Tuesday, September 21, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयइंग्लैंड के डर्बी में गुरु अर्जन देव गुरुद्वारा में तोड़फोड़ करने वाला पाकिस्तानी गिरफ्तार,...

इंग्लैंड के डर्बी में गुरु अर्जन देव गुरुद्वारा में तोड़फोड़ करने वाला पाकिस्तानी गिरफ्तार, कश्मीर पर मिला धमकी भरा नोट

पाकिस्तानी मूल के आरोपित के पास से अंग्रेजी में लिखा हुए एक मैसेज मिला है। जिस पर लिखा था कि कश्मीर के लोगों की मदद करने की कोशिश करें अन्यथा सभी को परेशानी होगी। इसके साथ ही उस पर एक फोन नंबर भी लिखा था।

ब्रिटेन के डर्बी में सोमवार सुबह गुरु अर्जन देव गुरुद्वारा पर हमला करने वाले शख्स को गिरफ्तार कर लिया गया है। जानकारी के मुताबिक गिरफ्तार आरोपित की पहचान पाकिस्तानी मूल के निवासी के रूप में हुई है। हालाँकि, गुरुद्वारे की तरफ से किसी के भी घायल नहीं होने की पुष्टि की गई है। 

लॉकडाउन के बीच गुरुद्वारे में धार्मिक काम बंद हैं और हर दिन प्रार्थना लाइव स्ट्रीम की जा रही है। अपने सामाजिक कार्यों के लिए मशहूर गुरुद्वारे पर इस तरह के हमले के पीछे हेट क्राइम की बात कही जा रही है।

जानकारी के मुताबिक आरोपित के पास से अंग्रेजी में लिखा हुए एक मैसेज मिला है। जिस पर लिखा था कि कश्मीर के लोगों की मदद करने की कोशिश करें अन्यथा सभी को परेशानी होगी। इसके साथ ही उस पर एक फोन नंबर भी लिखा था।

डर्बी का गुरु अर्जन देव गुरुद्वारा जरूरतमंदों तक खाना पहुँचाने के अपने काम को लेकर काफी जाना जाता है। यहाँ सोमवार सुबह 6 बजे एक शख्स ने तोड़फोड़ की। सामने आई तस्वीरों में देखा जा सकता है कि गुरुद्वारे का काँच टूटा हुआ है। स्थानीय मीडिया ने बताया कि इस बर्बरता से सैकड़ों पाउंड की क्षति हुई। 

वहीं गुरुद्वारे की ओर से बयान जारी कर कहा गया है कि बताया गया है कि घटना के बाद परिसर की सफाई का काम शुरू कर दिया गया। ऐसी घटनाओं से उनके सेवा-भाव में कमी नहीं आएगी और मदद का काम जारी रखा जाएगा। लंगर और प्रार्थना जारी रखी जाएगी।

अर्जन देब गुरुद्वारा हर दिन 350-500 लोगों को खाना खिलाता है। किसी भी धर्म, समुदाय के लोगों को यहाँ मदद पहुँचाई जाती है। खासकर कोरोना वायरस के बीच यहाँ जरूरी काम पर जाने वाले फ्रंटलाइन वर्कर्स को आगे बढ़कर मदद दी जाती है। लॉकडाउन के बीच यहाँ धार्मिक काम नहीं हो रहे हैं। इसलिए पूरे परिसर का इस्तेमाल कोरोना संबंधी मदद पहुँचाने के लिए किया जाता है। वालंटियर्स के पास सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए अपना काम करने के लिए अच्छी खासी जगह भी है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘अमित शाह के मंत्रालय ने कहा- हिंदू धर्म को खतरा काल्पनिक’: कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता को RTI एक्टिविस्ट बता TOI ने किया गुमराह

TOI ने एक खबर चलाई, जिसका शीर्षक था - 'RTI: हिन्दू धर्म को खतरा 'काल्पनिक' है - केंद्रीय गृह मंत्रालय' ने कहा'। जानिए इसकी सच्चाई क्या है।

NDTV से रवीश कुमार का इस्तीफा, जहाँ जा रहे… वहाँ चलेगा फॉर्च्यून कड़ुआ तेल का विज्ञापन

रवीश कुमार NDTV से इस्तीफा दे चुके हैं। सोर्स बता रहे हैं कि देने वाले हैं। मैं मीडिया में हूँ, मुझे सोर्स से भी ज्यादा भीतर तक की खबर है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,490FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe