Saturday, June 22, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयपाकिस्तान: इमरान खान पर मंडराया कोरोना संक्रमण का खतरा, चेक देने वाला निकला पॉजिटिव

पाकिस्तान: इमरान खान पर मंडराया कोरोना संक्रमण का खतरा, चेक देने वाला निकला पॉजिटिव

मुलाकात के दौरान इमरान ने फैसल एधी को पहचाना नहीं था। जब लोग उनसे मिलकर लौटने लगे तो एक व्यक्ति ने इमरान से कहा कि यह फैसल एधी हैं। इसके बाद इमरान ने दरवाजे के पास खड़े होकर फैसल से कुछ देर तक बात की थी।

इन दिनों पाकिस्तान कोरोना महामारी के साथ कुछ कट्टरपंथियों की मनमानी से जूझ रहा है। इस बीच अब खुद पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान पर कोरोना का खतरा मँडराने लगा है। दरअसल, पिछले दिनों पाक पीएम को मोटी रकम का चेक सौंपने वाले एक युवक को कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। पाक पीएम ने उक्त व्यक्ति के हाथों से अपने हाथ चेक लिया था।

पीएम इमरान खान से मुलाकात करने वाले शख्स के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद से ही पूरे पाकिस्तान में हड़कंप मच गया है। एक तरफ तो पीड़ित सहित उसके पूरे परिवार को क्वारंटाइन कर दिया गया है तो वहीं अब पीएम इमरान खान डॉक्टरी सलाह लेते घूम रहे हैं। एधी की रिपोर्ट आने के बाद पाकिस्तानी हुक्कमरानों में खलबली मची हुई है और वो चाह रहे हैं कि इमरान खुद को जल्द से जल्द क्वारंटीन कर लें।

पाकिस्तानी अखबार डॉन न्यूज ने भी फैसल एधी के बेटे साद एधी के हवाले से बताया कि प्रधानमंत्री से मुलाकात के बाद घर लौटने पर फैसल एधी की तबियत ठीक नहीं रही। प्रधानमंत्री से मुलाकात के बाद घर लौटने पर ही उनमें कुछ लक्षण दिखाई देने लगे थे। हालाँकि, तीन से चार दिन के बाद यह लक्षण कम होने लगे। इस बीच, कोरोना जाँच के लिए नमूना भेजा गया तो मंगलवार को आई रिपोर्ट में उनको कोरोना पॉजिटिव पाया गया।

वहीं बताया गया कि मुलाकात के दौरान इमरान ने फैसल एधी को पहचाना नहीं था। जब लोग उनसे मिलकर लौटने लगे तो एक व्यक्ति ने इमरान से कहा कि यह फैसल एधी हैं। इसके बाद इमरान ने दरवाजे के पास खड़े होकर फैसल से कुछ देर तक बात की थी।

खबर के मुताबिक सामाजिक कार्यकर्ता फैसल एधी ने पिछले हफ्ते 15 अप्रैल को प्रधानमंत्री इमरान खान से मुलाकात कर कोरोना वायरस राहत कोष के लिए एक करोड़ रुपये का चेक सौंपा था। दरअसल फैसल एधी एदी फाउंडेशन के चेयरमैन और मशहूर सामाजिक कार्यकर्ता अब्दुल सत्तार के पुत्र हैं। इस फाउंडेशन की स्थापना दिवंगत अब्दुल सत्तार एधी ने ही की थी और यह प्रमुख परमार्थ संगठन है।

गौरतलब है कि एधी फाउंडेशन पाकिस्तान में एंबुलेंस सेवा का एक बड़ा नेटवर्क ऑपरेट करता है। बता दें कि पाकिस्तान में कोरोना वायरस संक्रमितों का आँकड़ा साढ़े नौ हजार से ज्यादा पहुँच चुकी है और करीब दो सौ लोगों की मौत हो चुकी है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आज भी ‘रलिव, गलिव, चलिव’ ही कश्मीर का सत्य, आखिर कब थमेगा हिन्दुओं को निशाना बनाने का सिलसिला: जानिए हाल के वर्षों में कब...

जम्मू कश्मीर में इस्लाम के नाम पर लगातार हिन्दू प्रताड़ना जारी है। 2024 में ही जिहाद के नाम पर 13 हिन्दुओं की हत्याएँ की जा चुकी हैं।

CM केजरीवाल ने माँगे थे ₹100 करोड़, हमने ₹45 करोड़ का पता लगाया: ED ने दिल्ली हाई कोर्ट को बताया, कहा- निचली अदालत के...

दिल्ली हाई कोर्ट ने मुख्यमंत्री और AAP मुखिया अरविन्द केजरीवाल की नियमित जमानत पर अंतरिम तौर पर रोक लगा दी है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -