Tuesday, May 21, 2024
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षापश्चिम बंगाल बना आतंकियों का गढ़: अलकायदा की ऑनलाइन भर्ती सेंटर, स्लीपर सेल करेंगे...

पश्चिम बंगाल बना आतंकियों का गढ़: अलकायदा की ऑनलाइन भर्ती सेंटर, स्लीपर सेल करेंगे हमला – दिलीप घोष का आरोप

पश्चिम बंगाल के कई नेता भी अलकायदा आतंकियों के निशाने पर हैं। कराची और पेशावर में अलकायदा ने आतंकियों की भर्ती के लिए नया ऑनलाइन भर्ती सेंटर शुरू किया है। अलकायदा मॉड्यूल और स्लीपर सेल की मदद से...

पश्चिम बंगाल के भाजपा प्रमुख दिलीप घोष ने बड़ा खुलासा करते हुए कहा है कि राज्य ‘आतंकवादियों का गढ़’ बन गया है और इसकी स्थिति ‘कश्मीर से भी बदतर’ है। उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल के कूचबिहार में हाल ही में अलकायदा के सदस्यों की पहचान हुई है और उनके नेटवर्क का यहाँ पर विस्तार हुआ है।  

गौरतलब है कि कूचबिहार उत्तर बंगाल में आता है। उत्तर बंगाल के ही अलीपुरद्वार जिले में दिलीप घोष के काफिले पर हमला हुआ था, जब वे एक कार्यक्रम में शामिल होकर दूसरे कार्यक्रम में जा रहे थे। बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष के काफिले पर हुए हमले में विधायक विल्सन चंपामारी का वाहन क्षतिग्रस्त हो गया था। यह घटना हाल ही में हुई थी।

इस घटना के बाद पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने कहा कि राज्य में राजनीतिक हिंसा के नियंत्रण का कोई संकेत नहीं है। उन्होंने कहा कि राज्य में राजनीतिक हिंसा और प्रतिशोध का माहौल व्याप्त है। धनखड़ ने कूचबिहार में संवाददाताओं से कहा, ‘‘राजनीतिक हिंसा के नियंत्रण का कोई संकेत नहीं है। इसका कारण यह है कि लोकसेवक राजनीतिक कार्यकर्ता बन गए हैं।”

पिछले साल पश्चिम बंगाल के कूचबिहार में पहली बार अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं से बात करते हुए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अल्पसंख्यक अतिवाद के ख़िलाफ़ चेतावनी दी थी। उन्होंने कहा था, “मैं देख रही हूँ कि यहाँ अल्पसंख्यकों में कुछ अतिवादी हैं, जिनकी जमीन हैदराबाद से जुड़ी है। ऐसे लोगों की बिलकुल भी मत सुनिए।”

बता दें कि हाल ही में इंटेलिजेंस ब्यूरो (आईबी) की रिपोर्ट में चौंकाने वाला खुलासा हुआ। रिपोर्ट के मुताबिक अलकायदा के आतंकी पश्चिम बंगाल में हमले को अंजाम देने की तैयारी में हैं। आईबी की रिपोर्ट में कहा गया कि आतंकियों की योजना पश्चिम बंगाल में मौजूद अलकायदा मॉड्यूल और स्लीपर सेल की मदद से आतंकी हमले को अंजाम देने की तैयारी है।

इसके लिए ग्लोबल जिहाद और विदेशी हैंडलर्स के जरिए रेडिक्लाइज करने की कोशिश भी हो रही है। पश्चिम बंगाल के कई नेता भी अलकायदा आतंकियों के निशाने पर हैं। राष्ट्रीय जाँच एजेंसी (NIA) के सूत्रों के मुताबिक पाकिस्तान के कराची और पेशावर में अलकायदा ने आतंकियों की भर्ती के लिए नया ऑनलाइन भर्ती सेंटर शुरू किया है।

एनआईए के सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक हाल ही में इस मामले में अलकायदा के 11 आतंकियों को गिरफ्तार किया गया। इन्हें मुर्शिदाबाद, केरल और कर्नाटक पकड़ा गया। सूत्रों के अनुसार सीमावर्ती जिले मुर्शिदाबाद और मालदा में कई युवाओं को बरगला कर आतंकी संगठन से जोड़ा गया है। इनमें विशेष तौर पर गरीब तबके के युवा हैं। सुरक्षा एजेंसियाँ उन्हें रडार पर रख रही है। 

मुर्शिदाबाद अलकायदा का गढ़ बन चुका है। मालदा और उत्तर 24 परगना (North 24 Paragana) में भी यही हालात हैं। यहाँ इनके स्लीपर सेल बहुत हैं। बंगाल और केरल के स्लीपर सेल आपसी साँठगाँठ से काम करते हैं। बांग्लादेश के जरिए बंगाल में घुसपैठ के साथ संगठन विस्तार के लिए फंड भेजे जा रहे हैं। हाल ही में मुर्शिदाबाद से गिरफ्तार मदरसा शिक्षक अब्दुल मोमिन सहित अन्य आतंकियो ने पूछताछ के बाद कई खुलासे किए हैं।

गौरतलब है कि हाल ही में एनआईए को अलकायदा मॉड्यूल से पूछताछ के दौरान कई चौंकाने वाली जानकारियाँ मिली थीं। एनआईए से पूछताछ में अलकायदा मॉड्यूल ने खुलासा किया था कि पाकिस्तान में बैठा अलकायदा का हैंडलर पश्चिम बंगाल के युवाओं की ऑनलाइन भर्ती कर रहा है। इस खुलासे के बाद एजेंसियाँ सतर्क हो गई हैं।

एनआईए ने पिछले दिनों आतंकी गतिविधियों में संलिप्तता के इनपुट के आधार पर पिछले दिनों कई लोगों को गिरफ्तार किया था। एनआईए गिरफ्तार किए गए लोगों से पूछताछ कर रही है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘ध्वस्त कर दिया जाएगा आश्रम, सुरक्षा दीजिए’: ममता बनर्जी के बयान के बाद महंत ने हाईकोर्ट से लगाई गुहार, TMC के खिलाफ सड़क पर...

आचार्य प्रणवानंद महाराज द्वारा सन् 1917 में स्थापित BSS पिछले 107 वर्षों से जनसेवा में संलग्न है। वो बाबा गंभीरनाथ के शिष्य थे, स्वतंत्रता के आंदोलन में भी सक्रिय रहे।

‘ये दुर्घटना नहीं हत्या है’: अनीस और अश्विनी का शव घर पहुँचते ही मची चीख-पुकार, कोर्ट ने पब संचालकों को पुलिस कस्टडी में भेजा

3 लोगों को 24 मई तक के लिए हिरासत में भेज दिया गया है। इनमें Cosie रेस्टॉरेंट के मालिक प्रह्लाद भुतडा, मैनेजर सचिन काटकर और होटल Blak के मैनेजर संदीप सांगले शामिल।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -