Thursday, May 23, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयपीएम मोदी को भूटान का सर्वोच्च नागरिक सम्मान: भारत की बिना शर्त दोस्ती और...

पीएम मोदी को भूटान का सर्वोच्च नागरिक सम्मान: भारत की बिना शर्त दोस्ती और समर्थन के लिए जताया आभार

वांगचुक ने पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में, विशेष रूप से कोरोना वायरस (कोविड -19) महामारी के दौरान भारत की 'बिना शर्त दोस्ती' और भूटान के लिए समर्थन की सराहना की।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को शुक्रवार, 17 दिसंबर, 2021 को, भूटान के सर्वोच्च नागरिक सम्मान नगदग पेल जी खोरलो (Ngadag Pel gi Khorlo Award) पुरस्कार से नवाजा गया। भूटान राज्य के प्रमुख जिग्मे खेसर नामग्याल वांगचुक (Jigme Khesar Namgyel Wangchuck) ने बहुप्रतीक्षित नागरिक सम्मान के लिए PM मोदी के नाम की घोषणा की।

वांगचुक ने पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में, विशेष रूप से कोरोना वायरस (कोविड -19) महामारी के दौरान भारत की ‘बिना शर्त दोस्ती’ और भूटान के लिए समर्थन की सराहना की।

भूटान के प्रधानमंत्री कार्यालय ने फेसबुक पर यह सूचना देते हुए लिखा, “महामहिम द्वारा सर्वोच्च नागरिक अलंकरण नगदग पेल जी खोरलो के लिए महामहिम नरेंद्र मोदी के नाम का उच्चारण सुनकर बहुत खुशी हुई। भूटान के लोगों की ओर से बधाई! जिस तरह से पीएमओ इंडिया, गृह मंत्रालय ने बिना शर्त वर्षों से दोस्ती और विशेष रूप से महामारी के दौरान मोदी जी द्वारा दिए गए समर्थन पर प्रकाश डालते हुए उनके तारीफ की। उन्होंने महामहिम मोदी को एक महान, आध्यात्मिक इंसान के रूप में मोस्ट डिजर्विंग बताते हुए कहा कि मैं व्यक्तिगत रूप से आपके सम्मान का जश्न मनाने के लिए उत्सुक हूँ।”

यहाँ यह उल्लेख करना प्रासंगिक हो जाता है कि जब से कोविड-19 महामारी ने दुनिया को त्रस्त किया है, तब से भारत, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में, विभिन्न अन्य देशों को सहायता प्रदान करने में दृढ़ता से खड़ा रहा है। भूटान भारत द्वारा COVID-19 टीकों का उपहार प्राप्त करने वाला पहला देश बन गया था, जबकि भारत में टीकाकरण अभी शुरू ही हुआ था। 20 जनवरी को, भारतीय वायुसेना के एएन-32 विमान ने सीरम इंस्टीट्यूट के कोविशील्ड टीकों की 150,000 खुराक की पहली खेप भूटान को दी थी।

जब भूटान ने भारत से भेजा गया टीकों का वह उपहार प्राप्त किया तब पीएम शेरिंग ने भारत को धन्यवाद देते हुए कहा था कि टीके एक ‘विश्वसनीय मित्र’ का एक उपहार है जो दशकों से भूटान के साथ रहा है। उन्होंने यह भी कहा, “जैसा कि यहाँ पर महामारी को हराने के अपनी लड़ाई में एक नए मील के पत्थर के रूप में वैक्सीन के आगमन का जश्न मना रहे हैं, हम भारत के इस कदम की सराहना करते हैं जो मानवता की भलाई के लिए भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और वहाँ के लोगों की करुणा और उदारता का प्रतीक है।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

OBC में घुसा दी 77 मुस्लिम जाति, अब आरक्षण रद्द करने के फैसले को बता रहीं ‘BJP का आदेश’: जानिए क्यों ममता बनर्जी कह...

कुल 77 मुस्लिम जातियों को मिला OBC का दर्जा रद्द किया गया है। ममता बनर्जी ने इसे 'BJP का आदेश' बताते हुए 'OBC आरक्षण' जारी रहेगा।

क्या सोने की तस्करी में हुई MP अनवारुल अजीम की हत्या? बांग्लादेश पुलिस का दावा- दोस्त ने ही मरवाया, कोलकाता की फ्लैट में आई...

बांग्लादेश के सांसद अनवारुल अजीम की कोलकाता में हत्या उन्हीं के एक पुराने दोस्त अख्तरुज्ज्मान ने करवाई थी, वह अमेरिकी-बांग्लादेशी नागरिक है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -