Wednesday, May 22, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयहॉवर्ड यूनिवर्सिटी में जहाँ लगता था अमेरिकी फ्लैग, वहाँ लगाया फिलीस्तीन का झंडा: US...

हॉवर्ड यूनिवर्सिटी में जहाँ लगता था अमेरिकी फ्लैग, वहाँ लगाया फिलीस्तीन का झंडा: US में अब तक 900 प्रदर्शनकारी गिरफ्तार, प्रशासन ने दिखाई सख्ती

हॉर्वर्ड के प्रवक्ता ने झंडा फहराने वाली घटना को यूनिवर्सिटी पॉलिसी का उल्लंघन बताते हुए कहा कि इन प्रदर्शनों में शामिल छात्रों के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी। प्रशासन का स्पष्ट संदेश है कि ऐसी हरकतें किसी भी हाल में बर्दाश्त नहीं की जाएँगी।

अमेरिका की 30 से ज्यादा यूनिवर्सिटियों में इन दिनों फिलीस्तीन के लिए प्रदर्शन चल रहे हैं। इस बीच हडकंप मचाने और दुर्व्यवहार करने के आरोप में पुलिस ने 900 प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिया है। ताजा मामला हॉवर्ड यूनिवर्सिटी का है। वहाँ इजरायल विरोधी प्रदर्शनकारियों ने जॉन हॉवर्ड के उस मूर्ति के ऊपर फिलीस्तीन का झंडा फहराया जहाँ सिर्फ और सिर्फ अमेरिका झंडे को ही फहराने की अनुमति होती है।

इस हरकत की वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल है। वीडियो में अलग-अलग समय पर मूर्ति के हाथ में झंडा और फिर सिर के ऊपर झंडा साफ देखा जा सकता है। हॉर्वर्ड के प्रवक्ता ने इस घटना को यूनिवर्सिटी पॉलिसी का उल्लंघन बताते हुए कहा कि इन प्रदर्शनों में शामिल छात्रों के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी। प्रशासन का स्पष्ट संदेश है कि ऐसी हरकतें किसी भी हाल में बर्दाश्त नहीं की जाएँगी।

वहीं एक स्टूडेंट्स द्वारा निकाले जा रहे समाचार पत्र हार्वर्ड क्रिमसन ने इस संबंध में जानकारी दी कि शनिवार शाम को परिसर में तीन फिलिस्तीनी झंडे फहराए गए थे। बाद में हार्वर्ड प्रशासन द्वारा ये झंडे हटाए गए। प्रदर्शनकारी चिल्लाते रहे ‘शर्म करो’ ‘आजाद फ़िलीस्तीन… फ़िलिस्तीन आज़ाद होगा’ के नारे लगाए।

बता दें कि इस समय अमेरिका की कोलंबिया यूनिवर्सिटी, येल यूनिवर्सिटी इंडियाना यूनिवर्सिटी, अरिजोना स्टेट यूनिवर्सिटी और वॉशिंगटन यूनिवर्सिटी सहित कई यूनिवर्सिटियों में फिलीस्तीन के समर्थन में प्रदर्शन चल रहे हैं। हावर्ड की घटना से पहले सदर्न कैनिफोर्निया कैंपस में सैंकड़ों छात्रों ने टेंट लगाकर प्रदर्शन किया था।

हालत तब बिगड़े थे जब कुछ प्रदर्शनकारी छात्रों हिंसक हो गए थे। कुछ वीडियोज सोशल मीडिया में भी सामने आई थी जिनमें दिख रहा था कि प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए पुलिस बल का प्रयोग कर रही है। माहौल बिगाड़ने वालों को पकड़कर हिरासत में लिया जा रहा है। कॉलेजों में भी सिर्फ छात्रों को उनकी आईडी कार्ड देखकर ही एंट्री दिया जा रही है। हॉवर्ड यूनिवर्सिटी के अलावा कोलंबिया यूनिवर्सिटी, साउथ कैलिफोर्निया यूनिवर्सिटी में भी बवाल है। टेंट लगाकर डेरा जमाया जा रहा है और प्रशासन से भिड़ा जा रहा है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पश्चिम बंगाल में 2010 के बाद जारी हुए हैं जितने भी OBC सर्टिफिकेट, सभी को कलकत्ता हाई कोर्ट ने कर दिया रद्द : ममता...

कलकत्ता हाई कोर्ट ने बुधवार 22 मई 2024 को पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार को बड़ा झटका दिया। हाईकोर्ट ने 2010 के बाद से अब तक जारी किए गए करीब 5 लाख ओबीसी सर्टिफिकेट रद्द कर दिए हैं।

महाभारत, चाणक्य, मराठा, संत तिरुवल्लुवर… सबसे सीखेगी भारतीय सेना, प्राचीन ज्ञान से समृद्ध होगा भारत का रक्षा क्षेत्र: जानिए क्या है ‘प्रोजेक्ट उद्भव’

न सिर्फ वेदों-पुराणों, बल्कि कामंदकीय नीतिसार और तमिल संत तिरुवल्लुवर के तिरुक्कुरल का भी अध्ययन किया जाएगा। भारतीय जवान सीखेंगे रणनीतियाँ।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -