Tuesday, July 27, 2021
Homeदेश-समाजजमशेद ने मुझे घसीटा, बदतमीजी की, गालियाँ दीं: कोलकाता की अभिनेत्री हुई Uber driver...

जमशेद ने मुझे घसीटा, बदतमीजी की, गालियाँ दीं: कोलकाता की अभिनेत्री हुई Uber driver से अभद्रता की शिकार

स्वास्तिका दत्ता ने फेसबुक पर बताया है कि कैसे जमशेद नामक Uber ड्राइवर उन्हें उनके गंतव्य पर ले जाने की बजाए अपने इलाके में ले गया, उनके साथ दुर्व्यवहार किया और अन्य लोगों को इकठ्ठा कर उन्हें धमकाया।

कोलकाता की एक लड़की ने ‘समुदाय विशेष’ के व्यक्ति की बदतमीज़ी की आपबीती फेसबुक पर शेयर की है। पेशे से अभिनेत्री स्वास्तिका दत्ता ने फेसबुक पर बताया है कि कैसे जमशेद नामक Uber ड्राइवर उन्हें उनके गंतव्य पर ले जाने की बजाए अपने इलाके में ले गया, उनके साथ दुर्व्यवहार किया और अन्य लोगों को इकठ्ठा कर उन्हें धमकाया।

गंतव्य पर छोड़ने से कर दिया मना

स्वास्तिका के फेसबुक पोस्ट के मुताबिक, उन्होंने जमशेद की गाड़ी कैब बुक करने वाले एप्प उबर से बुक की थी। सुबह सवा आठ बजे उन्हें घर से पिकअप करने के बाद जमशेद को उन्हें उनके स्टूडियो (Dassani 2, Rania) पहुँचाना था। लेकिन, स्वास्तिका के मुताबिक उसने बीच में ही उनकी यात्रा अपनी ओर से समाप्त कर दी और उनसे गाड़ी से उतर जाने को कहा। स्वास्तिका के इनकार करने पर उसने गाड़ी अचानक ही उल्टी दिशा में घुमा दी। अपने इलाके में वह गाड़ी ले गया और स्वास्तिका का आरोप है कि उसने उन्हें गालियाँ देनी शुरू कर दीं।

स्वास्तिका के मुताबिक ड्राइवर ने उन्हें ज़बरदस्ती गाड़ी से खींच कर निकाला। स्वास्तिका को जब गुस्सा आया और उन्होंने मदद की गुहार लगाई तो उसने उन्हें धमकी दी और अन्य लड़कों को बुला लिया। स्वास्तिका का कहना है कि उसने कहा, “की कोरबि कॉर, देखि की कोरते पारिश” (देखता हूँ क्या कर लेती हो)

स्वास्तिका का कहना है कि चूँकि उन्हें शूटिंग के लिए देर हो रही थी, तो वह वहाँ से चलीं आईं और उन्होंने अपने पिता को फ़ोन किया। उन्होंने यह भी कहा कि वह उचित कानूनी कार्रवाई करेंगी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कारगिल कमेटी’ पर कॉन्ग्रेस की कुण्डली: लोकतंत्र की सुरक्षा के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा राजनीतिक दृष्टिकोण का न हो मोहताज

हमें ध्यान में रखना होगा कि जिस लोकतंत्र पर हम गर्व करते हैं उसकी सुरक्षा तभी तक संभव है जबतक राष्ट्रीय सुरक्षा का विषय किसी राजनीतिक दृष्टिकोण का मोहताज नहीं है।

असम-मिजोरम बॉर्डर पर भड़की हिंसा, असम के 6 पुलिसकर्मियों की मौत: हस्तक्षेप के दोनों राज्‍यों के CM ने गृहमंत्री से लगाई गुहार

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने ट्वीट कर बताया कि असम-मिज़ोरम सीमा पर तनाव में असम पुलिस के 6 जवानों की जान चली गई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,362FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe