Monday, June 17, 2024
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षाबॉर्डर पर तैनात BSF जवान को बांग्लादेश में खींचने की कोशिश, तस्करों ने हमला...

बॉर्डर पर तैनात BSF जवान को बांग्लादेश में खींचने की कोशिश, तस्करों ने हमला कर छीने हथियार और रेडियो सेट: अश्लील इशारे कर उकसाया, लोहे की रॉड से मारपीट

बांग्लादेशी तस्करों ने कांस्टेबल भोले को घेर लिया था और उनके साथ मारपीट करके उनका रेडियो और हथियार भी छीन लिया गया। कांस्टेबल किसी तरह अपने भोले भागने में सफल रहे, हालाँकि, उन पर बांस के डंडों और लोहे की छड़ों से हमला किया गया, जिससे उन्हें गंभीर चोटें आईं।

त्रिपुरा के सिपाहीजाला के कलमचेरा में भारत-बांग्लादेश सीमा पर तैनात बीएसएफ जवान पर बांग्लादेशी उपद्रवियों ने हमला किया। बताया जा रहा है कि इस दौरान उनपर बांस के डंडों और लोहे की छड़ों से हमला किया गया। घटना में उन्हें गंभीर चोट आई। बाद में बांग्लादेश में बीएसएफ ने समकक्ष के साथ इस मुद्दे पर मीटिंग की और घटना का विरोध दर्ज कराया।

समाचार एजेंसी पर प्रकाशित खबर में इस घटना के संबंध में जानकारी दी गई- जिस समय यह घटना घटी उस समय बीएसएफ कांस्टेबल भोले भारत-बांग्लादेश सीमा पर चौकी ड्यूटी कर रहे थे और उन्हें बाड़ गेट को संचालित करने का काम सौंपा गया था। लगभग डेढ़ बजे बांग्लादेशी तस्करों का एक बड़ा समूह अवैध रूप से अंतर्राष्ट्रीय सीमा पार कर गया और चीनी की तस्करी के इरादे से बाड़ लगाने वाले गेट के पास इकट्ठा हो गया। इसके अलावा, उन्होंने अभद्र भाषा का इस्तेमाल करना शुरू कर दिया और ड्यूटी पर तैनात बीएसएफ कांस्टेबल को उत्तेजक भाषा और अश्लील इशारों से उकसाया।

इसके बाद बांग्लादेशी तस्करों ने कांस्टेबल भोले को घेर लिया और उसके साथ मारपीट की और उसे बांग्लादेश की ओर खींचने का प्रयास किया। इस दौरान उनसे उनका रेडियो और हथियार भी छीन लिया गया। कांस्टेबल किसी तरह अपने भोले भागने में सफल रहे, हालाँकि, उन पर बांस के डंडों और लोहे की छड़ों से हमला किया गया, जिससे उन्हें गंभीर चोटें आईं।

इस घटना के बाद समकक्ष के साथ कमांडेंट स्तर की फ्लैग मीटिंग हुई और बीएसएफ ने कड़ा विरोध दर्ज कराया। छीने गए हथियार और रेडियो सेट को बीजीबी ने बीएसएफ को वापस सौंप दिया। बीएसएफ भारत-बांग्लादेश सीमा पर शांति बनाए रखने के लिए प्रतिबद्ध है और बॉर्डर गार्ड बांग्लादेश (बीजीबी) के साथ मिलकर काम करना जारी रखता है।

गौरतलब है कि इससे पहले एक ऐसा ही मामला मार्च महीने में आया था। उस समय जवान मगरोली में अपनी ड्यूटी पर थे। उसी समय सुरक्षाकर्मियों ने 15-20 बदमाशों को सिर में सामान लादे भारत की तरफ से बांग्लादेश की सीमा में घुसते हुए देखा।

जवानों ने उन्हें रोकने की कोशिश की लेकिन उन्होंने एक नहीं सुनी। उलटा जवानों को घेर लिया गया। इस मामले में बीएसएफ जवानों पर फायरिंग मामले में एक जवान घायल हो गया था। बाद में डॉक्टरों ने अस्पताल में उन्हें मृत घोषित कर दिया इस दौरान जवानों से उन बांग्लादेशी बदमाशों ने उलझकर हथियार लेने की भी कोशिश की थी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पहले उइगर औरतों के साथ एक ही बिस्तर पर सोए, अब मुस्लिमों की AI कैमरों से निगरानी: चीन के दमन की जर्मन मीडिया ने...

चीन में अब भी उइगर मुस्लिमों को लेकर अविश्वास है। तमाम डिटेंशन सेंटरों का खुलासा होने के बाद पता चला है कि अब उइगरों पर AI के जरिए नजर रखी जा रही है।

सेजल, नेहा, पूजा, अनामिका… जरूरी नहीं आपके पड़ोस की लड़की ही हो, ये पाकिस्तान की जासूस भी हो सकती हैं: जानिए कैसे ISI के...

पाकिस्तानी ISI के जासूस भारतीय लड़कियों के नाम से सोशल मीडिया पर आईडी बना देश की सुरक्षा से जुड़े लोगों को हनीट्रैप कर रहे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -