Sunday, July 14, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीय10 सुरक्षाबलों का हत्यारा आतंकी हंजला अदनान कराची में खल्लास: 'अज्ञात बंदूकधारियों' ने चलाई...

10 सुरक्षाबलों का हत्यारा आतंकी हंजला अदनान कराची में खल्लास: ‘अज्ञात बंदूकधारियों’ ने चलाई गोली, पाकिस्तानी सेना करवा रही थी इलाज

लश्कर-ए-तैयबा के आतंकी और जम्मू कश्मीर में 2015 और 2016 के दौरान 10 सुरक्षा बलों की हत्या करवाने वाले हंज़ला अदनान की पाकिस्तान के शहर कराची में अज्ञात बंदूकधारियों ने हत्या कर दी है। गोली लगने के बाद पाकिस्तानी सेना इसे अस्पताल ले गई थी।

लश्कर-ए-तैयबा का आतंकी हंजला अदनान (Hanzla Adnan) मारा गया है। हंजला अदनान ने जम्मू कश्मीर में 2015 और 2016 के दौरान सुरक्षा बलों के काफिलों पर हमला करवाया था। इनमें 10 सुरक्षाबल बलिदान हुए थे। हंज़ला की हत्या पाकिस्तान के शहर कराची में अज्ञात बंदूकधारियों ने कर दी। वह लश्कर के सरगना हाफिज सईद का ख़ास था।

इंडिया टुडे की एक रिपोर्ट के अनुसार, कराची में 2 और 3 दिसम्बर 2023 की रात को हंज़ला अदनान को उसके घर के बाहर अज्ञात बंदूकधारियों ने मार दिया। आश्चर्य की बात यह कि इसके बाद इस आतंकी को पाकिस्तानी सेना अस्पताल ले गई, जहाँ उसकी मौत हो गई। इस हमले में उसे चार गोलियाँ लगी थीं। इलाज के दौरान 5 दिसम्बर 2023 को हंजला की मौत हो गई।

हंज़ला अदनान हाफिज सईद के साथ ही उसके दामाद खालिद वलीद के लिए काम करता था। 5 अगस्त 2015 को इसी हंजला के आदेश पर दो आतंकियों ने साथ मिल कर जम्मू श्रीनगर हाइवे पर सीमा सुरक्षा बल के एक काफिले पर हमला कर दिया था। इस हमले में 2 BSF जवानों की मौत हो गई थी जबकि 10 जवान घायल हो गए थे।

इस हमले में जवानों ने जवाबी कार्रवाई में एक आतंकी को मार गिराया था जबकी दूसरे को जिंदा पकड़ लिया गया था। इससे पूछताछ में यह जानकारी सामने आई थी कि यह दोनों ही आंतकी पाकिस्तान से भारत में घुसपैठ करके आए थे। हंज़ला अदनान इन आतंकियों का हैंडलर था, जो पाकिस्तान में बैठ कर इन हमलों की साजिश रच रहा था।

इसके बाद हंज़ला अदनान ने इसके बाद 25 जून 2016 को कश्मीर के पंपोर इलाके में एक CRPF के काफिले पर हमला करवाया था। इस हमले में 8 CRPF जवानों की मौत हुई थी। हमले में बड़ी संख्या में जवान घायल भी हुए थे।

CRPF के ये जवान पास की एक फायरिंग रेंज से प्रैक्टिस करके वापस लौट रहे थे, तब लश्कर के तीन आतंकियों ने इन पर हमला कर दिया था। इस हमले की जवाबी कार्रवाई में दो आतंकी मौके पर मार गिराए गए थे, जबकि एक हमलावर फरार होने में सफल रहा था। यह तीनों आतंकी पाकिस्तानी बताए गए थे।

यह भी बताया गया था कि कश्मीर में नया बना आतंकी संगठन द रेजिस्टेंस फ्रंट की जिम्मेदारी भी यही हंज़ला ही सम्भाल रहा था। यह उत्तरी कश्मीर में इस आतंकी समूह की गतिविधियों को हैंडल करता था। यहाँ नए आतंकी भेजने और हमले करवाने की जिम्मेदारी पाकिस्तान ने इसे दी थी।

बताते चलें कि इससे पहले इसी सप्ताह में 26/11 के मुंबई हमलों के साजिशकर्ता साजिद मीर के खाने में जहर मिलाकर उसे खिला दिया गया था। इस काम को भी किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा किया गया बताया गया। जानकारी के अनुसार, साजिद अब वेंटीलेटर पर है।

अज्ञात बन्दूकधारियों ने बीते दिनों पाकिस्तान के भीतर ऐसे कई आतंकियों को मारा है, जो भारत में हमले कराने के दोषी रहे हैं। मार्च 2022 से लेकर अक्टूबर 2023 के बीच ऐसे कम से कम 15 आतंकियों की हत्या अज्ञात बंदूकधारियों ने की है। इनमें खालिस्तानी आतंकी परमजीत पंजवार और एअर इंडिया विमान का अपहरण करने वाले आतंकी ज़हर मिस्त्री जैसे नाम शामिल हैं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बैकफुट पर आने की जरूरत नहीं, 2027 भी जीतेंगे’: लोकसभा चुनावों के बाद हुई पार्टी की पहली बैठक में CM योगी ने भरा जोश,...

लोकसभा चुनावों के बाद पहली बार भाजपा प्रदेश कार्यसमिति की लखनऊ में आयोजित बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कार्यकर्ताओं में जोश भरा।

जिसने चलाई डोनाल्ड ट्रंप पर गोली, उसने दिया था बाइडेन की पार्टी को चंदा: FBI लगा रही उसके मकसद का पता

पेंसिल्वेनिया के मतदाता डेटाबेस के मुताबिक, डोनाल्ड ट्रंप पर हमला करने वाला थॉमस मैथ्यू क्रूक्स रिपब्लिकन के मतदाता के रूप में पंजीकृत था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -