Wednesday, May 18, 2022
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयपाकिस्तान ने चीन की मदद से लॉन्च की स्वदेशी कोरोना वैक्सीन PakVac, मंत्री ने...

पाकिस्तान ने चीन की मदद से लॉन्च की स्वदेशी कोरोना वैक्सीन PakVac, मंत्री ने कहा – हमारे मुल्क के लोगों को चीन पर भरोसा

पाकिस्तान के 'नैशनल कमांड एंड ऑपरेशन्स सेंटर (NCOC)' के मुखिया असद उमर ने कहा कि दुनिया भर में वैक्सीन की माँग काफी ज्यादा है, लेकिन पाकिस्तान में लोग चीन में बनी वैक्सीन को तवज्जोह दे रहे हैं।

पाकिस्तान ने कोरोना वायरस महामारी से निपटने के लिए PakVac नामक स्वदेशी वैक्सीन के निर्माण का दावा किया है। पड़ोसी मुल्क को उम्मीद है कि उससे देश भर में टीकाकरण को तेज करने में मदद मिलेगी। पाकिस्तानी वैक्सीन PakVac को बनाने में चीन ने उसकी मदद की है। पाकिस्तान ने मंगलवार (जून 1, 2021) को इसकी घोषणा की। स्पेशल असिस्टेंट हेल्थ डॉक्टर फैसल सुल्तान ने कहा कि पाकिस्तान कठिन चुनौतियों को पार करने में लगा हुआ है।

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान ने ‘दोस्तों’ की मदद से उन कठिन चुनौतियों को मौके में बदलने की कोशिश की है। उन्होंने लॉन्च समारोह में कहा कि इस वैक्सीन के लिए कच्चा माल भले ही चीन से आया, लेकिन फिर भी इसका निर्माण और उत्पादन एक दुष्कर कार्य था। डॉक्टर सुल्तान ने अपने देश के लोगों को आश्वासन दिया है कि आने वाले दिनों में वैक्सीन का बड़े स्तर पर उत्पादन शुरू होने जा रहा है।

पाकिस्तान के ‘नैशनल कमांड एंड ऑपरेशन्स सेंटर (NCOC)’ के मुखिया और वहाँ के प्लानिंग मंत्री असद उमर ने कहा कि वैक्सीन लॉन्च होने के कारण ये पाकिस्तान के लिए बड़ा ही महत्वपूर्ण दिन है। उन्होंने इसे ‘बड़ी क्रांति’ करार दिया। उन्होंने कहा कि दुनिया भर में वैक्सीन की माँग काफी ज्यादा है, लेकिन पाकिस्तान में लोग चीन में बनी वैक्सीन को तवज्जोह दे रहे हैं। उक्त वैक्सीन को पाकिस्तान से कंसन्ट्रेटेड रूप में लाकर इस्लामाबाद के ‘नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ हेल्थ (NIH)’ में रखा गया है।

पाकिस्तान में सबसे पहले चीन की CanSino वैक्सीन को मान्यता दी गई थी। पाकिस्तान ने दिसंबर 2021 के अंत तक 70% नागरिकों के टीकाकरण का लक्ष्य रखा है। पिछले 24 घंटों में वहाँ कोरोना संक्रमण के 1771 मामले सामने आए हैं। वहाँ पिछले 3 महीनों में पहली बार पॉजिटिविटी रेट 4% से कम हुआ है। पाकिस्तान के स्वास्थ्य मंत्रालय के आँकड़ों की मानें तो अब तक वहाँ कोरोना के 922,824 मामले सामने आए हैं।

साथ ही 20,930 लोगों ने पाकिस्तान में अब तक कोरोना के कारण जान गँवाई है। पाकिस्तान की सरकार का कहना है कि उसका टीकाकरण अभियान भी अच्छा चल रहा है, जिसके तहत अब तक 73 लाख वैक्सीन लगाई जा चुकी है। कुल 53 लाख लोगों को वैक्सीन दी गई है, जिसमें से 20 लाख लोगों ने दोनों डोज ले लिए हैं। अब चीन की कंपनी CanSino Bio की मदद से PakVac वैक्सीन का निर्माण किया गया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मंदिर तोड़ा, खजाना लूटा पर हिला नहीं सके शिवलिंग: औरंगजेब के दरबारी लेखक ने भी कबूला था, शिव महापुराण में छिपा है इसका राज़

मंदिर के तोड़े जाने का एक महत्वपूर्ण प्रमाण 'मा-असीर-ए-आलमगीरी’ नाम की पुस्तक भी है। यह पुस्तक औरंगज़ेब के दरबारी लेखक सकी मुस्तईद ख़ान ने 1710 में लिखी थी।

हनुमान चालीसा के टुकड़े-टुकड़े किए, फिर जला कर फेंक दिया: पंजाब में बेअदबी की घटना, AAP सरकार निशाने पर

पंजाब में हनुमान चालीसा की बेअदबी का मामला। बठिंडा जिले हनुमान चालीसा के जले हुए पन्ने मिलने के बाद से हिन्दू संगठनों में काफी आक्रोश है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
186,629FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe