Saturday, May 18, 2024
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षा'स्वर्णिम विजय पर्व' के लिए CDS बिपिन रावत ने पहले ही रिकॉर्ड कर लिया...

‘स्वर्णिम विजय पर्व’ के लिए CDS बिपिन रावत ने पहले ही रिकॉर्ड कर लिया था सन्देश, भावुक कर देगा ये वीडियो: अब सादगी से होगा आयोजन

वीडियो में सीडीएस जनरल बिपिन रावत ने इसे बड़े सौभाग्य की बात बताया कि 'विजय पर्व' को 'अमर जवान ज्योति' की लौ की छाँव में आयोजित किया जा रहा है, जिसे हमारे वीर बलिदानियों की याद में स्थापित किया गया था।

केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि CDS जनरल बिपिन रावत के असामयिक निधन के कारण इस बार ‘स्वर्णिम विजय पर्व’ काफी सादगी के साथ मनाया जाएगा। बता दें कि तमिलनाडु के कुन्नूर में हुए हैलोकॉप्टर हादसे में CDS जनरल बिपिन रावत और उनकी पत्नी मधुलिका रावत सहित 13 लोगों की मृत्यु हो गई थी। ऐसे में देश में शोक का माहौल है। दिल्ली में अंतिम संस्कार के बाद रावत दंपति की अस्थियों को उनकी बेटियों कृतिका और तारिणी ने हरिद्वार में गंगा में प्रवाहित किया।

ये भी भावुक कर देने वाली सूचना है कि चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (CDS) जनरल बिपिन रावत ने ‘स्वर्णिम विजय पर्व’ के लिए अपने सन्देश एक वीडियो के जरिए पहले ही रिकॉर्ड कर लिया था। उनके इस वीडियो सन्देश को यहाँ प्ले भी किया गया। इंडिया गेट पर इस कार्यक्रम की शुरुआत हुई, जहाँ केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की मौजूदगी में इस वीडियो सन्देश को चलाया गया। इस दौरान वहाँ मौजूद हर एक व्यक्ति भावुक हो गया। आइए, बताते हैं उस वीडियो में जनरल रावत ने क्या कहा।

इस वायरल वीडियो मैसेज में सीडीएस जनरल बिपिन रावत ने कहा, “स्वर्णिम विजय पर्व के अवसर पर मैं भारतीय सेना के सभी बहादुर जवानों को हार्दिक शुभकामनाएँ देता हूँ। भारतीय सेना की 1971 की लड़ाई में जीत की 50वीं वर्षगाँठ को हम विजय पर्व के रूप में मना रहे हैं। मैं इस पावन पर्व पर सशस्त्र सेनाओं के वीर जवानों को याद करते हुए उनके बलिदान को श्रद्धांजलि अर्पित करता हूँ। 12 से 14 दिसंबर तक इंडिया गेट पर विभिन्न प्रकार के कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है।”

वीडियो में सीडीएस जनरल बिपिन रावत ने इसे बड़े सौभाग्य की बात बताया कि ‘विजय पर्व’ को ‘अमर जवान ज्योति’ की लौ की छाँव में आयोजित किया जा रहा है, जिसे हमारे वीर बलिदानियों की याद में स्थापित किया गया था। इस वीडियो में उन्होंने देशवासियों को इस ‘विजय पर्व’ के जश्न में सम्मिलित होने के लिए आमंत्रित भी किया था और ‘हमारी सेनाओं पर हमें हैं गर्व, आओ मिल कर मनाएँ विजय पर्व’ का नारा भी दिया। उनके जाने के बाद अब ये ‘जश्न’ न होकर एक सादगी भरा आयोजन भर रह गया है।

इस अवसर पर केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बताया कि एयरफोर्स के ऑफिस ग्रुप कमांडर वरुण सिंह का इलाज चल रहा है और वो लगातार उनके परिवार के संपर्क में हैं। बता दें कि वरुण सिंह इस हैलीकॉप्टर क्रैश में जीवन बचे एकमात्र व्यक्ति हैं। उन्होंने कहा कि ये आयोजन पहले काफी भव्य और दिव्य करने का निर्णय लिया गया था, लेकिन अब ऐसा नहीं हो पाएगा। उन्होंने बिपिन रावत को ‘बहादुर सैनिक, ज़िंदादिल और सलाहकार’ बताते हुए कहा कि इस कार्यक्रम के स्वरूप व रूपरेखा को लेकर उनसे कई बार चर्चा हुई थी, इसीलिए उनकी कमी कह रही है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

स्वाति मालीवाल बन गई INDI गठबंधन में गले की फाँस? राहुल गाँधी की रैली के लिए केजरीवाल को नहीं भेजा गया न्योता, प्रियंका कह...

दिल्ली में आयोजित होने वाली राहुल गाँधी की रैली में शामिल होने के लिए AAP प्रमुख अरविंद केजरीवाल को न्योता नहीं दिया गया है।

‘अनुच्छेद 370 को हमने कब्रिस्तान में गाड़ दिया, इसे वापस नहीं लाया जा सकता’: PM मोदी बोले- अलगाववाद को खाद-पानी देने वाली कॉन्ग्रेस ने...

पीएम मोदी ने कहा, "आजादी के बाद गाँधी जी की सलाह पर अगर कॉन्ग्रेस को भंग कर दिया गया होता, तो आज भारत कम से कम पाँच दशक आगे होता।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -