Saturday, June 22, 2024
Homeदेश-समाजजमशेद ने मुझे घसीटा, बदतमीजी की, गालियाँ दीं: कोलकाता की अभिनेत्री हुई Uber driver...

जमशेद ने मुझे घसीटा, बदतमीजी की, गालियाँ दीं: कोलकाता की अभिनेत्री हुई Uber driver से अभद्रता की शिकार

स्वास्तिका दत्ता ने फेसबुक पर बताया है कि कैसे जमशेद नामक Uber ड्राइवर उन्हें उनके गंतव्य पर ले जाने की बजाए अपने इलाके में ले गया, उनके साथ दुर्व्यवहार किया और अन्य लोगों को इकठ्ठा कर उन्हें धमकाया।

कोलकाता की एक लड़की ने ‘समुदाय विशेष’ के व्यक्ति की बदतमीज़ी की आपबीती फेसबुक पर शेयर की है। पेशे से अभिनेत्री स्वास्तिका दत्ता ने फेसबुक पर बताया है कि कैसे जमशेद नामक Uber ड्राइवर उन्हें उनके गंतव्य पर ले जाने की बजाए अपने इलाके में ले गया, उनके साथ दुर्व्यवहार किया और अन्य लोगों को इकठ्ठा कर उन्हें धमकाया।

गंतव्य पर छोड़ने से कर दिया मना

स्वास्तिका के फेसबुक पोस्ट के मुताबिक, उन्होंने जमशेद की गाड़ी कैब बुक करने वाले एप्प उबर से बुक की थी। सुबह सवा आठ बजे उन्हें घर से पिकअप करने के बाद जमशेद को उन्हें उनके स्टूडियो (Dassani 2, Rania) पहुँचाना था। लेकिन, स्वास्तिका के मुताबिक उसने बीच में ही उनकी यात्रा अपनी ओर से समाप्त कर दी और उनसे गाड़ी से उतर जाने को कहा। स्वास्तिका के इनकार करने पर उसने गाड़ी अचानक ही उल्टी दिशा में घुमा दी। अपने इलाके में वह गाड़ी ले गया और स्वास्तिका का आरोप है कि उसने उन्हें गालियाँ देनी शुरू कर दीं।

स्वास्तिका के मुताबिक ड्राइवर ने उन्हें ज़बरदस्ती गाड़ी से खींच कर निकाला। स्वास्तिका को जब गुस्सा आया और उन्होंने मदद की गुहार लगाई तो उसने उन्हें धमकी दी और अन्य लड़कों को बुला लिया। स्वास्तिका का कहना है कि उसने कहा, “की कोरबि कॉर, देखि की कोरते पारिश” (देखता हूँ क्या कर लेती हो)

स्वास्तिका का कहना है कि चूँकि उन्हें शूटिंग के लिए देर हो रही थी, तो वह वहाँ से चलीं आईं और उन्होंने अपने पिता को फ़ोन किया। उन्होंने यह भी कहा कि वह उचित कानूनी कार्रवाई करेंगी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नालंदा विश्वविद्यालय को ब्राह्मणों ने ही जलाया था, 11वीं सदी का शिलालेख है साक्ष्य!!

नालंदा विश्वविद्यालय को ब्राह्मणों ने ही जलाया था, बख्तियार खिलजी ने नहीं। ब्राह्मण+बुर्के वाली के संभोग को खोद निकाला है इस इतिहासकार ने।

10 साल जेल, ₹1 करोड़ जुर्माना, संपत्ति भी जब्त… पेपर लीक के खिलाफ आ गया मोदी सरकार का सख्त कानून, NEET-NET परीक्षाओं में गड़बड़ी...

परीक्षा आयोजित करने में जो खर्च आता है, उसकी वसूली भी पेपर लीक गिरोह से ही की जाएगी। केंद्र सरकार किसी केंद्रीय जाँच एजेंसी को भी ऐसी स्थिति में जाँच सौंप सकती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -