Monday, April 15, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयपवन पुत्र की तस्वीर साझा कर ब्राजील के राष्ट्रपति ने भारत को कहा...

पवन पुत्र की तस्वीर साझा कर ब्राजील के राष्ट्रपति ने भारत को कहा Thank You, बोले- हम सम्मानित महसूस कर रहे

विश्वव्यापी महामारी के समय में भारत अपने दूसरे देशों को भी मदद मुहैया करवा रहा है। इसी कड़ी में ब्राजील ने भारत से वैक्सीन की मदद माँगी थी और डिलीवरी के लिए एक प्लेन भेजने का ऑफर रखा था।

कोरोना वैक्सीन देने के लिए आज (जनवरी 22, 2021) ब्राजील के राष्ट्रपति जैर बोलसोनारो ( Jair Bolsonaro) ने भारत और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभार व्यक्त किया। अपने संदेश में उन्होंने भगवान पवन पुत्र हनुमान की तस्वीर साझा कर दर्शाया कि हनुमान जी स्वयं पहाड़ और वैक्सीन लेकर भारत से ब्राजील जा रहे हैं।

जैर बोलसनारो ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर लिखा, “नमस्कार, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। वैश्विक बाधा को दूर करने के प्रयासों में भारत के एक महान भागीदार होने के लिए ब्राजील आज खुद को बेहद सम्मानित महसूस कर रहा है। ब्राजील को कोविड वैक्‍सीन के रूप में मदद करने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद।”

बोलसोनारो का यह संदेश रामायण की उस कथा से प्रेरित है जहाँ भगवान राम के भाई लक्ष्मण युद्ध के दौरान घायल हो जाते हैं और उन्हें बचाने के लिए हनुमान जी संजीवनी बूटी सहित पूरा गंधमर्धन (गंधमादन) पर्वत एक रात में वहाँ लेकर आ जाते हैं। इसी संजीवनी बूटी से फिर मूर्छित लक्ष्मण होश में आते हैं।

ब्राजील राष्ट्रपति द्वारा साझा तस्वीर में हम Obrigado लिखा देख रहे हैं, पुर्तगाली में इसका अर्थ आभार होता है।

बता दें कि विश्वव्यापी महामारी के समय में भारत अपने दूसरे देशों को भी मदद मुहैया करवा रहा है। इसी कड़ी में ब्राजील ने भारत से वैक्सीन की मदद माँगी थी और डिलीवरी के लिए एक प्लेन भेजने का ऑफर रखा था।

पिछले कुछ दिनों की बात करें तो भारत कोरोना वैक्सीन की डेढ़ लाख डोज भूटान को भेज चुका है। इसी प्रकार मालदीव में 1 लाख डोज, बांग्लादेश में 20 लाख, म्यांमार में 15 लाख, नेपाल में 10 लाख, सेशल्स को 50हजार और मॉरीशस को 1 लाख डोज़ पहुँचाई गई है। इसके अलावा खबर यह भी है कि सीरम इंस्टीट्यूट कोविशिल्ड वैक्सीन को ब्राजील और मोरक्को को भेजेगा। दक्षिण अफ्रीका और सऊदी अरब को भी आने वाले दिनों में खेप भेजी जाएगी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पत्रकार ने कन्हैया कुमार से पूछा सवाल, समर्थक ने PM मोदी की माँ को दी गाली… कॉन्ग्रेस नेता ने हँसते हुए कहा- अभिधा और...

कॉन्ग्रेस प्रत्याशी कन्हैया कुमार की चुनाव प्रचार की रैली में उनके समर्थकों ने समर्थक पीएम मोदी को गाली माँ की गाली दी है।

EVM का सोर्स कोड सार्वजनिक करने को लेकर प्रलाप कर रहे प्रशांत भूषण, सुप्रीम कोर्ट पहले ही ठुकरा चुका है माँग, कहा था- इससे...

प्रशांत भूषण ने यह झूठ भी बोला कि चुनाव आयोग EVM-VVPAT पर्चियों की गिनती करने को तैयार नहीं है। इसको लेकर मामला सुप्रीम कोर्ट में लंबित है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe