Tuesday, October 19, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयमारा गया अलकायदा का डेप्युटी लीडर कासिम अल-रिमी: जिस इस्लामी देश में छिपा था,...

मारा गया अलकायदा का डेप्युटी लीडर कासिम अल-रिमी: जिस इस्लामी देश में छिपा था, वहीं मार गिराया

अमेरिका ने यमन में आतंकवाद विरोधी अभियान के दौरान AQAP (अल-कायदा इन अरब पेनिनसुला) के संस्थापक और अल-कायदा के दूसरे नंबर के नेता कासिम अल-रिमी को यमन में मार गिराया। कासिम अल-रिमी के साथ ही...

अमेरिका ने यमन में आतंकवाद विरोधी अभियान के दौरान AQAP (अल-कायदा इन अरब पेनिनसुला) के संस्थापक और अल-कायदा के दूसरे नंबर के नेता कासिम अल-रिमी को यमन में मार गिराया। कासिम अल-रिमी के साथ ही इस अमेरिकी हमले में अल-कायदा नेता अयमान अल-जवाहिरी भी मारा गया।

स्वयं अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कासिम अल-रिमी को ढेर किए जाने का दावा किया है। कासिम अल-रिमी को अलकायदा ने अरब देशों में आतंक की कमान संभालने की जिम्मेदारी दे रखी थी। उसे आतंकी सरगना अयमान-अल जवाहिरी के बाद अलकायदा में दूसरे नंबर पर माना जाता था।

अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने एक बयान में कहा, “रिमी के नेतृत्व में ‘अल-कायदा इन अरब पेनिनसुला’ (एक्यूएपी) ने यमन में नागरिकों के खिलाफ अनुचित हिंसा की, अमेरिका और हमारी सेना के खिलाफ कई हमलों को अंजाम दिया।” अपने बयान में ट्रंप ने आगे कहा, “उसकी मौत से एक्यूएपी और कमजोर होगा, साथ ही विश्व स्तर पर अल कायदा भी कमजोर पड़ेगा। यह हमें हमारी राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरे में डालने वाले ऐसे संगठनों का अंत करने के हमारे लक्ष्य के और करीब लाता है।”

ट्रंप ने कहा है कि उनके निर्देश पर अमेरिकी ने आतंक रोधी ऑपरेशन को अंजाम दिया है। ज्ञात हो कि कासिम अल-रिमी ने ही पिछले साल अमेरिका के फ्लोरिडा स्थित पेंसकोला नौसैनिक बेस पर एक सऊदी ट्रेनी ने फायरिंग कर तीन अमेरिकी नौसैनिकों की हत्या कर दी थी। ट्रंप ने बयान में कहा रिमी की मौत के बाद अमेरिका और उसके सहयोगी अब और ज्यादा सुरक्षित हैं।

अलकायदा प्रमुख अयमान अल जवाहिरी के सहयोगी कासिम अल-रिमी (46) को 2015 में अमेरिका के सर्वाधिक वांछित आतंकवादियों की सूची में शामिल किया था। अमेरिका ने रिमी की सूचना देने वाले को एक करोड़ डॉलर का पुरस्कार देने की घोषणा की थी।

अमेरिका एक्यूएपी को ओसामा बिन लादेन द्वारा स्थापित अल कायदा की सबसे खूंखार शाखाओं में से एक मानता आया है। यमन में ऐसी रिपोर्ट्स हैं कि मरिब इलाके में रिमी ड्रोन हमले में मारा गया है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘सहिष्णुता और शांति का स्तर ऊँचा कीजिए’: हिंदी को राष्ट्रभाषा बताने पर जिस कर्मचारी को Zomato ने निकाला था, उसे CEO ने फिर बहाल...

रेस्टॉरेंट एग्रीगेटर और फ़ूड डिलीवरी कंपनी Zomato के CEO दीपिंदर गोयल ने उस कर्मचारी को फिर से बहाल कर दिया है, जिसे कंपनी ने हिंदी को राष्ट्रभाषा बताने पर निकाल दिया था।

बांग्लादेश के हमलावर मुस्लिम हुए ‘अराजक तत्व’, हिंदुओं का प्रदर्शन ‘मुस्लिम रक्षा कवच’: कट्टरपंथियों के बचाव में प्रशांत भूषण

बांग्लादेश में हिंदू समुदाय के नरसंहार पर चुप्पी साधे रखने के कुछ दिनों बाद, अब प्रशांत भूषण ने हमलों को अंजाम देने वाले मुस्लिमों की भूमिका को नजरअंदाज करते हुए पूरे मामले में ही लीपापोती करने उतर आए हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,963FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe