Thursday, March 4, 2021

विषय

War

‘हम पूर्वजों का कब्र भी ले जा रहे, वे उसे भी नहीं छोड़ेंगे’: जानिए, खुद का ही घर क्यों फूँक रहे अर्मेनियाई

इस्लामी मुल्क अजरबैजान के डर से अर्मेनिया के लोग अपने घरों को जला रहे हैं। उनका कहना है कि वे अपनों के कब्र भी साथ ले जा रहे हैं।

युद्ध पिपासु शी जिनपिंग: इतनी जल्दी नहीं मानेगा हार, देश को रहना होगा कठिन दिनों के लिए तैयार

गलवान की खिसियाहट में शी जिंगपिंग अपनी सेना के कई अफसरों की बलि चढ़ा सकते हैं। झल्लाहट में वे सीमा पर बड़ा कारनामा करने की भी...

‘1962 से भी ज्यादा घातक हमला झेलेगी भारतीय सेना’ – चीनी मीडिया ने संपादकीय में दी गीदड़-भभकी

"यदि भारत शांति से रहना चाहता है तो चीन स्वागत करता है। यदि भारत प्रतिस्पर्धा चाहता है, तो चीन के पास भारत की तुलना में अधिक..."

विश्व की 15% जनसंख्या का समाप्त होना निश्चित: विनाश से सृजन का बीज है चीनी कोरोना वायरस

अगले 10 वर्षों में कोरोना वायरस के कारण राष्ट्रों के बीच टकराव एवं आर्थिक विभीषका के परिणामस्वरूप, विश्व की 15% जनसंख्या समाप्त होगी और...

अब शहीद और घायल जवानों के परिजनों को 4 गुना अधिक पैसे मिलेंगे

इससे पहले शहीद होने या 60 प्रतिशत से अधिक की अक्षमता होने पर 2 लाख रुपए की वित्तीय मदद का प्रावधान था। इसके साथ ही 60 फीसदी से कम अक्षमता वाले जवानों को एक लाख रुपए का वित्तीय मदद मिलती थी।

आज ही के दिन की थी आइंस्टीन ने एक पत्र लिखकर ऐसी गलती, जिसका उन्हें मौत तक अफ़सोस रहा

रूजवेल्ट को लिखे गए इस पत्र के 6 साल बाद 6 और 9 अगस्त, 1945 को अमेरिका ने हिरोशिमा और नागासाकी पर परमाणु बम गिराया था। इतिहास और आइंस्टीन दोनों को यह अफ़सोस हमेशा रहा कि इस महान त्रासदी की नींव पर कुछ Best Brains के भी हस्ताक्षर थे।

पाकिस्तानी F-16 लड़ाकू विमान को IAF ने मार गिराया, भारत की ओर गिरे बम से कोई नुकसान नहीं: रिपोर्ट्स

पुंछ और नौशेरा सेक्टर में भारतीय सीमा में पाकिस्तानी विमान घुसे और उन्होंने भागते समय हड़बड़ाहट में बम गिराए, जिसमें किसी भी भारतीय के हताहत होने की सूचना नहीं है।

राष्ट्रीय शक्ति का प्रतीक भारत का न्यूक्लियर ट्रायड

"जल थल और नभ से परमाणु हथियार दागने की क्षमता को हम न्यूक्लियर ट्रायड विकसित कर लेने की संज्ञा देते हैं।"

ताज़ा ख़बरें

प्रचलित ख़बरें

हमसे जुड़ें

292,284FansLike
81,900FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe