Tuesday, September 21, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयखुद का पता नहीं, दूसरों की जिंदगी की गारंटी कैसे ले सकता हूँ: इमरान...

खुद का पता नहीं, दूसरों की जिंदगी की गारंटी कैसे ले सकता हूँ: इमरान खान

पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की तबीयत और बिगड़ गई है। बीते हफ्ते हाई कोर्ट ने कहा था कि जेल की सजा भुगत रहे शरीफ के स्वास्थ्य की ‘जिम्मेदारी’ सरकार ले। शरीफ के परिजनों का कहना है कि यदि उन्हें कुछ हुआ तो इसके जिम्मेदार इमरान खान होंगे।

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की हालत बिगड़ने की खबरों के बीच प्रधानमंत्री इमरान खान की एक बड़ी टिप्पणी सामने आई है। इमरान ने कहा है कि वे किसी की जिंदगी की गारंटी नहीं ले सकते। उन्होंने यह बात इस्लामाबाद हाई कोर्ट के निर्देश के आलोक में कही। बीते हफ्ते हाई कोर्ट ने कहा था कि जेल की सजा भुगत रहे शरीफ के स्वास्थ्य की ‘जिम्मेदारी’ सरकार ले।

डॉन न्यूज के अनुसार सोमवार को ननकाना साहिब में बाबा गुरु नानक यूनिवर्सिटी का शिलान्यास करते हुए पाकिस्तानी प्रधानमंत्री ने यह बात कही। उन्होंने कहा,

“आज मैंने खबर पढ़ी कि कोर्ट ने संघीय और प्रांतीय सरकारों से पूछा है कि क्या वे कल नवाज शरीफ की जिंदगी की गारंटी ले सकते हैं। मैं तो कल तक के लिए अपनी ही जिंदगी की गारंटी नहीं ले सकता, तो मैं किसी अन्य की जिंदगी की गारंटी कैसे दे सकता हूॅं?”

शरीफ के परिजनों का कहना है कि यदि उन्हें कुछ हुआ तो इसके जिम्मेदार इमरान खान होंगे। पाकिस्तान मुस्लिम लीग नवाज (पीएमएल-एन) नेता शरीफ की तबीयत स्वास्थ्य और मानवीय आधार पर दो अदालतों से जमानत मिलने के एक दिन बाद रविवार को और खराब हो गई। प्लेटलेट्स काफी घट जाने के कारण डॉक्टरों को उनकी हृदय संबंधी दवाइयॉं बंद करनी पड़ी है।

रविवार को आई रिपोर्ट के अनुसार 69 वर्षीय शरीफ के प्लेटलेट्स एक ही दिन में 45,000 से घटकर 25,000 हो गए। सोमवार रात प्लेटलेट्स घटकर 2000 हो गया। इसके बाद उन्हें भ्रष्टाचार निरोधक निकाय (एनएबी) की हिरासत से सर्विसेज अस्तपाल ले जाया गया। तीन बार प्रधानमंत्री रह चुके शरीफ को शनिवार को लाहौर के एक अस्पताल में इलाज के दौरान एंजाइना एटैक (हृदय में जकड़न) आया था। एंजाइना में हृदय में रक्त का प्रवाह घट जाने के कारण छाती में दर्द होता है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘अमित शाह के मंत्रालय ने कहा- हिंदू धर्म को खतरा काल्पनिक’: कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता को RTI एक्टिविस्ट बता TOI ने किया गुमराह

TOI ने एक खबर चलाई, जिसका शीर्षक था - 'RTI: हिन्दू धर्म को खतरा 'काल्पनिक' है - केंद्रीय गृह मंत्रालय' ने कहा'। जानिए इसकी सच्चाई क्या है।

NDTV से रवीश कुमार का इस्तीफा, जहाँ जा रहे… वहाँ चलेगा फॉर्च्यून कड़ुआ तेल का विज्ञापन

रवीश कुमार NDTV से इस्तीफा दे चुके हैं। सोर्स बता रहे हैं कि देने वाले हैं। मैं मीडिया में हूँ, मुझे सोर्स से भी ज्यादा भीतर तक की खबर है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,490FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe