Saturday, July 31, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयPAK के पूर्व गृहमंत्री रहमान मलिक ने मेरे साथ रेप किया, पूर्व PM गिलानी...

PAK के पूर्व गृहमंत्री रहमान मलिक ने मेरे साथ रेप किया, पूर्व PM गिलानी ने की बदसलूकी: अमेरिकी फिल्मकार सिंथिया

सिंथिया लंबे समय से पाकिस्तान में रह रही हैं। उन्होंने पूर्व पाकिस्तानी प्रधानमंत्री यूसुफ रजा गिलानी और पूर्व स्वास्थ्य मंत्री मखदूम शहाबुद्दीन पर भी इस्लामाबाद स्थित राष्ट्रपति भवन में बदसलूकी के आरोप लगाए हैं। उस वक्त आसिफ अली जरदारी पाकिस्तान के राष्ट्रपति थे।

अमेरिकी फिल्मकार और ब्लॉगर सिंथिया रिची (Cynthia D Ritchie) ने पाकिस्तानी नेताओं पर गंभीर आरोप लगाए हैं। उनका कहना है कि पाकिस्तान के पूर्व गृह मंत्री रहमान मलिक (Rahman Malik) ने 2011 में अपने आवास पर उनके साथ रेप किया था।

सिंथिया लंबे समय से पाकिस्तान में रह रही हैं। उन्होंने पूर्व पाकिस्तानी प्रधानमंत्री यूसुफ रजा गिलानी और पूर्व स्वास्थ्य मंत्री मखदूम शहाबुद्दीन पर भी इस्लामाबाद स्थित राष्ट्रपति भवन में बदसलूकी के आरोप लगाए हैं। उस वक्त आसिफ अली जरदारी पाकिस्तान के राष्ट्रपति थे।

फेसबुक पर लाइव वीडियो सेशन के दौरान सिंथिया रिची ने कहा कि 2011 में रहमान ने उनके साथ बलात्कार और यौन उत्पीड़न किया था। उस समय पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) सत्ता में थी। पीपीपी के दो अन्य वरिष्ठ नेताओं ने भी उनका शोषण किया था। इस मामले में अब रिची ने जाँच की माँग की है। रिची का कहना है कि उनके पास इसको लेकर कई सबूत हैं और वह जरूरत पड़ने पर उसे जरूर पेश करेंगी।

रिची के मुताबिक, घटना 2011 में उस वक्त की है जब वो राष्ट्रपति भवन में रहती थीं। खास बात ये है रिची अब प्रधानमंत्री इमरान खान की सोशल मीडिया टीम में हैं। इस घटना के दौरान बेनजीर भुट्टो की पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) सत्ता में थी। फिलहाल, पार्टी की कमान बेनजीर के बेटे बिलावल भुट्टो जरदारी के हाथ में है।

सिंथिया डॉन रिची, जिनके कई वर्तमान पाकिस्तानी सत्तारूढ़ संस्था से करीबी संबंध हैं, ने यह भी आरोप लगाया कि पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) के अन्य वरिष्ठ नेताओं द्वारा उनके साथ मारपीट की गई थी। उसने यह भी आरोप लगाया कि उसके ई-मेल खातों को हैक कर लिया गया और लोगों ने उसकी जासूसी की।

सिंथिया ने कहा, “सीनेटर रहमान मलिक द्वारा मेरा यौन उत्पीड़न 2011 में आंतरिक मंत्री के आवास पर हुआ था। मैंने सोचा कि यह मेरे वीजा के बारे में आयोजित एक बैठक थी, लेकिन मुझे फूल/ एक नशीला पेय दिया गया था। मैं चुप रही।”

सिंथिया ने यह भी कहा कि उन्होंने घटना के बारे में 2011 में पाकिस्तान में मौजूद अमेरिकी दूतावास को सूचित किया था, लेकिन, वहाँ से सही जवाब नहीं मिला। उन्होंने कहा कि उस दौरान अमेरिका और पाकिस्तान के बीच अच्छे रिश्ते नहीं थे। रिची ने पीपीपी पर गंदी राजनीति का आरोप लगाया। उन्होंने कहा, “मैं चाहती हूँ कि दुनिया मेरी बात सुने।”

रिची ने फेसबुक पर बताया, “मैं कई सालों तक खामोश रही। इसकी वजह यह थी कि पीपीपी के नेता मुझे धमकी देते रहे। इस वजह से मैं कुछ बोल नहीं पाई। अब वक्त आ गया कि सारी दुनिया को इसका पता चले। इसी वजह से मैंने सबके सामने यह सच रखा।”

सिंथिया डी रिची ने शनिवार (जून 06, 2020) सुबह कुछ ट्वीट किए। जिनमें लिखा है, “पीपीपी नेता मेरे खिलाफ अभद्र भाषा का इस्तेमाल कर रहे हैं। रेप कल्चर बंद होना चाहिए। महिलाएँ एकजुट हों और बच्चों को इस घृणित काम के बारे में जानकारी दें। वैसे यह सिर्फ पीपीपी का मामला नहीं है। कई सियासी पार्टियों ने मेरा शोषण किया। मैंने कभी परिवार को भी इन घटनाओं के बारे में नहीं बताया। मैंने हमेशा पाकिस्तान की एक सॉफ्ट इमेज बनाने के लिए मेहनत की। हालाँकि मेरे अधिकांश मामलों में, जिनमें से दो का उल्लेख नहीं किया गया है, वे या तो PK लॉबिस्ट थे या 2 टियर पीपीपी।”

अमेरिकी ब्लॉगर सिंथिया रिची कथित तौर पर सोशल मीडिया पर पीपीपी नेताओं की निंदनीय तस्वीरें भी साझा कर रही हैं। सिंथिया, जो एक फिल्म निर्माता, पत्रकार और ब्लॉगर हैं, ने हाल ही में पाकिस्तान में पूर्व प्रधानमंत्री बेनजीर भुट्टो को निशाना बनाकर विवाद खड़ा कर दिया था, जिसके लिए पीपीपी ने उनके खिलाफ एक FIR दर्ज की थी।


इस बीच, पाकिस्तान में विपक्षी दलों ने दावा किया है कि देश में एक पर्यटक, पत्रकार और बेली डांसर के रूप में आई सिंथिया पूर्व पीएम के खिलाफ इस तरह की भद्दी टिप्पणी कर आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप कर रही थी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

माँ का किडनी ट्रांसप्लांट, खुद की कोरोना से लड़ाई: संघर्ष से भरा लवलीना का जीवन, ₹2500/माह में पिता चलाते थे 3 बेटियों का परिवार

टोक्यो ओलंपिक में मेडल पक्का करने वाली लवलीना बोरगोहेन के पिता गाँव के ही एक चाय बागान में काम करते थे। वो मात्र 2500 रुपए प्रति महीने ही कमा पाते थे।

फ्लाईओवर के ऊपर ‘पैदा’ हो गया मज़ार, अवैध अतिक्रमण से घंटों लगता है ट्रैफिक जाम: देश की राजधानी की घटना

ताज़ा घटना दिल्ली के आज़ादपुर की है। बड़ी सब्जी मंडी होने की वजह से ये इलाका जाना जाता है। यहाँ के एक फ्लाईओवर पर अवैध मजार बना दिया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,163FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe