Tuesday, December 7, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयपोप फ्रांसिस ने 'गॉड' से की बात: कोरोना वायरस से इटली में फैली महामारी...

पोप फ्रांसिस ने ‘गॉड’ से की बात: कोरोना वायरस से इटली में फैली महामारी को ‘अपने हाथों से’ रोकने के लिए कहा

पोप फ्रांसिस ने कहा कि उन्होंने भगवान से 'अपने हाथों से' इटली में महामारी को रोकने के लिए कहा है। पोप ने कहा था कि 'मैं हर किसी से उन लोगों के करीब रहने के लिए कहता हूँ जिन्होंने इस आपदा में अपनों को खो दिया है। हर संभव किसी भी तरीके से उनके करीब हो।

चीन के बुहान शहर से शुरू हुए कोरोना वायरस का कहर इन दिनों चीन के बाद सबसे अधिक इटली में फैला हुआ है। इस पर पोप फ्रांसिस ने कहा है कि ऐसे समय में लोगों को परिवार के साथ जुड़ने के लिए संगरोध में समय का उपयोग करना चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि मैंने गॉड से कोरोनो वायरस को अपने हाथ से रोकने के लिए कहा था। उन्होंने यह भी कहा कि कोरोना वायरस क्या है, इसके लक्षण क्या हैं इसे लेकर आपको डॉक्टरी सलाह लेनी चाहिए। वहीं कोरोना वायरस के प्रकोप से जूझ रहे इटली में मंगलवार तक वायरस के 27,980 मरीज सामने आ चुके हैं और इसकी चपेट में आने से अब तक अकेले इटली में 2,503 मौतें हो चुकी हैं।

वहीं पोप फ्रांसिस पिछले कुछ दिनों से अपना समय वेटिकन में बिता रहे हैं, हालांकि उन्होंने इटालियन राजधानी में दो चर्चों में बीमारी के पीड़ितों के लिए प्रार्थना करने के लिए रविवार दोपहर को देश के राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन को खारिज कर दिया। पोप फ्रांसिस बुधवार को वेटिकन में एपोस्टोलिक महल की एक लाइब्रेरी में आयोजित एक कार्यक्रम में लोगों को संबोधित कर रहे थे। इसके बाद डेली मेल की खबर के मुताबिक पोप ने बुधवार को दैनिक इतालवी प्रकाशन ला रिपब्लिका से बात करते हुए पोप फ्रांसिस ने कहा कि उन्होंने गॉड से ‘अपने हाथों से’ इटली में महामारी को रोकने के लिए कहा है।

दरअसल, इटालियन सरकार ने कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए घोषणा की थी कि सार्वजनिक रूप से रहते हुए एक मीटर की दूरी बनाए रखें। इससे पहले कोरोना वायरस संकट में अपनों को खो चुके लोगों को संबोधित करते हुए, पोप ने कहा था कि ‘मैं हर किसी से उन लोगों के करीब रहने के लिए कहता हूँ जिन्होंने इस आपदा में अपनों को खो दिया है। हर संभव किसी भी तरीके से उनके करीब हो।

आपको बता दें कि पोप खुद पिछले महीने से ठंड से पीड़ित हैं। इसके बाद भी उन्होंने इतालवी सरकार द्वारा घर के अंदर रहने की सलाह को टाला और रविवार को रोम की सुनसान गलियों से वायरस के अंत की प्रार्थना करने के लिए चर्च की ओर चले गए। वेटिकन के प्रवक्ता माटेओ ब्रूनी ने कहा कि अपनी सुरक्षा बढ़ाने पर भड़के 83 वर्षीय पोप, जोकि खुद ठंड से पीड़ित हैं उन्होंने सड़कों पर चलने का फैसला किया ‘जैसे कि वह एक तीर्थयात्रा पर निकले हों।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

फेसबुक से रोहिंग्या मुस्लिमों ने माँगे ₹11 लाख करोड़, ‘म्यांमार में नरसंहार’ के लिए कंपनी पर ठोका केस

UK और अमेरिका में रह रहे रोहिंग्या शरणार्थियों ने हेट स्पीच फैलाने का आरोप लगाकर फेसबुक के ख़िलाफ़ ये केस किया है।

600 एकड़ में खाद कारखाना, 750 बेड्स वाला AIIMS: गोरखपुर को PM मोदी की ₹10,000 Cr की सौगात, हर साल 12.7 लाख मीट्रिक टन...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गोरखपुर को AIIMS और खाद कारखाना समेत ₹10,000 करोड़ के परियोजनाओं की सौगात दी। सीए योगी ने भेंट की गणेश प्रतिमा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
142,120FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe