Monday, July 26, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीय627 मौत इटली में सिर्फ एक दिन में, कोरोना से लड़ने के लिए भारत...

627 मौत इटली में सिर्फ एक दिन में, कोरोना से लड़ने के लिए भारत द्वारा उठाए गए कदम की US ने की प्रशंसा

कोरोना वायरस का कहर पूरे विश्व में जारी है। हर देश इसकी रोकथाम के लिए अपने-अपने स्तर पर घोषणाएँ कर रहा है, काम कर रहा है। सार्क देशों के बीच कोरोना पर हुई वीडियो कॉन्फ्रेसिंग पर अमेरिकी रक्षा सचिव ने भारत के पहल की प्रशंसा की है।

चीन के वुहान शहर से निकला कोरोना वायरस का कहर पूरे विश्व में जारी है। हर देश इसकी रोकथाम के लिए अपने-अपने स्तर पर घोषणाएँ करने में लगा हुआ है। वहीं पिछले दिनों सार्क देशों के बीच कोरोना पर हुई वीडियो कॉन्फ्रेसिंग पर अमेरिकी रक्षा सचिव ने भारत के पहल की प्रशंसा की है।

दरअसल पेंटागन ने कहा कि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के साथ अमेरिकी रक्षा मंत्री मार्क ओशो ने टेलीफोन पर बातचीत की और सार्क देशों के लिए भारत की COVID-19 के लिए उठाए गए पहल की प्रशंसा की है। उन्होंने बताया कि फोन कॉल के दौरान, दोनों नेताओं ने द्विपक्षीय रक्षा प्राथमिकताओं पर भी चर्चा की, जिसमें रक्षा व्यापार को बढ़ाने के लिए चल रहे क्षेत्रीय सहयोग और पहल शामिल हैं। पेंटागन ने आगे कहा कि कोरोना महामारी के चलते दोनों ने संचार को बंद करने की अपनी प्रतिबद्धता को दोहराया, जो कि व्यापक वैश्विक साझेदारी को सुदृढ़ करता है।

पेंटागन ने यह भी बताया कि दक्षिण एशियाई देशों के बीच कोविड​​-19 से संबंधित राहत प्रयासों के समन्वय में भारत के नेतृत्व के लिए एरिज़ोना ने प्रशंसा व्यक्त की है और जल्द से जल्द अवसर पर भारत आने का अपना इरादा व्यक्त किया है। वहीं कोरोनो वायरस संकट के चलते एरिजोना ने इस महीने भारत में अपनी निर्धारित यात्रा को स्थगित कर दिया है।

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस पर रविवार को सार्क देशों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए चर्चा करते हुए कहा था कि कोरोना वायरस को लेकर सतर्क रहने की जरूरत है। इस चर्चा में श्रीलंका के राष्ट्रपति गोटबया राजपक्षे, बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना, अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी, मालदीव के राष्ट्रपति इब्राहिम सोली, भूटान के प्रधानमंत्री, नेपाल के प्रधानमंत्री शामिल रहे थे। भारत की इस पहल की ही अमेरिकी रक्षा सचिव ने प्रशंसा की है।

वहीं कोरोना वायरस से मुकाबला करने के लिए अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने भी कड़े कदम उठाए हैं। दरअसल अमेरिका में कोरोना की चपेट में आने से मरने वालों की संख्या 230, जबकि इससे संक्रमित लोगों की संख्या 13000 के पार हो गई है। वहीं चीन के बाद कोरोना का इटली में तैजी से फैला है। शुक्रवार को इटली में एक दिन के अंदर कोरोना की वजह से 627 लोगों की जान चली गई, जबकि कोरोना वायरस के संक्रमण के 5986 नए मामले भी सामने आ गए। इसी के साथ इटली में मरने वालों की संख्या 4032 हो चुकी है। वहीं कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या भी बढ़कर 47021 हो गई है।

आपको बता दें कि भारत में भी कोरोना से मरने वालों की संख्या 5 हो गई है, जबकि इससे संक्रमित लोगों की संख्या 200 के पार हो गई है। इसी की रोकथाम के लिए भारत सरकार ने 22 मार्च को जनता कर्फ्यू की अपील की है। साथ ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश की जनता से अनावश्यक रूप से घरों से बाहर न निकलने की अपील की है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

यूपी के बेस्ट सीएम उम्मीदवार हैं योगी आदित्यनाथ, प्रियंका गाँधी सबसे फिसड्डी, 62% ने कहा ब्राह्मण भाजपा के साथ: सर्वे

इस सर्वे में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को सर्वश्रेष्ठ मुख्यमंत्री बताया गया है, जबकि कॉन्ग्रेस की उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गाँधी सबसे निचले पायदान पर रहीं।

असम को पसंद आया विकास का रास्ता, आंदोलन, आतंकवाद और हथियार को छोड़ आगे बढ़ा राज्य: गृहमंत्री अमित शाह

असम में दूसरी बार भाजपा की सरकार बनने का मतलब है कि असम ने आंदोलन, आतंकवाद और हथियार तीनों को हमेशा के लिए छोड़कर विकास के रास्ते पर जाना तय किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,215FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe