Sunday, May 22, 2022
Homeदेश-समाज400 साहित्यकार नरेंद्र मोदी के समर्थन में, कहा अपना बहुमूल्य वोट भाजपा को दें

400 साहित्यकार नरेंद्र मोदी के समर्थन में, कहा अपना बहुमूल्य वोट भाजपा को दें

इस अपील में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दुनिया में देश की प्रतिष्ठा बढ़ाने वाला, राष्ट्रीय सुरक्षा के प्रति प्रतिबद्ध और अंतिम जन तक विकास की नई धारा प्रवाहित करने वाला नेता बताया गया है।

लोकसभा चुनावों के मद्देनज़र बीते दिनों 200 से अधिक लेखकों ने मोदी सरकार के ख़िलाफ़ वोट करने की अपील जनता से की थी। अब इसके उलट करीब 400 से अधिक साहित्यकारों ने आगे आकर देशवासियों से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के समर्थन में वोट करने की गुहार लगाई है।

नवभारत टाइम्स में प्रकाशित खबर के अनुसार भारतीय साहित्यकार संगठन ने जनता से की अपील में कहा है कि मतदाता अपना वोट को देश की अखंडता, सुरक्षा, स्वाभिमान और विकास को बनाए रखने के लिए दें।

साहित्यकारों का कहना है, “भारतीय लोकतंत्र में संविधान का महत्व सर्वोपरि है। अतः हम साहित्यकार देशवासियों से अपील करते हैं कि आप अपना बहुमूल्य वोट देश की अखंडता, सुरक्षा, स्वाभिमान, संप्रभुता, सांप्रदायिक सद्भाव, सर्वांगीण विकास आदि को बनाए रखने के लिए दें।”

गौरतलब है इससे पहले इंडियन राइटर्स फोरम की ओर से करीब 200 लेखक घृणा की राजनीति के नाम पर जनता से मोदी सरकार को वोट न देने की अपील कर चुके हैं। इस अपील को अंग्रेजी, हिंदी, मराठी, गुजराती, उर्दू, बंग्ला, मलयालम, तमिल, कन्नड़, और तेलगु भाषाओं में निकाला गया था।

इस अपील में कहा गया था कि ‘हेट पॉलिटिक्स’ को वोट आउट कर दिया जाए और राष्ट्रीय एकता के लिए वोट किया जाए। हालाँकि इसमें ये कहीं भी स्पष्ट नहीं किया गया कि ‘राष्ट्रीय एकता’ को वोट करने से उनका अभिप्राय किस पार्टी को वोट देने से है लेकिन हेट पॉलिटिक्स पर इस अपील में खुलकर बात हुई थी।

वहीं हाल ही में 400 साहित्यकारों की ओर से की गई अपील में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दुनिया में देश की प्रतिष्ठा बढ़ाने वाला, राष्ट्रीय सुरक्षा के प्रति प्रतिबद्ध और अंतिम जन तक विकास की नई धारा प्रवाहित करने वाला नेता बताया गया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

ज्ञानवापी में सिर्फ शिवलिंग ही नहीं, हनुमान जी की भी मूर्ति: अमेरिका के म्यूजियम में 154 साल पुरानी तस्वीर, नंदी भी विराजमान

ज्ञानवापी विवादित ढाँचे को लेकर जारी विवाद के बीच सामने आई तस्वीर में हनुमान जी के मिलने से हिन्दू पक्ष का दावा और मजबूत हो गया है।

नौगाँव थाने में आग लगाने वाले 5 आरोपितों के घरों पर चला असम सरकार का बुलडोजर: शराबी शफीकुल की मौत पर 2000 कट्टरपंथियों ने...

असम में एक व्यक्ति की मौत के शक में थाने को जलाने के 5 आरोपितों के घरों को प्रशासन ने बुलडोजर से ढहा दिया है। तीन को गिरफ्तार भी किया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
188,078FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe