Sunday, April 11, 2021
Home रिपोर्ट गगनयान से अंतरिक्ष में भेजे जायेंगे 3 भारतीय; मोदी कैबिनेट ने मंजूर किया दस...

गगनयान से अंतरिक्ष में भेजे जायेंगे 3 भारतीय; मोदी कैबिनेट ने मंजूर किया दस हजार करोड़ का बजट

इस मिशन की कमान एक ऐसी महिला के हाथों में दी गई है जिन्हें कई अंतरिक्ष मिशन सफलतापूर्वक पूरा करने का अच्छा-ख़ासा अनुभव हासिल है।

आपको याद होगा कि इस साल स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर 15 अगस्त 2018 को लाल किले की प्राचीर से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ऐलान किया था कि 2022 में देश की स्वतंत्रता के 75वीं वर्षगांठ पर भारत का कोई नागरिक अंतरिक्ष में जायेगा। प्रधानमंत्री ने अपने महत्वपूर्ण सबोधन में इस प्रोजेक्ट का जिक्र करते हुए घोषणा की थी कि इसके बाद भारत अंतरिक्ष में मानव पहुंचाने वाला चौथा देश बन जायेगा। उन्होंने कहा था;

“आज लाल किले की प्राचीर से मैं देशवासियों को एक खुशखबरी सुनाना चाहता हूं। हमारा देश अंतरिक्ष की दुनिया में प्रगति करता रहा है। हमने सपना देखा है कि 2022 में आजादी के 75 साल पूरे होने के मौके पर या उससे पहले भारत की कोई संतान, चाहे बेटा हो या बेटी, वह अंतरिक्ष में जाएगा। हाथ में तिरंगा लेकर जाएगा। आजादी के 75 साल पूरे होने से पहले इस सपने को पूरा करना है। भारत के वैज्ञानिकों ने मंगलयान से लेकर अब तक ताकत का परिचय कराया है।”

अब ये घोषणा धरातल पर उतरने को तैयार है क्योंकि केंद्रीय कैबिनेट ने शुक्रवार को इस महत्वकांक्षी योजना के लिए दस हजार करोड़ रुपये के बजट की मजूरी दे दी है और इसके साथ ही तीन भारतीय नागरिकों को सात दिन के लिए अंतरिक्ष में भेजने की उलटी गिनती भी शुरू हो गई है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार इन तीन नागरिकों में एक महिला भी शामिल होगी। ज्ञात हो कि भारत से पहले सिर्फ तीन देश- अमेरिका, रूस और चीन ही इस मुकाम तक पहुँच पाए हैं। इस सम्बन्ध में अंतरिक्ष में जाने वाले पहले भारतीय राकेश शर्मा से भी सलाह-मशविरा किये जाने की सम्भावना है। 2022 तक का समय भी काफी कम है और इसके लिए इस से जुड़े एजेंसियों को तत्परता से काम करना पड़ेगा।

इस योजना को भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन द्वारा अंजाम तक पहुंचाया जायेगा। इसके लिए इसरो को अंतरिक्ष में यान भेजने और उसे सफलतापूर्वक धरती पर वापस उतारने के लिए कड़ी तैयारियां करनी होगी। मालूम हो कि इसरो द्वारा विकसित किया गया राकेट जीएसएलवी मार्क-2 अब तक दो बार उड़ान नभर चुका है लेकिन मानव को अंतरिक्ष में भेजने के लिए जरूरी रेटिंग पाने के लिए उसे कम से कम चार बार सफलतापूर्वक उड़ान भरनी पड़ेगी। इसके अलावा इसरो एक क्रू एस्केप सिस्टम भी विकसित करने में लगा हुआ है जो किसी भी गड़बड़ी की सूचना पहले ही दे देता है। इसी मिशन के क्रम में नवंबर में इसरो ने रॉकेट जीएसएलवी मार्क 3डी 2 का सफलतापूर्वक प्रक्षेपण किया था.

विशेषज्ञों का कहना है कि अंतरिक्ष में भेजे जाने वाले तीन लोगों का चुनाव भी काफी कठिन प्रक्रिया द्वारा किया जायेगा। सम्भावना है कि भारतीय वायुसेना के पायलट्स को इसके लिए मौक़ा मिल सकता है। इस प्रक्रिया के तहत 200 इ भी अधिक पायलट्स का टेस्ट लिए जाने की संभावना है। ऐसा इसीलिए क्योंकि उनमे अपना काम ख़त्म कर के वापस आने की काबिलियत कहीं अधिक होती है। उनकी ट्रेनिंग भी कुछ इस प्रकार की ही होती है कि वो इस काम के लिए फिट बैठते हैं। क्रू सदस्यों के चुनाव के बाद उन्हें सबसे अलग एकांत में रखा जायेगा ताकि उन्हें अंतरिक्ष वाले माहौल में रहने का प्रशिक्षण दिया जा सके। ये प्रशिक्षण कम से कम दो साल तक चलेगा।

इस मिशन की कमान एक ऐसी महिला के हाथों में दी गई है जिन्हें कई अंतरिक्ष मिशन सफलतापूर्वक पूरा करने का अच्छा-ख़ासा अनुभव हासिल है। केरल की 56 वर्षीय वीआर ललिताम्बिका को इस मिशन का निदेशक नियुक्त किया गया है। जब भारत ने एक साथ 104 सैटेलाइट्स अंतरिक्ष में छोड़े the तब ललिताम्बिका ने अपनी टीम के साथ उसमे अहम योगदान दिया था। इस मिशन के बाद दुनियाभर में इसरो की तारीफ़ हुई थी। ललिताम्बिका गगनयान मिशन में यह सुनिश्चित करेंगी कि अंतरिक्ष में इंसान को ले जाने वाले सिस्टम को तैयार किया जाए और उनका परीक्षण हो।

कुल मिलाकर देखें तो अंतरिक्ष योजनाओं में बढ़ रही पर्तिस्पर्धा के लिए भारत अब तैयार दिख रहा है। इसरो के इस तरह के मिशन से भारतीय युवाओं की भी इस क्षेत्र के प्रति दिलचस्पी बढ़ेगी और वो संगठन में भर्ती होने के लिए प्रेरित होंगे। इसके अलावा इसके सफल समापन के बाद विश्व में भारत की प्रतिष्ठा भी बढ़ेगी। बता दें कि इसरो ने अगले साल 20 से भी ज्यादा मिशन को पूरा करने का लक्ष्य रखा है। सरकार ने भी ऐसी योजनाओं के लिए दिए जाने वाले बजट में वृद्धि की है जिसका परिणाम हम कई सफल मिशन के रूप में देख चुके हैं।


  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कूच बि​हार में नेताओं की नो एंट्री, सुरक्षा बलों की 71 और कंपनियों को बंगाल भेजने का निर्देश: हिंसा के बाद EC सख्त

कूच बिहार हिंसा के बाद चुनाव आयोग ने कई सख्त कदम उठाए हैं। 5वें चरण का प्रचार भी 48 घंटे की जगह 72 घंटे पहले खत्म होगा।

‘अब आइसक्रीम नहीं धूल खाएँगे’: सचिन वाजे के तलोजा जेल पहुँचने पर अर्नब गोस्वामी ने साधा बरखा दत्त पर निशाना

डिबेट के 46 मिनट 19 सेकेंड के स्लॉट पर अर्नब ने सीधे बरखा दत्ता को उनकी अवैध गिरफ्तारी पर जश्न मनाने और सचिन वाजे जैसे भ्रष्ट अधिकारी के कुकर्मों का महिमामंडन करने के लिए लताड़ा है।

PM मोदी ने भारत में नई शक्ति का निर्माण कर सांस्कृतिक बदलाव को दिया जन्म, उन्हें रोकना मुश्किल: संजय बारू

करन थापर को दिए इंटरव्यू में राजनीतिक विश्लेषक संजय बारू ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश में सांस्कृतिक बदलाव को जन्म दिया है।

बंगाल: मतदान देने आई महिला से ‘कुल्हाड़ी वाली’ मुस्लिम औरतों ने छीना बच्चा, कहा- नहीं दिया तो मार देंगे

वीडियो में तृणमूल कॉन्ग्रेस पार्टी के नेता को उस पीड़िता को डराते हुए देखा जा सकता है। टीएमसी नेता मामले में संज्ञान लेने की बजाय महिला पर आरोप लगा रहे हैं और पुलिस अधिकारी को उस महिला को वहाँ से भगाने का निर्देश दे रहे हैं।

एंटीलिया के बाहर जिलेटिन कांड के बाद सचिन वाजे करने वाला था एनकाउंटर, दूसरों पर आरोप मढ़ने की थी पूरी प्लानिंग

अपने इस काम को अंजाम देने के लिए वाजे औरंगाबाद से चोरी हुई मारुती इको का इस्तेमाल करता, जिसका नंबर प्लेट कुछ दिन पहले मीठी नदी से बरामद हुआ था।

खुद के सर्वे में हार रही TMC, मुस्लिम तुष्टिकरण से आजिज हो हिंदू BJP के साथ: क्लबहाउस पर सब कुछ बोल गए PK

बंगाल में बीजेपी क्यों जीत रही? पीएम मोदी कितने पॉपुलर? टीएमसी के आंतरिक सर्वे क्या कहते हैं? सबके बारे में क्लबहाउस पर प्रशांत किशोर ने बात की।

प्रचलित ख़बरें

‘ASI वाले ज्ञानवापी में घुस नहीं पाएँगे, आप मारे जाओगे’: काशी विश्वनाथ के पक्षकार हरिहर पांडेय को धमकी

ज्ञानवापी केस में काशी विश्वनाथ के पक्षकार हरिहर पांडेय को जान से मारने की धमकी मिली है। धमकी देने वाले का नाम यासीन बताया जा रहा।

बंगाल: मतदान देने आई महिला से ‘कुल्हाड़ी वाली’ मुस्लिम औरतों ने छीना बच्चा, कहा- नहीं दिया तो मार देंगे

वीडियो में तृणमूल कॉन्ग्रेस पार्टी के नेता को उस पीड़िता को डराते हुए देखा जा सकता है। टीएमसी नेता मामले में संज्ञान लेने की बजाय महिला पर आरोप लगा रहे हैं और पुलिस अधिकारी को उस महिला को वहाँ से भगाने का निर्देश दे रहे हैं।

पॉर्न फिल्म में दिखने के शौकीन हैं जो बायडेन के बेटे, परिवार की नंगी तस्वीरें करते हैं Pornhub अकॉउंट पर शेयर: रिपोर्ट्स

पॉर्न वेबसाइट पॉर्नहब पर बायडेन का अकॉउंट RHEast नाम से है। उनके अकॉउंट को 66 badge मिले हुए हैं। वेबसाइट पर एक बैच 50 सब्सक्राइबर होने, 500 वीडियो देखने और एचडी में पॉर्न देखने पर मिलता है।

कूच बिहार में 300-350 की भीड़ ने CISF पर किया था हमला, ममता ने समर्थकों से कहा था- केंद्रीय बलों का घेराव करो

कूच बिहार में भीड़ ने CISF की टीम पर हमला कर हथियार छीनने की कोशिश की। फायरिंग में 4 की मौत हो गई।

‘मोदी में भगवान दिखता है’: प्रशांत किशोर ने लुटियंस मीडिया को बताया बंगाल में TMC के खिलाफ कितना गुस्सा

"मोदी के खिलाफ एंटी-इनकंबेंसी नहीं है। मोदी का पूरे देश में एक कल्ट बन गया है। 10 से 25 प्रतिशत लोग ऐसे हैं, जिनको मोदी में भगवान दिखता है।"

बंगाल: हिंसा में 4 की मौत, कूच बिहार में पहली बार के वोटर को मारी गोली, हुगली में BJP कैंडिडेट-मीडिया पर हमला

बंगाल के कूच बिहार में फायरिंग में 4 लोगों की मौत हो गई। इनमें 18 साल का आनंद बर्मन भी है।
- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

292,985FansLike
82,162FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe