Tuesday, July 23, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयसिर तन से जुदा, स्तन काटे, मांस नोचा... पाकिस्तान में 40 साल की हिंदू...

सिर तन से जुदा, स्तन काटे, मांस नोचा… पाकिस्तान में 40 साल की हिंदू महिला की निर्मम हत्या, खेत में मिले शरीर के टुकड़े

पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी की कृष्णा कुमारी ने लिखा, "40 साल की विधवा दया भेल की निर्मम ढंग से हत्या कर दी गई। उनका शव बहुत बुरी स्थिति में बरामद हुआ है। उनका सिर उनके धड़ से अलग था और सि का सारा माँस नोचा जा चुका था।"

पाकिस्तान के सिंध के शिंझोरो में बुधवार (28 दिसंबर 2022) को एक हिंदू महिला की निर्मम ढंग से हत्या कर दी गई। हत्यारों ने उनका सिर कलम किया और छाती को भी टुकड़ों में काट डाला। हिंदू महिला के साथ हुई इस भयावहता के बारे में पाकिस्तान की पहली हिंदू सीनेटर कृष्णा कुमारी ने बताया है। मृतिका की पहचान 40 साल की विधवा दया भील के तौर पर हुई है।

अपने ट्वीट में पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी की कृष्णा कुमारी ने लिखा, “40 साल की विधवा दया भील की निर्मम ढंग से हत्या कर दी गई। उनका शव बहुत बुरी स्थिति में बरामद हुआ। उनका सिर उनके धड़ से अलग था और सिर का सारा माँस नोचा जा चुका था। हम उनके शिंझोरो गाँव और शाहपुरचाखर गए।”

पार्टी की जियाला अमर लाल भील ने बताया कि शव के टुकड़े एक खेत से बुधवार को मिले। पुलिस ने मृतक महिला से जुड़ी जानकारी जुटा ली है। पोस्टमार्टम भी हो चुका है और आगे की जाँच की जा रही है।

पत्रकार गुलाम अब्बास शाह लिखते हैं, “विधवा महिला की इतनी निर्मम हत्या, सिंध के सिंझोरो में 40 साल की दया भील का शव बिन सिर के बरामद हुआ है। उनके शरीर से उसके मांस तक को नोच दिया गया। सिंध सरकार को जल्द आरोपितों को गिरफ्तार करना चाहिए। हम लोग इस निर्मम हत्या की तस्वीरें भी सोशल मीडिया पर नहीं शेयर कर सकते हैं।”

बता दें कि पाकिस्तान के सिंध में हुई दया भील की निर्मम हत्या के बाद जहाँ स्थानीय लोग सड़कों पर विरोध कर रहे हैं, वहीं ट्विटर पर उनके लिए इंसाफ की माँग उठ रही है। पाकिस्तान के कई नेताओं ने इस घटना को अपने ट्विटर पर शेयर किया है और कुछ ने इलाके का मुआएना भी किया है। स्थानीय पुलिस ने इस संबंध में बताया है कि महिला के शव से उसका सिर और ब्रेस्ट अलग थे और शरीर से उसकी खाल को छीला जा चुका था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पत्रकार प्रदीप भंडारी बने BJP के राष्ट्रीय प्रवक्ता: ‘जन की बात’ के जरिए दिखा चुके हैं राजनीतिक समझ, रिपोर्टिंग से हिला दी थी उद्धव...

उन्होंने कर्नाटक स्थित 'मणिपाल इन्सिटटे ऑफ टेक्नोलॉजी' (MIT) से इलेक्ट्रॉनिक एवं कम्युनिकेशंस में इंजीनियरिंग कर रखा है। स्कूल में पढ़ाया भी।

पहले मोदी सरकार की योजना की तारीफ़ की, आका से सन्देश मिलते ही कॉन्ग्रेस को देने लगे श्रेय: देखिए राजदीप सरदेसाई की ‘पत्तलकारिता’, पत्नी...

कथित पत्रकार राजदीप सरदेसाई ने पहले तो मोदी सरकार के बजट की तारीफ की, लेकिन कुछ ही देर में 'आकाओं' का संदेश मिलते ही मोदी सरकार पर कॉन्ग्रेसी आरोपों को दोहराने लगे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -