Wednesday, June 19, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीययहूदी की कंपनी में नौकरी, पत्नी के साथ मिल यहूदियों के खिलाफ ही फैला...

यहूदी की कंपनी में नौकरी, पत्नी के साथ मिल यहूदियों के खिलाफ ही फैला रहा था घृणा: हमास प्रेमी कुरुष मिस्त्री हुआ बेरोजगार

एक वायरल वीडियो में कुरुष मिस्त्री और शैलजा को न्यूयॉर्क में लगे उन लोगों के पोस्टर से छेड़छाड़ करते देखा गया था, जिन्हें 7 अक्टूबर के हमले में हमास ने अगवा कर लिया था। रोके जाने पर यहूदी व्यक्ति से बदतमीजी की थी।

इस्लामी आतंकी संगठन हमास से हमदर्दी रखने वाले भारतवंशी कुरुष मिस्त्री को नौकरी से निकाल दिया गया है। मिस्त्री अपनी पत्नी शैलजा गुप्ता के साथ मिलकर अमेरिका में यहूदियों के खिलाफ घृणा का प्रदर्शन कर रहा था।

एक वायरल वीडियो में कुरुष मिस्त्री और शैलजा को न्यूयॉर्क में लगे उन लोगों के पोस्टर से छेड़छाड़ करते देखा गया था, जिन्हें 7 अक्टूबर के हमले में हमास ने अगवा कर लिया था। इन पोस्टर पर ‘हमास द्वारा अपहृत'(Abducted by Hamas) लिखा हुआ था। ये लोग इनकी जगह ‘कब्ज़ा करने वाले परिणाम भोगते हैं’ (Occupiers Face Consequences) की पट्टियाँ चिपका रहे थे।

इस दौरान रोके जाने पर इन्होंने एक यहूदी व्यक्ति से बदतमीजी भी की थी। अब कुरुष मिस्त्री को अपनी नौकरी से हाथ धोना पड़ा है। वह ईंधन का व्यापार करने वाली कम्पनी फ्रीपॉइंट कमोडिटीज में काम करता था। इस कम्पनी के के सीईओ का नाम डेविड मेस्सेर है जो कि एक यहूदी हैं। कुरुष को कम्पनी से निकालने की जानकारी लिंक्डइन पर दी गई है।

कम्पनी ने लिंक्डइन पर लिखा है, “फ्रीपॉइंट आपसी सम्मान और सहिष्णुता की संस्कृति में विश्वास रखती है। हम अपने कर्मचारियों के अलग-अलग विचारों का सम्मान करते हैं, लेकिन फ्रीपॉइंट किसी भी समुदाय के खिलाफ घृणा भरी बातों को स्वीकार नहीं करेगी। हम हाल ही में सोशल मीडिया पर वायरल घटना से परिचित हैं और इस घटना में सम्मिलित व्यक्ति अब फ्रीपॉइंट से नहीं जुड़ा है।”

लिंक्डइन पर कंपनी द्वारा साझा की गई जानकारी

गौरतलब है कि इस्लामी आतंकी संगठन हमास ने 7 अक्टूबर 2023 को इजरायल पर हमला करके 1,400 इजरायलियों को मार दिया था और 200 से अधिक इजरायलियों का अपहरण कर लिया था। यह बंधक अभी तक नहीं छोड़े गए हैं।

वायरल वीडियो में पोस्टर से छेड़छाड़ कर रहे मिस्त्री और शैलजा ने एक यहूदी व्यक्ति को परेशान करते हुए गालियाँ दी थी। अभद्र इशारे करते हुए उसे अपने देश (इजरायल) वापस जाने को कहा था। शैलजा ने इस दौरान अपने आप को एक फिलिस्तीनी बताया था।

यह पूरी घटना पीड़ित यहूदी ने अपने फ़ोन में रिकॉर्ड कर ली। इसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। वीडियो वायरल होने के बाद शैलजा और कुरुष की पहचान हुई थी। यह भी सामने आया कि शैलजा शाहरुख खान के साथ भी काम कर चुकी हैं। कुरुष के बारे में यह सामने आया था कि वह आईआईएम अहमदाबाद का पढ़ा हुआ है और मॉर्गन स्टैनले जैसी कम्पनियों में काम कर चुका है।

इस मामले में न्यूयॉर्क पुलिस ने क्या कार्रवाई की है, यह सामने नहीं आया है। न्यूयॉर्क पुलिस ने कोई आधिकारिक बयान भी इस मामले में जारी नहीं किया है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

किताब से बहती नदी, शरीर से उड़ते फूल और खून बना दूध… नालंदा की तबाही का दोष हिन्दुओं को देने वाले वामपंथी इतिहासकारों का...

बख्तियार खिजली को क्लीन-चिट देने के लिए और बौद्धों को सनातन से अलग दिखाने के लिए वामपंथी इतिहासकारों ने नालंदा विश्वविद्यालय को तबाह किए जाने का दोष हिन्दुओं पर ही मढ़ दिया। इसके लिए उन्होंने तिब्बत की एक किताब का सहारा लिया, जो इस घटना के 500 साल बाद लिखी गई थी और जिसमें चमत्कार भरे पड़े थे।

कनाडा का आतंकी प्रेम देख भारत ने याद दिलाया कनिष्क ब्लास्ट, 23 जून को पीड़ितों को दी जाएगी श्रद्धांजलि: जानिए कैसे गई थी 329...

भारत ने एयर इंडिया के विमान कनिष्क को बम से उड़ाने की बरसी याद दिलाते हुए कनाडा में वर्षों से पल रहे आतंकवाद को निशाने पर लिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -