Tuesday, November 30, 2021
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षाजैश के 5 आतंकी: कोई चलाता था गाड़ी तो कोई लगाता था ठेला, 26...

जैश के 5 आतंकी: कोई चलाता था गाड़ी तो कोई लगाता था ठेला, 26 जनवरी पर बड़े हमले की थी साजिश

पकड़े गए सभी आतंकी हजरबत इलाके के हैं। श्रीनगर में इनके छिपे होने की सूचना मिलने के बाद पुलिस ने इलाके की घेराबंदी की। भारी मात्रा में हथियार और विस्फोटक बरामद किए गए हैं।

गणतंत्र दिवस से पहले जम्मू-कश्मीर पुलिस को एक बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। जम्मू-कश्मीर पुलिस ने बृहस्पतिवार (जनवरी 16, 2020) की शाम श्रीनगर से जैश-ए-मोहम्मद के पाँच आतंकियों को गिरफ्तार किया। पुलिस के मुताबिक यह सभी आतंकी 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के दिन कश्मीर घाटी में आतंकी हमला करने की साजिश रच रहे थे।

पुलिस ने आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद द्वारा गणतंत्र दिवस पर एक बड़े आत्मघाती हमले की रची जा रही साजिश को नाकाम कर दिया है। पुलिस ने जैश के पाँच सदस्यीय मॉड्यूल को नेस्तनाबूद करते हुए विस्फोटकों से लैस एक जैकेट और रिमोट ट्रिगल वाला बायोफेंग वॉकी-टॉकी भी बरामद किया है।

रिपोर्ट्स के अनुसार, पुलिस को सूत्रों ने श्रीनगर में आतंकियों के छिपे होने की सूचना दी थी। जिसके बाद पुलिस फोर्स ने घेराबंदी करके आतंकियों को गिरफ्तार कर लिया। सभी आतंकी हजरतबल इलाके के रहने वाले हैं। आतंकियों के पास से पुलिस ने भारी मात्रा में हथियार और विस्फोटक बरामद किया है।

आतंकियों की पहचान एजाज अहमद शेख, उमर हमीद शेख, इम्तियाज अहमद, साहिल फारूख और नसीर अहमद मीर के रूप में हुई है। एजाज पेशे से वाहन चालक है जबकि उमर ठेला लगाता है। इमरान की खेल सामग्री की दुकान है, नसीर का अपना कारोबार है और साहिल एक प्राईवेट फर्म में नौकरी करता है।

पुलिस ने हथियार और विस्फोटक सामाग्री जब्त करके कार्रवाई शुरू कर दी है। पुलिस ने बताया कि बीते साल नवंबर में कश्मीर यूनिवर्सिटी के बाहर हुए ग्रेनेड हमले में भी यही आतंकी शामिल थे। अब वे 26 जनवरी को घाटी में एक बड़े आतंकी हमले को अंजाम देने की फिराक में थे।

सुरक्षाबलों ने घाटी में आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई तेज कर दी है। अभी बीते बुधवार को भी सुरक्षाबलों ने डोडा में एनकाउंटर के दौरान हिज्बुल मुजाहिदीन के एक आतंकी को मार गिराया था। आतंकी की पहचान हिज्बुल मुजाहिदीन कमांडर हारून वानी के रूप में हुई थी। जेके पुलिस ने बताया कि पिछले महीने किश्तवाड़ में हुए राजनीतिक पार्टियों के कार्यकर्ताओं की हत्या सहित सुरक्षाबलों से हथियार छीनने जैसी वारदातों में भी आतंकी हारून शामिल था। सुरक्षाबल गणतंत्र दिवस की सुरक्षा को लेकर चौकन्नी है।  

हिज़्बुल के 2 और जैश का 1 आतंकी ढेर: J&K में आतंकियों और सेना के बीच हुई मुठभेड़

दिल्ली के बाद वडोदरा से भी पकड़ा गया ISIS आतंकी, तमिलनाडु का वांटेड है जफर अली

उद्धव कैबिनेट में बेटा-बेटी और भतीजा ही नहीं, आतंकी याकूब मेमन के लिए ‘दया’ माँगने वाला असलम शेख भी

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘UPTET के अभ्यर्थियों को सड़क पर गुजारनी पड़ी जाड़े की रात, परीक्षा हो गई रद्द’: जानिए सोशल मीडिया पर चल रहे प्रोपेगंडा का सच

एक तस्वीर वायरल हो रही है, जिसके आधार पर दावा किया जा रहा है कि ये उत्तर प्रदेश में UPTET की परीक्षा देने वाले अभ्यर्थियों की तस्वीर है।

बेचारा लोकतंत्र! विपक्ष के मन का हुआ तो मजबूत वर्ना सीधे हत्या: नारे, निलंबन के बीच हंगामेदार रहा वार्म अप सेशन

संसद में परंपरा के अनुरूप आचरण न करने से लोकतंत्र मजबूत होता है और उस आचरण के लिए निलंबन पर लोकतंत्र की हत्या हो जाती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
140,538FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe