Saturday, June 12, 2021
Home रिपोर्ट अंतरराष्ट्रीय बच्चों व महिलाओं की आड़ में छिपने वाले आतंकियों के लिए इजरायल की 'निंजा...

बच्चों व महिलाओं की आड़ में छिपने वाले आतंकियों के लिए इजरायल की ‘निंजा तकनीक’, दुश्मन को यूँ ढेर करता है बिन धमाके वाला छोटा पैकेट

लीबिया, सीरिया और इलाक़ में अमेरिका भी R9X मिसाइलों का उपयोग करता रहा है, जो बल के साथ-साथ 6 ब्लेड्स का इस्तेमाल करती हैं।

फिलिस्तीन में स्थित आतंकी संगठन हमास की तरफ से किए जाने वाले रॉकेट फायर्स का इजरायल की तरफ से भरपूर जवाब दिया जा रहा है। जिस सटीकता से इजरायल ने हमास के ठिकानों को तबाह किया है, उससे अंदेशा लगाया जा रहा है कि उसके पास ‘निंजा मिसाइल तकनीक’ मौजूद है। अमेरिका के पास भी 6 ब्लेड वाले निंजा मिसाइल मौजूद हैं। गाज़ा में बमबारी से तबाह एक कार की तस्वीर के आधार पर दावा किया जा रहा है कि इजरायल ने भी इस तकनीक को विकसित कर लिया है।

मंगलवार (मई 18, 23021) को Citroen Xsara मॉडल की एक सफ़ेद कार इजरायल के हमले का निशाना बनी। ‘इजरायल डिफेंस फोर्सेज (IDF)’ ने बताया कि उसने हमास के आत्मघाती सबमरीन के संचालकों को निशाना बनाया है। IDF ने इस हमले का जो वीडियो जारी किया, उसमें देखा जा सकता है कि कार के ड्राइवर की तरफ एक मिसाइल आता है, जिससे कार की खड़कियाँ और दरवाजे तो तबाह हो जाते हैं लेकिन कार वहीं मौजूद रहती है।

ड्राइवर की मौत हो जाती है और मिसाइल आगे जाकर सड़क पर गिरती है। जिस सटीकता और कुशलता से ये हमला हुआ, वो छोटी मिसाइलों से ही संभव है। लीबिया, सीरिया और इलाक़ में अमेरिका भी R9X मिसाइलों का उपयोग करता रहा है, जो बल के साथ-साथ 6 ब्लेड्स का इस्तेमाल करती हैं। लोग पूछ रहे हैं कि इजरायल ने कहीं अमेरिका के साथ मिल कर इसका अपना वर्जन तो नहीं बना लिया? निंजा मिसाइल से गाड़ी पर किए जाने वाले हमलों में एक छेद भर बनता है लेकिन गाड़ी यूँ ही खड़ी रहती है।

6 ब्लेड्स वाले मिसाइलों से जब हमला किया जाता है तो ये छेद किसी तारे की आकृति का बनता है। ये छोटे से लक्ष्य को भेद कर दुश्मन को मार गिराता है। सामान्य रॉकेट जब गिरते हैं तो वहाँ ब्लास्ट होता है और आसपास की चीजें तबाह हो जाती हैं, लेकिन ‘निंजा मिसाइलों’ में ऐसा नहीं होता। हालाँकि, गाज़ा पट्टी वाले हमले में कार को कई अन्य जगह भी नुकसान होता दिखा है, लेकिन कार और उसका रंग फिर भी स्पष्ट दिख रहा है।

वहाँ पर दो अन्य गाड़ियाँ भी खड़ी थीं, जिन्हें थोड़ा नुकसान पहुँचा है। लेकिन, पारम्परिक मिसाइलों से अगर हमला किया जाता तो शायद तबाही का मंजर कहीं ज्यादा ही होता। एक विशेषज्ञ ने कहा कि मिसाइल के हमले में किसी एक व्यक्ति का मारा जाना, उस मिसाइल हमले के लक्ष्य को पहचानने की सूक्ष्मता को दिखाता है। हालाँकि, इजरायल के पास अमेरिका का R9X मौजूद नहीं है। लेकिन, जिस मिसाइल से हमला हुआ वो उसी तरह का कोई वर्जन है।

इजरायल ने ये तकनीक इसलिए भी विकसित की होगी क्योंकि गाज़ा पट्टी के आतंकी अक्सर महिलाओं और बच्चों के पीछे छिपने की कोशिश करते हैं। छोटी मिसाइलों में बम सामग्रियों की जगह 45 किलो का धातु प्रयोग में लाया जाता है, जो लक्ष्य को भेद देता है। इसके 6 ब्लेड्स लक्ष्य तक पहुँचने के एकदम पहले बाहर आते हैं। 2017 में सीरिया में अलकायदा के सरगना अबू खयर अल-मासरी को मारने में इसके पहली बार इस्तेमाल हुआ था।

इसके बाद से कई देशों में छोटे लक्ष्यों को भेदने के लिए अमेरिका ने इनका इस्तेमाल किया है। लीबिया, ईराक, यमन और सोमालिया के अलावा 2019 में अफगानिस्तान में भी इसका प्रयोग किया गया। मान लीजिए कुछ लोग साथ बैठ कर डिनर कर रहे हैं और उनमें से किसी एक को चिह्नित कर मार गिराना है, तो ये मिसाइल कारगर है। ये ड्राइवर को नुकसान पहुँचाए बिना गाड़ी में बैठे दुश्मन को ढेर कर सकता है।

अमेरिका के तत्कालीन राष्ट्रपति बराक ओबामा ने भी अलकायदा के सबसे बड़े सरगना ओसामा बिन लादेन को मार गिराने के लिए इन्हीं मिसाइलों का प्रयोग किया था, लेकिन बाद में सील कमांडो को भेजा गया। इजरायल का कहना है कि लगातार नौवें दिन उस पर रॉकेट्स फायर किए जा रहे हैं, ऐसे में वो जवाब देता रहेगा। इजरायल के पास मिसाइल हमलों से बचने के लिए ‘आयरन डोम‘ सिस्टम भी है। उसने कहा है कि वो लोगों की जान बचाने के लिए माफ़ी नहीं माँगेगा।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

न जॉब रही, न कार्टून बिक रहे… अब PM मोदी को कोस रहे: ट्विटर के मेल के सहारे वामपंथी मीडिया का प्रपंच

मंजुल के सहयोगी ने बताया कि मंजुल अपने इस गलत फैसले के लिए बाहरी कारणों को दोष दे रहे हैं और आशा है कि जो पब्लिसिटी उन्हें मिली है उससे अब वो ज्यादा पैसे कमा रहे होंगे।

UP के ‘ऑपरेशन’ क्लीन में अतीक गैंग की ₹46 करोड़ की संपत्ति कुर्क, 1 साल में ₹2000 करोड़ की अवैध प्रॉपर्टी पर हुई कार्रवाई

पिछले 1 हफ्ते में अतीक गैंग के सदस्यों की 46 करोड़ रुपए की संपत्ति कुर्क की गई और अब आगे 22 सदस्य ऐसे हैं जिनकी कुंडली प्रयागराज पुलिस लगातार खंगाल रही है।

कॉन्ग्रेस की सरकार आई तो अनुच्छेद-370 फिर से: दिग्विजय सिंह ने पाक पत्रकार को दिया संकेत, क्लब हाउस चैट लीक

दिग्विजय सिंह एक पाकिस्तानी पत्रकार से जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद-370 हटाए जाने के फैसले पर बोल रहे हैं। क्लब हाउस चैट का यह ऑडियो...

‘भाईजान’ के साथ निकाह से इनकार, बॉयफ्रेंड संग रहना चाहती थी समन अब्बास, अब खेत में दफन? – चचेरा भाई गिरफ्तार

तथाकथित ऑनर किलिंग में समन अब्बास के परिवार वालों ने उसकी गला घोंटकर हत्या कर दी और उसके शव को खेत में दफन कर दिया?

‘नुसरत जहां कलमा पढ़े और ईमान में दाखिल हो, नाजायज संबंध थी उसकी शादी’ – मौलाना कारी मुस्तफा

नुसरत ने जिससे शादी की, उसके धर्म के मुताबिक करनी थी या फिर उसे इस्लाम में दाखिल कराके विवाह करना चाहिए था। मौलाना कारी ने...

गुजरात का वह स्थान जहाँ भगवान श्रीकृष्ण ने मानव शरीर का किया था त्याग, एक बहेलिया ने मारा था उनके पैरों में बाण

भालका तीर्थ का वर्णन महाभारत, श्रीमदभागवत महापुराण, विष्णु पुराण और अन्य हिन्दू धर्म ग्रंथों में है। मंदिर में वह पीपल भी है, जिसके नीचे...

प्रचलित ख़बरें

सस्पेंड हुआ था सुशांत सिंह का ट्रोल अकाउंट, लिबरलों ने फिर से करवाया रिस्टोर: दूसरों के अकाउंट करवाते थे सस्पेंड

जो दूसरों के लिए गड्ढा खोदता है, वो उस गड्ढे में खुद गिरता है। सुशांत सिंह का ट्रोल अकाउंट @TeamSaath के साथ यही हुआ।

सुशांत ड्रग एडिक्ट था, सुसाइड से मोदी सरकार ने बॉलीवुड को ठिकाने लगाया: आतिश तासीर की नई स्क्रिप्ट, ‘खान’ के घटते स्टारडम पर भी...

बॉलीवुड के तीनों खान-सलमान, शाहरुख और आमिर के पतन के पीछे कौन? मोदी सरकार। लेख लिखकर बताया गया है।

‘तुम्हारी लड़कियों को फँसा कर रोज… ‘: ‘भीम आर्मी’ के कार्यकर्ता का ऑडियो वायरल, पंडितों-ठाकुरों को मारने का दावा

'भीम आर्मी' के दीपू कुमार ने कहा कि उसने कई ब्राह्मण और राजपूत लड़कियों का बलात्कार किया है और पंडितों और ठाकुरों को मौत के घाट उतारा है।

11 साल से रहमान से साथ रह रही थी गायब हुई लड़की, परिवार या आस-पड़ोस में किसी को भनक तक नहीं: केरल की घटना

रहमान ने कुछ ऐसा तिकड़म आजमाया कि सजीथा को पूरे 11 साल घर में भी रख लिया और परिवार या आस-पड़ोस तक में भी किसी को भनक तक न लगी।

नुसरत जहाँ की बेबी बंप की तस्वीर आई सामने, यश दासगुप्ता के साथ रोमांटिक फोटो भी वायरल

नुसरत जहाँ की एक तस्वीर सामने आई है, जिसमें उनकी बेबी बंप साफ दिख रहा है। उनके पति निखिल जैन पहले ही कह चुके हैं कि यह उनका बच्चा नहीं है।

‘भाईजान’ के साथ निकाह से इनकार, बॉयफ्रेंड संग रहना चाहती थी समन अब्बास, अब खेत में दफन? – चचेरा भाई गिरफ्तार

तथाकथित ऑनर किलिंग में समन अब्बास के परिवार वालों ने उसकी गला घोंटकर हत्या कर दी और उसके शव को खेत में दफन कर दिया?
- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
103,326FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe