Wednesday, April 24, 2024
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षाबांग्लादेश वापस भागने वालों की संख्या 50% बढ़ी: NRC का असर - घुसपैठिए न...

बांग्लादेश वापस भागने वालों की संख्या 50% बढ़ी: NRC का असर – घुसपैठिए न घर के रहे, न घाट के

NCRB के मुताबिक, साल 2018 में बांग्लादेश जाने वालों में जिन 2971 लोगों को गिरफ्तार किया गया, उनमें 1532 पुरुष, 749 महिलाएँ और 690 बच्चे शामिल हैं।

देश में पिछले दिनों एनआरसी को लेकर काफी बवाल देखने को मिला। चारों ओर अफवाहें फैलाई गईं कि केंद्र सरकार द्वारा लाया जा रहा नया कानून देश में रह रहे समुदाय विशेष के लोगों का दमन करेगा। लेकिन इसी बीच भारत-बांग्लादेश बॉर्डर से हैरान कर देने वाले आँकड़े सामने आए। आँकड़ों से स्पष्ट है कि साल 2018 में गैरकानूनी तरीके से बॉर्डर पार करके बांग्लादेश लौटने वालों की संख्या में 50% की वृद्धि हुई है।

नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो (NCRB) के ताज़ा आँकड़ों के मुताबिक, साल 2018 में गैरकानूनी तरीके से बांग्लादेश जाने वालों की संख्या में 50 फीसदी का इज़ाफा हुआ। दरअसल, साल 2018 में बॉर्डर सिक्योरिटी फोर्स (BSF) ने 2971 लोगों को गैरकानूनी तरीके से बॉर्डर पार करने के आरोप में गिरफ्तार किया था, जबकि साल 2017 में ये आँकड़ा सिर्फ 1800 था।

NCRB के मुताबिक, साल 2018 में बांग्लादेश जाने वालों में जिन 2971 लोगों को गिरफ्तार किया गया था, उनमें 1532 पुरुष, 749 महिलाएँ और 690 बच्चे शामिल हैं। वहीं रिपोर्ट के मुताबिक दूसरी तरफ बांग्लादेश से भारत आने वालों की संख्या में थोड़ी गिरावट आई है। साल 2017 में ये आंकड़ा 1180 था, जबकि 2018 में ये संख्या 1118 पर पहुँच गई।

एनसीआरबी की रिपोर्ट में पश्चिम बंगाल, असम, त्रिपुरा, मिरोजम और असम में बीएसएफ जवानों द्वारा गिरफ्तार किए गए लोगों के उद्देश्यों का उल्लेख नहीं है। लेकिन कहा जा रहा है बॉर्डर पार करने वालों की संख्या में ये इजाफा असम में नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटीजन (NRC) की दूसरी लिस्ट आने के बाद आया है।

यहाँ बता दें कि NRC की दूसरी ड्राफ्ट की कॉपी 30 जुलाई 2018 को आई थी। इसके तहत 40 लाख लोगों को बाहर रखा गया था, जबकि NRC की फाइनल लिस्ट में करीब 20 लाख लोगों को बाहर रखा गया। जिसके बाद कहा जा रहा है कि भारत से बाहर निकाले जाने के डर से ही लोग गैरकानूनी तरीके से ही लोग लौटने लगे।

गौरतलब है कि कुछ समय पहले इस मामले पर बांग्लादेश के बॉर्डर गार्ड डायरेक्टर जनरल एवं मेजर जनरल मोहम्मद शफीलुन इस्लाम ने भी अपना बयान दिया था। जिसमें उन्होंने बताया था कि पिछले महीने ही 445 बांग्लादेशियों को भारत का बॉर्डर क्रॉस करते गिरफ्तार किया गया।

NRC की आहट से सहमे घुसपैठिए, रात के अँधेरे में भाग रहे बांग्लादेश

बांग्लादेशी घुसपैठियों ने BSF के 2 जवानों को बनाया निशाना, घायल कर लूट लिया बंदूक

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आपकी मौत के बाद जब्त हो जाएगी 55% प्रॉपर्टी, बच्चों को मिलेगा सिर्फ 45%: कॉन्ग्रेस नेता सैम पित्रोदा का आइडिया

कॉन्ग्रेस नेता सैम पित्रोदा ने मृत्यु के बाद सम्पत्ति जब्त करने के कानून की वकालत की है। उन्होंने इसके लिए अमेरिकी कानून का हवाला दिया है।

‘नरेंद्र मोदी ने गुजरात CM रहते मुस्लिमों को OBC सूची में जोड़ा’: आधा-अधूरा वीडियो शेयर कर झूठ फैला रहे कॉन्ग्रेसी हैंडल्स, सच सहन नहीं...

पहले ही कलाल मुस्लिमों को OBC का दर्जा दे दिया गया था, लेकिन इसी जाति के हिन्दुओं को इस सूची में स्थान पाने के लिए नरेंद्र मोदी के मुख्यमंत्री बनने तक का इंतज़ार करना पड़ा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe