Saturday, December 4, 2021
Homeरिपोर्टमीडियाअब रिपब्लिक टीवी के CFO से पूछताछ कर रही मुंबई पुलिस, अर्नब ने पालघर...

अब रिपब्लिक टीवी के CFO से पूछताछ कर रही मुंबई पुलिस, अर्नब ने पालघर पर सोनिया की चुप्पी को लेकर पूछे थे सवाल

27 अप्रैल को, मुंबई पुलिस ने अर्नब गोस्वामी से मुंबई के एनएम जोशी मार्ग पुलिस स्टेशन में 12 घंटे से अधिक समय तक पूछताछ की थी। इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने रिपब्लिक टीवी एडिटर इन चीफ को तीन सप्ताह की अंतरिम सुरक्षा भी दी थी। साथ ही कहा था कि इस दौरान वे जमानत भी ले सकते हैं।

कॉन्ग्रेस अध्यक्ष सोनिया गाँधी के खिलाफ टिप्पणी करने को लेकर रिपब्लिक टीवी के एडिटर इन चीफ अर्नब गोस्वामी से 12 घंटे से अधिक पूछताछ के बाद अब मुंबई पुलिस मीडिया कंपनी के मुख्य वित्तीय अधिकारी से पूछताछ कर रही है। मुंबई पुलिस ने अर्नब गोस्वामी के खिलाफ दर्ज मामले में पूछताछ के लिए आज (मई 2, 2020) रिपब्लिक टीवी के मुख्य वित्तीय अधिकारी एस सुंदरम को बुलाया है।

यह पूछताछ आज सुबह तकरीबन 10.30 बजे शुरू हुई और इस रिपोर्ट लिखने के समय तक जारी थी। यह मुंबई पुलिस द्वारा रिपब्लिक टीवी के अधिकारी से एक और लंबी पूछताछ हो सकती है। 

बता दें कि 27 अप्रैल को, मुंबई पुलिस ने अर्नब गोस्वामी से मुंबई के एनएम जोशी मार्ग पुलिस स्टेशन में 12 घंटे से अधिक समय तक पूछताछ की थी। इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने रिपब्लिक टीवी एडिटर इन चीफ को तीन सप्ताह की अंतरिम सुरक्षा भी दी थी। साथ ही कहा था कि इस दौरान वे जमानत भी ले सकते हैं।

दरअसल पिछले दिनों महाराष्ट्र के पालघर में दो साधुओं सहित तीन लोगों की भीड़ ने निर्मम तरीके से हत्या कर दी थी। लेकिन कॉन्ग्रेस चुप रही। राज्य सरकार में वह शिवसेना के साथ सत्ता में साझीदार है। इस मॉब लिंंचिंग पर चुप्पी को लेकर कॉन्ग्रेस अध्यक्ष सोनिया गॉंधी से ‘रिपब्लिक टीवी’ के संपादक अर्नब गोस्वामी ने तीखे सवाल पूछे थे।

मॉब लिंचिंग पर सोनिया गॉंधी की चुप्पी को लेकर अर्नब ने कहा था, “सोनिया गाँधी तो खुश हैं। वो इटली में रिपोर्ट भेजेंगी कि देखो, जहाँ पर मैंने सरकार बनाई है, वहाँ पर हिन्दू संतों को मरवा रही हूँ। वहाँ से उन्हें वाहवाही मिलेगी। लोग कहेंगे कि वाह, सोनिया गाँधी ने अच्छा किया। इनलोगों को शर्म आनी चाहिए। क्या उन्हें लगता है कि हिन्दू चुप रहेंगे? आज प्रमोद कृष्णन को बता दिया जाना चाहिए कि क्या हिन्दू चुप रहेंगे? पूरा भारत भी यही पूछ रहा है। बोलने का समय आ गया है।”

इसके बाद कॉन्ग्रेस ने अर्नब गोस्वामी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया था। उनके खिलाफ कई राज्यों में केस दर्ज करवाया गया, जिसमें से अधिकतर राज्य कॉन्ग्रेस शासित हैं। कॉन्ग्रेसियों ने अर्नब गाेस्वामी पर आराेप लगाया था कि महाराष्ट्र के पालघर जिले में दाे साधुओं समेत तीन की लिचिंग मामले में उन्होंने अपने टीवी चैनल के कार्यक्रम में देश के लोगों को गुमराह किया। धर्म, नस्ल, जन्मस्थान, निवास भाषा के आधार पर नफरत फैलाने की काेशिश की है।

22-23 अप्रैल की रात एडिट कॉल निपटा कर लौटते हुए अर्नब गोस्वामी और उनकी पत्नी पर कॉन्ग्रेस के दो मोटरसाइकिल सवार गुंडों ने हमला किया था। रिपब्लिक टीवी एंकर अर्नब गोस्वामी ने खुद इस हमले की जानकारी देते हुए बताया था कि उनकी कार के आगे अपनी मोटरसाइकिल खड़ी कर दी और फिर हमला किया।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘आतंक का कोई मजहब नहीं होता’ – एक आदमी जिंदा जला कर मार डाला गया और मीडिया खेलने लगी ‘खेल’

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर फैलाया जा रहा प्रोपगेंडा जिन स्थानीय खबरों पर चल रहा है उनमें बताया जा रहा है कि ये सब अराजक तत्वों ने किया था, इस्लामी भीड़ ने नहीं।

‘महिला-पुरुष की मालिश का मतलब यौन संबंध नहीं होता, इस पर कार्रवाई से परहेज करें’: HC ने दिल्ली सरकार को फटकारा

दिल्ली सरकार स्पा में क्रॉस-जेंडर मसाज पर रोक लगा चुकी है। इसके अलावा रिहायशी इलाकों में नए मसाज सेंटर खोलने पर भी रोक लगा दी गई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
141,510FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe