Monday, April 22, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीय'F**k योरसेल्फ': हमले से पहले चेतावनी पर यूक्रेनी सैनिकों ने ललकारा, रूस ने 13...

‘F**k योरसेल्फ’: हमले से पहले चेतावनी पर यूक्रेनी सैनिकों ने ललकारा, रूस ने 13 को उड़ाकर किया आइलैंड पर कब्जा: सामने आया वीडियो

स्नेक आइलैंड यूक्रेन के दक्षिण में काला सागर में स्थित है और इसे Zmiinyi Island के नाम से भी पहचाना जाता है। हमले से पहले चेतावनी देते हुए रूसी सैनिकों ने कहा कि यह रूस का युद्धपोत है और आप लोग अपने हथियार रखकर आत्मसमर्पण कर दें, ताकि किसी भी तरह का रक्तपात न हो।

रूस और यूक्रेन के बीच युद्ध (Russia Ukraine War) के दूसरे दिन शुक्रवार (25 फरवरी) को यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोडमिर जेलेंसकी ने बंकर में शरण ले ही है। रूस के सरकारी चैनल रशिया टुडे का दावा है कि कीव के नजदीक रूसी सेना के पहुँचते ही राष्ट्रपति को बंकर में ले जाया गया। वहीं, रूस विरोधी हैकरों ने रूस की कई सरकारी वेबसाइट को निशाना बनाया है।

खबर यह है कि अमेरिका ने यूक्रेन के सीमा के निकट रोमानिया में अपने F35 फाइटर जेट को तैनात कर दिया है। हालाँकि, गुरुवार (24 फरवरी) को ही अमेरिकी राष्ट्रपति ने स्पष्ट कर दिया कि यूक्रेन की सेना की मदद के लिए वह अमेरिकी सेना को नहीं भेजेंगे। उधर इटली ने यूक्रेन का समर्थन किया है और कहा कि नाटो की ताकत को बढ़ाने के लिए वह अपने सैनिक भेजने को तैयार है।

वहीं, रूस के विदेश के मंत्री सर्गेई लावरोव ने एक बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि अगर यूक्रेन के सैनिक युद्ध करना बंद कर दे तो रूस यूक्रेन के साथ बातचीत करने के लिए तैयार है। हालाँकि, रूस सरेंडर करने के कतई तैयार नहीं दिख रहा है। उसके सैनिक भी बहादुरी के साथ मुकाबला कर रहे हैं। इसका एक वीडियो सामने आया है, जिसमें रूस के चेतावनी के बावजूद यूक्रेन के सैनिक पीछे नहीं हटे और रूस का निशाना बनकर शहीद हो गए।

सोशल मीडिया वीडियो में दिख रहा है कि चेतावनी के बाद 13 यूक्रेनी सैनिकों ने रूसी सेना को ललकारते हुए कहा कि ‘भांड़ में जाओ’ और अपने हथियार डालने से इनकार करते हुए मारे गए। आत्मसमर्पण करने पर रूस के युद्धपोत से इन पर हमला किया गया और स्नेक आइलैंड के रूप में भी पहचाने जाने वाले द्वीप पर तैनात इन यूक्रेनी सैनिकों की मौत हो गई। इस हमले के बाद रूस ने स्नेक आइलैंड को भी अपने कब्जे में ले लिया है।

स्नेक आइलैंड यूक्रेन के दक्षिण में काला सागर में स्थित है और इसे Zmiinyi Island के नाम से भी पहचाना जाता है। हमले से पहले चेतावनी देते हुए रूसी सैनिकों ने कहा कि यह रूस का युद्धपोत है और आप लोग अपने हथियार रखकर आत्मसमर्पण कर दें, ताकि किसी भी तरह का रक्तपात न हो। रूसी सैनिकों ने चेतावनी दी कि अगर ऐसा नहीं किया गया तो बम बरसाए जाएँगे। इसके जवाब में यूक्रेनी सैनिकों ने सरेंडर करने से साफ मना कर दिया और रूसी अधिकारियों को कहा, Go F**k Yourself (जाओ अपनी….)।

बताया जा रहा है कि इस हमले के बाद रूस ने अपने युद्धपोत को Moskva और Vasily Bykov आईलैंड की तरफ भेजा है। इस घटना के बाद यूक्रेन ने इन 13 सैनिकों को ‘Hero of Ukraine’ सम्मान से सम्मानित किया है। यूक्रेन के विदेश मंत्रालय ने ट्वीट किया, “रूस ने यूक्रेन के Zmiinyi (Snake) आईलैंड पर कब्जा कर 13 बॉर्डर गार्ड्स को मार दिया है। उन्होंने सरेंडर करने से मना कर दिया था। उनको ‘Hero of Ukraine’ सम्मान से सम्मानित किया जाता है।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘मुस्लिमों के लिए आरक्षण माँग रही हैं माधवी लता’: News24 ने चलाई खबर, BJP प्रत्याशी ने खोली पोल तो डिलीट कर माँगी माफ़ी

"अरब, सैयद और शिया मुस्लिमों को आरक्षण का लाभ नहीं मिलता है। हम तो सभी मुस्लिमों के लिए रिजर्वेशन माँग रहे हैं।" - माधवी लता का बयान फर्जी, News24 ने डिलीट की फेक खबर।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe