Tuesday, October 19, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयFacebook, Twitter के बाद अब Youtube ने भी सस्पेंड किया डोनाल्ड ट्रंप का चैनल:...

Facebook, Twitter के बाद अब Youtube ने भी सस्पेंड किया डोनाल्ड ट्रंप का चैनल: जानें क्या है कारण

"हिंसा के बारे में चल रही चिंताओं को देखते हुए, हमने राष्ट्रपति ट्रम्प के चैनल पर कमेंट भी बंद कर दिए हैं, क्योंकि हमने अन्य चैनलों पर किया है जहाँ कमेंट सेक्शन में सुरक्षा चिंताएँ पाई गईं।"

फेसबुक और ट्विटर के बाद अब यूट्यूब (You Tube) ने भी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) पर एक सप्ताह के लिए बैन लगा दिया है। ऑनलाइन व वीडियो प्लेटफॉर्म ने इस पाबंदी के पीछे हिंसा फैलने की चिंता को बताया है। सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स द्वारा संयुक्त राज्य अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प पर मनमाने तरीके से प्रतिबंध लगाने के कुछ दिनों बाद, YouTube राष्ट्रपति ट्रम्प को निलंबित करने वाला नवीनतम सोशल नेटवर्क बन गया है।

रिपोर्टों के अनुसार, Google ने दुनिया के सबसे बड़े वीडियो प्लेटफॉर्म YouTube से राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के अकाउंट को सस्पेंड कर दिया है और व्हाइट हाउस को YouTube पर चेतावनी भी जारी की है।

Youtube ने अपने एक बयान में कहा कि ट्रंप ने एक वीडियो अपलोड किया था जो कि हमारी नीतियों का उल्लंघन कर रहा था जिसके बाद उनके चैनल पर ऑटोमेटिक स्ट्राइक आया है। पहला स्ट्राइक कम-से-कम सात दिनों के लिए होता है। ऐसे में अगले सात दिनों तक ट्रंप अपने चैनल पर कोई वीडियो अपलोड नहीं कर पाएँगे। स्ट्राइक के अलावा उनके चैनल के कमेंट सेक्शन को भी बंद कर दिया गया है।

हालाँकि, कंपनी ने यह नहीं बताया है कि ट्रंप के किस वीडियो ने उसकी नीतियों का उल्लंघन किया है, लेकिन कहा कि यह ऐसी ‘सामग्री’ थी जिसमें ट्रम्प द्वारा मंगलवार (जनवरी 12, 2021) सुबह एक संवाददाता सम्मेलन में की गई टिप्पणियाँ शामिल थीं। YouTube ने कहा कि उसने ऐसी नीतियों का उल्लंघन किया है जो हिंसा भड़काने के लिए सामग्री का निषेध करती हैं। Google ने अब ट्रम्प को नए वीडियो या लाइव-स्ट्रीमिंग सामग्री को न्यूनतम सात दिनों के लिए अपलोड करने से रोक दिया है और कहा है कि यह अवधि बढ़ाया भी जा सकता है।

YouTube की तीन-स्ट्राइक प्रणाली के तहत, एक चैनल को पहली स्ट्राइक के बाद एक सप्ताह के लिए निलंबित किया जाता है, दूसरे स्ट्राइक के बाद दो सप्ताह के लिए और 80 दिनों के भीतर तीसरे स्ट्राइक के बाद चैनल को ब्लॉक कर दिया जाता है। अस्थायी निलंबन का मतलब है कि ट्रम्प का अकाउंट और मौजूदा वीडियो रहेंगे, हालाँकि, वह नई सामग्री अपलोड नहीं कर पाएँगे।

कंपनी ने बुधवार (जनवरी 13, 2021) शाम को एक बयान में कहा, “समीक्षा के बाद, और हिंसा के लिए चल रही चिंताओं के बारे में, हमने अपनी नीतियों के उल्लंघन के लिए डोनाल्ड जे ट्रम्प के चैनल पर अपलोड की गई नई सामग्री को हटा दिया।”

इसमें आगे कहा गया, “हिंसा के बारे में चल रही चिंताओं को देखते हुए, हमने राष्ट्रपति ट्रम्प के चैनल पर कमेंट भी बंद कर दिए हैं, क्योंकि हमने अन्य चैनलों पर किया है जहाँ कमेंट सेक्शन में सुरक्षा चिंताएँ पाई गईं।” बता दें कि यूट्यूब पर ट्रंप के चैनल का नाम Donald J. Trump है, जिसके सब्सक्राइबर्स की संख्या 2.77 मिलियन है।

कट्टरपंथी वामपंथी समूहों ने YouTube को ट्रंप के बहिष्कार की धमकी दी है

कट्टरपंथी वामपंथी समूहों द्वारा YouTube के खिलाफ विज्ञापन बहिष्कार का आयोजन करने की  धमकी के बाद डोनाल्ड ट्रंप के अकाउंट को YouTube से निलंबित करने का कदम उठाया गया।

कुछ स्व-घोषित ‘नागरिक-अधिकार’ समूहों ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के चैनल को नहीं हटाने पर YouTube के खिलाफ विज्ञापनदाता के बहिष्कार का आयोजन करने की धमकी दी थी। जिम स्टेयर ने कहा कि ग्रुप यूट्यूब से ट्रंप के सत्यापित अकाउंट की माँग कर रहे हैं, जिनके 2.76 मिलियन सब्सक्राइबर्स हैं। बता दें कि जिम स्टेयर ‘स्टॉप हेट फॉर प्रॉफिट’ नाम के अभियान के आयोजकों में से एक है, जिसने जुलाई में फेसबुक को बायकॉट करने के लिए 1000 विज्ञापनदाताओं का नेतृत्व किया था। 

बता दें कि पिछले हफ्ते कैपिटल बिल्डिंग (अमेरिकी संसद भवन) में ट्रंप के समर्थकों ने हमला किया था। इसमें कैपिटल पुलिस के एक अधिकारी तथा चार अन्य लोगों की मौत हो गई थी। इस घटना से नवनिर्वाचित राष्ट्रपति की जीत को प्रमाणित करने की प्रक्रिया बाधित हुई थी। इस घटना के बाद अब तक फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम समेत कई सोशल मीडिया मंचों ने ट्रंप के अकाउंट को निलंबित कर दिया है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बांग्लादेश का नया नाम जिहादिस्तान, हिन्दुओं के दो गाँव जल गए… बाँसुरी बजा रहीं शेख हसीना’: तस्लीमा नसरीन ने साधा निशाना

तस्लीमा नसरीन ने बांग्लादेश में हिंदुओं पर कट्टरपंथी इस्लामियों द्वारा किए जा रहे हमले पर प्रधानमंत्री शेख हसीना पर निशाना साधा है।

पीरगंज में 66 हिन्दुओं के घरों को क्षतिग्रस्त किया और 20 को आग के हवाले, खेत-खलिहान भी ख़ाक: बांग्लादेश के मंत्री ने झाड़ा पल्ला

एक फेसबुक पोस्ट के माध्यम से अफवाह फैल गई कि गाँव के एक युवा हिंदू व्यक्ति ने इस्लाम मजहब का अपमान किया है, जिसके बाद वहाँ एकतरफा दंगे शुरू हो गए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,824FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe