हाँ, वह लाभ उठा रही है।"

तेलुगु देशम पार्टी के नेता जयदेव गल्ला ने राज्य में हिंदू मंदिरों पर हालिया हमलों के लिए आंध्र प्रदेश में सत्तारूढ़ युवजन श्रमिक रायथू (YSR) कॉन्ग्रेस पार्टी को दोषी ठहराया है। गल्ला ने दोषियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं करने के लिए राज्य सरकार पर सवाल उठाते हुए कहा कि वाईएसआर पार्टी ऐसे हमलों से लाभान्वित हो रही है।

TDP नेता जयदेव गल्ला ने कहा, “इस साल फरवरी महीने के बाद से आंध्र प्रदेश में हिंदू मंदिरों पर 6 हमले हुए हैं। अभी तक कोई गिरफ्तारी नहीं की गई है। अपराधी अब डर नहीं रहे हैं। क्या यह सब राज्य सरकार की मर्जी से हो रहा है? क्या YSR पार्टी इस प्रकार की हिंसा का लाभ उठा रही है? हाँ, वह लाभ उठा रही है।”

राज्य में हाल ही में हिंदू मंदिरों पर हमले की घटनाएँ बढ़ रही हैं। अभी कुछ दिन पहले कृष्णा जिले के वत्सवई मंडल में मककपेटा गाँव में ऐतिहासिक काशी विश्वेश्वर स्वामी मंदिर के अंदर नंदी की मूर्ति को कुछ बदमाशों ने खंडित कर दिया था।

आए दिन हो रहे हमलों को रोकने में नाकामयाब वाईएसआर सरकार पर विपक्ष ने हमला किया था। पूर्व सीएम चंद्रबाबू नायडू ने मंदिरों पर हमलों की निंदा नहीं करने के लिए सीएम वाईएस जगन मोहन रेड्डी की आलोचना की थी। वहीं विपक्षी नेताओं द्वारा मंदिरों पर हमले की अनुमति देने के आरोपों से घिरे सीएम रेड्डी ने आज तिरुमाला चित्तूर में बालाजी मंदिर का दौरा किया।

पवन कल्याण और बीजेपी कार्यकताओं द्वारा भूख हड़ताल

इस महीने की शुरुआत में, आंध्र प्रदेश के पूर्वी गोदावरी जिले के अंटारवेडी में प्रसिद्ध श्री लक्ष्मी नरसिम्हा स्वामी मंदिर के परिसर में 62 साल पुराने प्राचीन रथ को आग लगा कर नष्ट कर दिया गया था। जिस पर सख्त कार्रवाई की माँग को लेकर टॉलीवुड अभिनेता और जन सेना प्रमुख पवन कल्याण कई भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं के साथ भूख हड़ताल पर बैठ गए थे।

कल्याण ने आरोप लगाया था कि राज्य में रेड्डी शासन के तहत हिंदू मंदिरों पर हमले बढ़ गए है। उन्होंने कहा कि सरकार ने समय पर कार्रवाई की होती तो ऐसे हमलों से बचा जा सकता था। राज्य सरकार ने बाद में इस मामले में सीबीआई जाँच के आदेश दिए थे।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अमित शाह ने बना दी असम-मिजोरम के बीच की बिगड़ी बात, अब विवाद के स्थायी समाधान की दरकार

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के प्रयासों के पश्चात दोनों राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने जिस तरह की सतर्कता और संयम दिखाया है उसका स्वागत होना चाहिए।

वे POK क्रिकेट लीग के चीयरलीडर्स, इधर कश्मीर पर भी बजाते हैं ‘अमन’ का झुनझुना: Pak वालों से ही सीख लो सेलेब्रिटियों

शाहिद अफरीदी, राहत फ़तेह अली खान और शोएब अख्तर कभी इस्लाम और पाकिस्तान के खिलाफ नहीं जा सकते, गलत या सही। भारतीय सेलेब्स इनसे क्या सीखे, जानिए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,775FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe