Thursday, June 13, 2024
Homeराजनीतिबंगाल में खिलता कमल: 3 MLA और 50 पार्षद दिल्ली आकर भाजपा में हुए...

बंगाल में खिलता कमल: 3 MLA और 50 पार्षद दिल्ली आकर भाजपा में हुए शामिल

लोगों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की एक रैली के दौरान दिया गया बयान याद आ रहा था जिसमें उन्होंने दावा किया था कि 40 तृणमूल विधायक पार्टी छोड़ना चाहते हैं और उनके संपर्क में हैं।

17वीं लोकसभा के नतीजों के बाद भी भाजपा ने ममता बनर्जी को झटके देना बंद नहीं किया है। ताजा खबर के अनुसार तृणमूल कॉन्ग्रेस के दो विधायक और 50 स्थानीय पार्षद भाजपा में शामिल हो गए हैं। इसके अलावा माकपा के विधायक देबेन्द्रनाथ रॉय भी भाजपा में शामिल हुए हैं। इन सभी ने बंगाल भाजपा के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय की उपस्थिति में पार्टी की प्राथमिक सदस्यता दिल्ली के अशोक रोड स्थित पार्टी मुख्यालय में ग्रहण की।

और भी आएँगे: कैलाश विजयवर्गीय

कैलाश विजयवर्गीय ने पहले ही यह घोषणा कर दी थी कि बंगाल के तीन विधायक और 50-60 पार्षद भाजपा का साथ आज थामेंगे। उन्होंने यह भी कहा था कि आगे और भी लोगों के भाजपा में शामिल होने की उम्मीद है। कैलाश विजयवर्गीय ने मुख्यालय में आयोजित प्रेस वार्ता में कहा, “जैसे सात चरणों में लोकसभा का निर्वाचन हुआ, वैसे ही (दूसरी पार्टियों के नेताओं का) भाजपा में शामिल होना भी सात चरणों में होगा। आज तो केवल पहला चरण था।”

आज ही कंचरापाड़ा से तृणमूल के 16 पार्षदों ने ऑल इंडिया तृणमूल कॉन्ग्रेस काउंसिलर पार्टी की सदस्यता छोड़ दी थी। तभी से कयासों में तेजी बढ़ गई थी। इसके अलावा लोगों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की एक रैली के दौरान दिया गया बयान याद आ रहा था जिसमें उन्होंने दावा किया था कि 40 तृणमूल विधायक पार्टी छोड़ना चाहते हैं और उनके संपर्क में हैं। उसके बाद हालिया लोकसभा के निर्वाचन में भाजपा ने तृणमूल के गढ़ में सेंध लगाते हुए 18 सीटों पर जीत दर्ज की और 2014 में 39 में से 34 सीटें जीतने वाली ममता बनर्जी की पार्टी को मात्र 22 सीटों से संतोष करना पड़ा।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नेता खाएँ मलाई इसलिए कॉन्ग्रेस के साथ AAP, पानी के लिए तरसते आम आदमी को दोनों ने दिखाया ठेंगा: दिल्ली जल संकट में हिमाचल...

दिल्ली सरकार ने कहा है कि टैंकर माफिया तो यमुना के उस पार यानी हरियाणा से ऑपरेट करते हैं, वो दिल्ली सरकार का इलाका ही नहीं है।

पापुआ न्यू गिनी में चली गई 2000 लोगों की जान, भारत ने भेजी करोड़ों की राहत (पानी, भोजन, दवा सब कुछ) सामग्री

प्राकृतिक आपदा के कारण संसाधनों की कमी से जूझ रहे पापुआ न्यू गिनी के एंगा प्रांत को भारत ने बुनियादी जरूरतों के सामान भेजे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -