Monday, June 17, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयस्कूल, लाइब्रेरी, बैंक… फ्रांस में सब कुछ फूँक रहे दंगाई, तीन दिनों से जारी...

स्कूल, लाइब्रेरी, बैंक… फ्रांस में सब कुछ फूँक रहे दंगाई, तीन दिनों से जारी है हिंसा: अब तक 667 गिरफ्तार, 200 पुलिसकर्मी जख्मी

कुछ वीडियो सामने आई है जिसमें प्रदर्शनकारी पुलिस वाहन में आग लगा रहे हैं। ग नानतेरे की बिल्डिंग्स पर नाहेल के लिए न्याय की बात लिखी गई है। गुरुवार को फ्रांस के मारसेले , लियोन, पाउ, टौलूज में गोलीबारी की घटनाएँ भी हुई हैं।

फ्रांस में 17 साल के लड़के की हत्या के बाद वहाँ हिंसक प्रदर्शन लगातार तीसरे दिन भी जारी रहा। कई जगहों से तोड़फोड़ की घटनाएँ सामने आई। वहीं कई जगह स्कूल, लाइब्रेरी से लेकर बैंक तक में आगजनी की गई। इस बीच 200 से ज्यादा सुरक्षाकर्मियों के घायल होने की खबर है। ऐसी परिस्थिति देखते हुए फ्रांस में पुलिस ने 667 दंगाइयों को रातोंरात गिरफ्तार किया।

खबरों के अनुसार, सेंट्रल पेरिस में एक नाइक का शोरूम पूरा तोड़ा गया और उसके बाद वहाँ से चीजें लूट ली गई। इस मामले में पेरिस पुलिसने एक केस में 14 और लूटपाट के मामले में 16 लोगों को गिरफ्तार किया है।

वर्तमान में फ्रांस की स्थिति संभालने के लिए रकार ने 40000 पुलिसकर्मियों को तैनात किया हुआ है। भीड़ को रोकने के लिए आँसू गैस छोड़े जा रहे हैं।

कुछ वीडियो सामने आई है जिसमें प्रदर्शनकारी पुलिस वाहन में आग लगा रहे हैं। ग नानतेरे की बिल्डिंग्स पर नाहेल के लिए न्याय की बात लिखी गई है। गुरुवार को फ्रांस के मारसेले , लियोन, पाउ, टौलूज में गोलीबारी की घटनाएँ भी हुई हैं।

फ्रांस में एक पुलिसकर्मी द्वारा 17 साल के नाबालिग लड़के की हत्या किए जाने के बाद वहाँ हिंसा भड़क रखी है। टना के समय वह अपनी मर्सिडीज से जा रहा था। लेकिन ट्रैफिक नियम का उल्लंघन का इल्जाम लगाकर उसे गोली मार दी गई। शुरू में इस मामले में कहा गया कि युवक पुलिस पर गाड़ी चढ़ा रहा था।

हालाँकि बाद में एक वीडियो सामने आई जिसमें दिख रहा था कि कैसे पुलिस वाले एक खड़ी कार में बैठे युवक को धमकी दे रहे थे- “हम तुम्हारे सिर में गोली मारेंगे।” इस वीडियो से बोले गए झूठ की पोल खुली और लोग भड़क उठे। कल तक खबर थी कि पुलिस ने हिंसक प्रदर्शन करने पर 150 लोगों को पकड़ा है। लेकिन अब ये संख्या 667 हो गई है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

ऋषिकेश AIIMS में भर्ती अपनी माँ से मिलने पहुँचे CM योगी आदित्यनाथ, रुद्रप्रयाग हादसे के पीड़ितों को भी नहीं भूले

उत्तराखंड के ऋषिकेश से करीब 50 किलोमीटर की दूरी पर स्थित यमकेश्वर प्रखंड का पंचूर गाँव में ही योगी आदित्यनाथ का जन्म हुआ था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -