Tuesday, May 21, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयवली ही है यूक्रेन वाला वो 'भूत', जो हर दिन मार देता है 40...

वली ही है यूक्रेन वाला वो ‘भूत’, जो हर दिन मार देता है 40 लोगों को? – 3.5 km रिकॉर्ड वाला दुनिया का सर्वश्रेष्ठ स्नाइपर कनाडा से कैसे पहुँचा वहाँ

40 वर्षीय फ्रांसीसी-कनाडाई कंप्यूटर वैज्ञानिक वली ने 2009 और 2011 के बीच अफगानिस्तान युद्ध में कथित तौर पर दो बार सेवा दी है। अनाम कनाडाई सैनिक को अफगानिस्तान में अपने कार्यकाल के दौरान 'वली' नाम दिया गया था, जिसका अर्थ अरबी में रक्षक है।

युद्ध केवल रणभूमि में ही नहीं लड़े जाते। हमारे समय की तकनीकी रूप से उन्नत दुनिया में सावधानीपूर्वक गढ़ी गई कथाओं एवं मिथकों के माध्यम से गढ़ा गया नैरेटिव मनोवैज्ञानिक युद्ध में बड़ा लाभ देता है। रूस-यूक्रेन युद्ध (Russia-Ukraine War) में एक बार फिर वही प्रयास दिखाई दे रहे हैं।

रूस-यूक्रेन युद्ध में इसी तरह का ‘घोस्ट ऑफ कीव’ (कीव का भूत) का मिथक सामने आया। एक ऐसा रहस्यमयी मिग-29 लड़ाकू पायलट, जो रूसी हवाई हमलों से यूक्रेन के आसमान की रक्षा के लिए कीव में आया था, दुनिया भर में खूब फैलाया गया। जब यह दुनिया का ध्यान अपनी ओर खिंचने में नाकाम रहा तो ऐसा ही एक और किरदार दुनिया के सामने आया।

इस बार यह लड़ाकू विमान का पायलट नहीं, बल्कि एक रॉयल कनाडाई स्नाइपर है, जिसका उपनाम ‘वली’ है। कहा जा रहा है कि वली रूसियों के खिलाफ लड़ने के लिए यूक्रेन पहुँचे हैं। वली के बारे में तरह-तरह बातें सामने आ रही हैं। कहा जा रहा है कि वह प्रतिदिन 40 लोगों को मारते हैं।

कौन हैं वली?

अफवाहों के अनुसार, वाली दुनिया के सर्वश्रेष्ठ स्निपर्स में से एक है। वह रॉयल कैनेडियन 22वीं रेजीमेंट के दिग्गज वली इस सप्ताह की शुरुआत में रूसी सेना से लड़ने के लिए युद्धग्रस्त यूक्रेन पहुँचे हैं। यूक्रेन पहुँचने के बाद वली ने युद्ध में भाग लेने की इच्छा व्यक्त की है। वली ने खुलासा किया कि जब यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की ने रूस के खिलाफ लड़ने के लिए विदेशियों को आमंत्रित किया तो वे अपने अंदर आग जैसा महसूस किया और वे आ गए।

यूक्रेन में आते ही उन्होंने दो दिनों के भीतर छह रूसी सैनिकों को मार गिराया। हाल ही में एक इंटरव्यू में इस स्नाइपर ने कहा, “बहुत सिंपल है, मैं उनकी मदद करना चाहता हूँ। मुझे मदद करनी है, क्योंकि यहाँ लोगों पर सिर्फ इसलिए बमबारी की जा रही है, क्योंकि वे यूरोपीय बनना चाहते हैं, रूसी नहीं।”

Visegrade 24 न्यूज ने एक ट्वीट कर बताया कि वली ने अफगानिस्तान, सीरिया और इराक में खूब नाम कमाया है। उन्होंने उसी कनाडाई इकाई में स्नाइपर के रूप में लड़ते हुए उन्होंने दुनिया की सबसे दूर हत्या (3.5 किमी) की थी।

वली प्रतिदिन 40 लोगों को मारते हैं

वली की कहानी किसी परियों की कहानी से कम नहीं है। उन्हें दुनिया के सर्वश्रेष्ठ स्निपर्स में से एक माना जाता है, क्योंकि वह एक दिन में 40 लोगों को मारते हैं। एक स्नाइपर को अच्छा माना जाने के लिए औसतन प्रतिदिन 5-6 लोगों को मारने की आवश्यकता होती है और एक दिग्गज स्पाइनपर प्रतिदिन 7-10 लोगों को मारता है।

40 वर्षीय फ्रांसीसी-कनाडाई कंप्यूटर वैज्ञानिक वली ने 2009 और 2011 के बीच अफगानिस्तान युद्ध में कथित तौर पर दो बार सेवा दी है। अनाम कनाडाई सैनिक को अफगानिस्तान में अपने कार्यकाल के दौरान ‘वली’ नाम दिया गया था, जिसका अर्थ अरबी में रक्षक है।

वली के पास पास 3.5 किलोमीटर दूर दुनिया की सबसे लंबी दूरी से हत्या करने का रिकॉर्ड है। साल 2015 में वली ने ISIS के खिलाफ लड़ने के लिए इराक गए थे। कनाडा में वली का परिवार रहता है। कहा जा रहा है कि वहाँ उनकी पत्नी और एक बच्चा है, जो अगले सप्ताह एक महीने का हो जाएगा।

सीबीसी न्यूज से बात करते हुए वली ने कहा कि कनाडा के तीन अन्य पूर्व सैनिकों ने भी उनके साथ यूक्रेन की यात्रा की है। हजारों यूक्रेनी शरणार्थियों से मिलने के बाद वे पोलैंड के रास्ते यूक्रेन पहुँचे। इस बीच वली और अन्य दिग्गजों ने यूक्रेनी अधिकारियों के साथ जुड़ने से पहले एक खाली घर में शरण ली है।

दिलचस्प बात यह है कि इस कथित स्नाइपर सिपाही को अभी तक किसी ने नहीं देखा है। नेटिज़न्स ने अनुमान लगाया कि ‘वली’ कहानी पश्चिम समर्थित यूक्रेन सरकार एक और प्रोपेगेंडा हो सकता है, जो यह दिखाने की कोशिश कर रहे हैं कि रूसियों के खिलाफ युद्ध में वे अभी जीत रहे हैं। अभी तक ‘वली’ के अस्तित्व को ‘कीव के भूत’ के रूप में साबित करने के लिए कोई सबूत नहीं है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

J&K के बारामुला में टूट गया पिछले 40 साल का रिकॉर्ड, पश्चिम बंगाल में सर्वाधिक 73% मतदान: 5वें चरण में भी महाराष्ट्र में फीका-फीका...

पश्चिम बंगाल 73% पोलिंग के साथ सबसे आगे है, वहीं इसके बाद 67.15% के साथ लद्दाख का स्थान रहा। झारखंड में 63%, ओडिशा में 60.72%, उत्तर प्रदेश में 57.79% और जम्मू कश्मीर में 54.67% मतदाताओं ने वोट डाले।

भारत पर हमले के लिए 44 ड्रोन, मुंबई के बगल में ISIS का अड्डा: गाँव को अल-शाम घोषित चला रहे थे शरिया, जिहाद की...

साकिब नाचन जिन भी युवाओं को अपनी टीम में भर्ती करता था उनको जिहाद की कसम दिलाई जाती थी। इस पूरी आतंकी टीम को विदेशी आकाओं से निर्देश मिला करते थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -