Thursday, April 18, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयपाकिस्‍तान अधिकृत कश्मीर में भूकंप से तबाही का मंजर, सड़कों में समा गई कारें,...

पाकिस्‍तान अधिकृत कश्मीर में भूकंप से तबाही का मंजर, सड़कों में समा गई कारें, देखें VIDEO

मंगलवार शाम लगभग 4.31 बजे आए शक्तिशाली भूकंप से पाकिस्‍तान में भारी तबाही हुई है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार अभी एक महिला समेत पाँच लोगों की मौत और लगभग 50 लोगों के घायल होने ही खबर है। कई जगहों पर सड़कें टूट गई हैं। भारत में दिल्ली-एनसीआर में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं।

बता दें कि अचानक आए इस भूकंप से थोड़े देर के लिए लोगों में अफरा तफरी मच गई। रिपोर्ट्स के अनुसार, दिल्ली के अलावा पंजाब, हरियाणा और कश्मीर सहित पूरे उत्तर भारत में भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। भूकंप का केंद्र चूँकि पाकिस्तान में था इसलिए पाकिस्‍तान और पीओके में इस भूकंप से भारी तबाही मची है। जिसकी तस्वीरें और वीडियो ट्विटर पर शेयर की जा रही हैं।

बता दें कि भूकंप से पंजाब, खैबर पख्तूनख्वा प्रांतों और इस्‍लामाबाद के कई हिस्सों में तेज झटके को महसूस किया गया। यूनाइटेड स्टेट्स जियोलॉजिकल सर्वे के अनुसार इस भूकंप का केंद्र पाक अधिकृत कश्‍मीर के मीरपुर, जातलां में रहा। यह क्षेत्र लाहौर से उत्तर पश्चिमी दिशा में 173 किलोमीटर की दूरी पर है। यह भूकंप 10 किलोमीटर की उथली गहराई पर 5.8 तीव्रता का है। इससे पहले यहाँ पर 2005 में भी भूकंप आया था, जिसमें भारी तबाही हुई थी।

जियो टीवी के एक रिपोर्ट के अनुसार, भूकंप के कारण पाकिस्‍तान के इस्लामाबाद, रावलपिंडी, मुर्री, झेलम, चारसद्दा, स्वात, खैबर, एबटाबाद, बाजौर, नौशेरा, मनसेहरा, बत्तग्राम, तोगर और कोहितान में तेज झटके महसूस किए गए। भूकंप के कारण प्रभावित क्षेत्रों में लोग सड़कों पर निकल गए। कई जगहों पर घरों के ध्‍वस्‍त होने, सड़कों के धँस जाने की भी खबर है। 

जबकि भारत में अभी तक किसी भी तरह के नुकसान की खबर नहीं है। यहाँ तक कि कश्मीर में भी जान-माल के नुकसान से इंकार किया गया है।

रिपोर्ट्स के अनुसार, पाकिस्‍तान का सैन्‍य और प्रशासन बचाव कार्य में जुटा हुआ है, लेकिन रात होने के कारण इसमें बाधा आ सकती है। पाक अधिकृत कश्‍मीर के प्रधानमंत्री राजा फारूख हैदर मंगलवार को लाहौर का दौरा कर रहे थे, वह अपना दौरा छोड़कर गुलाम कश्‍मीर आ गए हैं।  

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

हलाल-हराम के जाल में फँसा कनाडा, इस्लामी बैंकिंग पर कर रहा विचार: RBI के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन ने भारत में लागू करने की...

कनाडा अब हलाल अर्थव्यवस्था के चक्कर में फँस गया है। इसके लिए वह देश में अन्य संभावनाओं पर विचार कर रहा है।

त्रिपुरा में PM मोदी ने कॉन्ग्रेस-कम्युनिस्टों को एक साथ घेरा: कहा- एक चलाती थी ‘लूट ईस्ट पॉलिसी’ दूसरे ने बना रखा था ‘लूट का...

त्रिपुरा में पीएम मोदी ने कहा कि कॉन्ग्रेस सरकार उत्तर पूर्व के लिए लूट ईस्ट पालिसी चलाती थी, मोदी सरकार ने इस पर ताले लगा दिए हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe