Friday, June 21, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयमेक्सिको में भी विराजे प्रभु श्रीराम, खुला पहला मंदिर: अमेरिकी पुजारियों ने कराई प्राण-प्रतिष्ठा,...

मेक्सिको में भी विराजे प्रभु श्रीराम, खुला पहला मंदिर: अमेरिकी पुजारियों ने कराई प्राण-प्रतिष्ठा, भारत से गई मूर्ति की होगी पूजा

अयोध्या में राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह से ठीक पहले 21 जनवरी 2024 को मेक्सिको को अपना पहला भगवान राम का मंदिर मिल गया। मंदिर को आधिकारिक तौर पर अमेरिकी पुजारियों ने 'प्राण प्रतिष्ठा' समारोह के बाद खोला। इस मंदिर में रखी गई मूर्तियों को भारत से मँगाया गया है।

अयोध्या में राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह से ठीक पहले रविवार (21 जनवरी 2024) को मेक्सिको को अपना पहला भगवान राम का मंदिर मिल गया। मंदिर को आधिकारिक तौर पर अमेरिकी पुजारियों ने ‘प्राण प्रतिष्ठा’ समारोह के बाद खोला। इस मंदिर में रखी गई मूर्तियों को भारत से मँगाया गया है।

मेक्सिको के भीतर ये राम मंदिर क्वेरेटारो शहर में खुला है। भारतीय प्रवासियों द्वारा गाए गए भजनों और गीतों के बीच आयोजित भगवान का अभिषेक समारोह, मैक्सिकन मेजबानों के साथ एक अमेरिकी पुजारी द्वारा किया गया, बाद में मंदिर का उद्घाटन किया गया और इसके द्वारा को भक्तों के लिए खोल दिया गया।

भारतीय दूतावास ने दी जानकारी

मेक्सिको स्थित भारतीय दूतावास ने इस बात की जानकारी दी। इस पोस्ट में लिखा, “अयोध्या में ‘प्राण प्रतिष्ठा’ समारोह की पूर्व संध्या पर, मेक्सिको के क्वेरेटारो शहर को पहला भगवान राम मंदिर मिला। मेक्सिको में हनुमान जी का पहला मंदिर भी क्वेरेटारो में ही स्थित है। ‘प्राण प्रतिष्ठा’ समारोह एक अमेरिकी पुजारी द्वारा मैक्सिकन मेजबानों और भारत से लाई गई मूर्तियों के साथ किया गया था। पूरे हॉल में प्रवासी भारतीयों द्वारा गाए गए भजनों और गीतों की गूँज से वातावरण दिव्य ऊर्जा से भर गया।”

अयोध्या में आए राम

बता दें कि सोमवार (22 जनवरी 2024) को अयोध्या में भगवान राम के भव्य मंदिर में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा की गई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ, राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत की उपस्थिति में यह अनुष्ठान पूरा हुआ। इस मौके पर खुद को धन्य बताते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राम मंदिर को भारतीय चेतना का मंदिर बताया।

अयोध्या में पीएम मोदी ने कहा, “हमारे राम आ गए। सदियों की प्रतीक्षा के बाद हमारे राम आ गए। सदियों के त्याग और तपस्या के बाद हमारे प्रभु राम आ गए हैं।” वहीं, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आज आत्मा इस बात से प्रफुल्लित है कि मंदिर वहीं बना है, जहाँ बनाने का संकल्प लिया था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आज भी ‘रलिव, गलिव, चलिव’ ही कश्मीर का सत्य, आखिर कब थमेगा हिन्दुओं को निशाना बनाने का सिलसिला: जानिए हाल के वर्षों में कब...

जम्मू कश्मीर में इस्लाम के नाम पर लगातार हिन्दू प्रताड़ना जारी है। 2024 में ही जिहाद के नाम पर 13 हिन्दुओं की हत्याएँ की जा चुकी हैं।

CM केजरीवाल ने माँगे थे ₹100 करोड़, हमने ₹45 करोड़ का पता लगाया: ED ने दिल्ली हाई कोर्ट को बताया, कहा- निचली अदालत के...

दिल्ली हाई कोर्ट ने मुख्यमंत्री और AAP मुखिया अरविन्द केजरीवाल की नियमित जमानत पर अंतरिम तौर पर रोक लगा दी है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -