Sunday, October 17, 2021
Homeरिपोर्टBSE ने कहा: 'शट अप या कुणाल!' हमारी बिल्डिंग का दुरुपयोग मत करो वर्ना...

BSE ने कहा: ‘शट अप या कुणाल!’ हमारी बिल्डिंग का दुरुपयोग मत करो वर्ना कानूनी कार्रवाई करेंगे

कुणाल कामरा एक भारतीय स्टैंड-अप कॉमेडियन हैं जो सोशल मीडिया में अपनी कॉमेडी के लिए जाने जाते हैं। वह आज भारत में देशभक्ति और सरकार पर अपने व्यंग्यात्मक टिप्पणियों के लिए चर्चा में बने रहते हैं।

कुणाल कामरा बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज के BSE भवन के चित्र के साथ छेड़खानी करते पकड़े गए हैं। कॉमेडियन कुणाल कामरा को उनके कृत्य के लिए BSE ने कड़ी फटकार लगाई है। साथ ही सोशल मीडिया कुणाल द्वारा शेयर की गई फ़र्ज़ी तस्वीरों के लिए उनकी कड़ी निंदा भी की।

BSE ने एक ऐसी इमेज का ज़िक्र किया जिसे कामरा ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट से शेयर की थी। उस इमेज में BSE की इमारत और उसके नीचे एक और चित्र था जिसमें ‘मोदी को वोट न देने’ की बात लिखी थी।

कामरा के सेंस ऑफ़ ह्यूमर से स्टॉक एक्सचेंज (Bourse) के लोग बहुत नाराज़ हुए और उन्होंने इस पर अपनी निराशा व्यक्त की। BSE ने यहाँ तक ​​ट्वीट किया कि उनके पास कामरा के ख़िलाफ़ उचित क़ानूनी कार्रवाई करने का अधिकार है। कामरा, अपने प्रचार में, एक अभियान चलाकर अपने साथियों से मोदी को वोट न देने की अपील कर रहे हैं। मोदी विरोधी प्रचार चलाने के लिए अपनी बोली में, कामरा ने शेयर बाज़ार की बिल्डिंग की तस्वीर का इस्तेमाल किया, जिससे शेयर बाज़ार में खलबली का माहौल बन सकता है।

अपनी ग़लती मानने के बजाय कि कुणाल ने हद पार कर दी। फेक इमेज का इस्तेमाल कर अपने मंतव्यों को हँसी-ठिठोली का नाम दिया। कामरा के लिए स्टॉक एक्सचेंज का मजाक उड़ाना किसी मनोरंजन से कम नहीं है।

आख़िर कौन है ये कुणाल कामरा

कुणाल कामरा एक भारतीय स्टैंड-अप कॉमेडियन हैं जो सोशल मीडिया में अपनी कॉमेडी के लिए जाने जाते हैं। वह आज भारत में देशभक्ति और सरकार पर अपने व्यंग्यात्मक टिप्पणियों के लिए चर्चा में बने रहते हैं। इसके अलावा कामरा यूट्यूब पर ‘Shut Up Ya Kunal’ पॉडकास्ट होस्ट करते हैं।

इससे पहले भी वह कॉन्ग्रेस नेता नगमा मोरारजी को मोदी-विरोधी एजेंडे को पूरा करने के लिए फोटोशॉप्ड इमेज से भ्रम फैलाते पकड़े गए थे। आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता ने हाल ही में प्रधानमंत्री मोदी की मौत की फेक न्यूज़ फैलाई थी। मध्य प्रदेश कॉन्ग्रेस के आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से व्यंग्यात्मक ख़बरों को वास्तविक ख़बर बनाकर उसका प्रचार-प्रसार किया गया था। पत्रकार प्रीतीश नंदी को भी फ़र्ज़ी ख़बरें फैलाते पकड़ा जा चुका है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

CPI(M) सरकार ने महादेव मंदिर पर जमाया कब्ज़ा, ताला तोड़ घुसी पुलिस: केरल में हिन्दुओं का प्रदर्शन, कइयों ने की आत्मदाह की कोशिश

श्रद्धालुओं के भारी विरोध के बावजूद केरल की CPI(M) सरकार ने कन्नूर में स्थित मत्तनूर महादेव मंदिर का नियंत्रण अपने हाथ में ले लिया है।

राम ‘छोकरा’, लक्ष्मण ‘लौंडा’ और ‘सॉरी डार्लिंग’ पर नाचते दशरथ: AIIMS वाले शोएब आफ़ताब का रामायण, Unacademy से जुड़ा है

जिस वीडियो को लेकर विवाद है, उसे दिल्ली AIIMS के छात्रों ने शूट किया है। इसमें रामायण का मजाक उड़ाया गया है। शोएब आफताब का NEET में पहला रैंक आया था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,325FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe