Sunday, June 16, 2024
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षाभारत से लड़ने के लिए पाकिस्तानी सेना के पास न टैंक, न डीजल: पूर्व...

भारत से लड़ने के लिए पाकिस्तानी सेना के पास न टैंक, न डीजल: पूर्व आर्मी चीफ बाजवा ने पत्रकारों से कहा था, हामिद मीर ने किया खुलासा

मीर ने ने यह भी कहा कि जनरल बाजवा ने पीएम नरेंद्र मोदी की यात्रा का कार्यक्रम यह जानते हुए भी तय किया था कि उनकी सरकार ने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को रद्द कर दिया और पुलवामा हमले के बाद बालाकोट में हवाई हमला किया। जिस वक्त पुलवामा में हमला हुआ था और भारत ने एयर स्ट्राइक की थी, उस वक्त पाकिस्तान के सेना प्रमुख बाजवा ही थे।

पाकिस्तान ने मान लिया है कि वो भारत से युद्ध करने की स्थिति में नहीं है। पाकिस्तान के दो पत्रकारों दावा किया है कि देश के पूर्व सेना प्रमुख कमर जावेद बाजवा (Qamar Javed Bajwa) ने एक बार कहा था कि उनके देश की सेना के पास ऐसा टैंक नहीं है, जो भारत के खिलाफ लड़ाई में इस्तेमाल किया जा सके। इसका वीडियो भी वायरल हो रहा है।

पाकिस्तान दो प्रमुख पत्रकार- हामिद मीर और नसीम ज़हरा ने अपने एक टेलीविजन शो के दौरान पुरानी प्रेस कॉन्फ्रेंस को लेकर खुलासा किया। उस दौरान तत्कालीन सेना प्रमुख बाजवा ने कम-से-कम 25 पत्रकारों से कहा था कि पाकिस्तानी सेना और युद्धक टैंक भारतीय सेना के खिलाफ लड़ने की स्थिति में नहीं हैं।

पाकिस्तानी पत्रकार हामिद मीर ने शो के दौरान कहा कि बाजवा ने कहा था कि सैनिकों की आवाजाही के लिए कोई गाड़ी नहीं है और ना ही डीजल है। इस पर नसीम जाहरा ने कहा कि उस प्रेस कॉन्फ्रें के दौरान वह मौजूद थीं। उन्होंने कहा कि बाजवा की टिप्पणी से वह नाराज़ हो गई थीं। ऐसे सेना प्रमुख का तो कोर्ट मार्शल होना चाहिए।

शो के दौरान मीर ने यह भी दावा किया कि जनरल बाजवा ने कश्मीर मुद्दे पर भारत के साथ ‘डील’ की थी। मीर ने यह भी आरोप लगाया कि बाजवा भारत के साथ युद्धविराम समझौते के लिए तैयार थे और वह बदले में नोबेल शांति पुरस्कार प्राप्त करना चाहते हैं।

पत्रकार ने दावा किया, “इसके तहत साल 2021 में भारत और पाकिस्तान के सैन्य अभियानों के महानिदेशक 24-25 फरवरी 2021 की आधी रात से नियंत्रण रेखा और अन्य सभी क्षेत्रों में सभी समझौतों और संघर्ष विराम का कड़ाई से पालन करने के लिए सहमत हुए।” मीर ने यह भी दावा किया कि जनरल बाजवा ने NSA अजीत डोभाल के साथ गुप्त वार्ता भी की थी।

मीर ने ने यह भी कहा कि जनरल बाजवा ने पीएम नरेंद्र मोदी की यात्रा का कार्यक्रम यह जानते हुए भी तय किया था कि उनकी सरकार ने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को रद्द कर दिया और पुलवामा हमले के बाद बालाकोट में हवाई हमला किया। जिस वक्त पुलवामा में हमला हुआ था और भारत ने एयर स्ट्राइक की थी, उस वक्त पाकिस्तान के सेना प्रमुख बाजवा ही थे।

बता दें कि पूंछ में आतकी हमले के बाद पाकिस्तान ने सर्जिकल स्ट्राइक का डर जताया था। हमले में 5 सैनिकों के बलिदान होने के बाद पड़ोसी देश के पूर्व राजनयिक अब्दुल बासित ने यह डर जाहिर की है। बासित ने कहा कि फिलहाल ऐसा डर नहीं है, लेकिन अगले साल चुनावों से पहले ऐसा हो सकता है।

अब्दुल बासित ने कहा था, “पाकिस्तान में लोग भारत द्वारा एक और सर्जिकल स्ट्राइक या एयर स्ट्राइक के बारे में बात कर रहे हैं। मुझे नहीं लगता कि अब वह ऐसा करेगा, क्योंकि वह इस साल SCO की बैठक और जी-20 की अध्यक्षता कर रहा है।”

उन्होंने आगे कहा, “जब तक भारत अध्यक्षता कर रहा है, तब तक ऐसा खतरा नहीं दिख रहा, लेकिन अगले साल चुनावों के दौरान भारत फिर से ऐसा कर सकता है। यह भारत में चुनावों से ठीक पहले हो सकता है। भारत जानता है कि हम कहाँ खड़े हैं।” बासित यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आतंकवाद का बखान, अलगाववाद को खुलेआम बढ़ावा और पाकिस्तानी प्रोपेगेंडा को बढ़ावा : पढ़ें- अरुँधति रॉय का 2010 वो भाषण, जिसकी वजह से UAPA...

अरुँधति रॉय ने इस सेमिनार में 15 मिनट लंबा भाषण दिया था, जिसमें उन्होंने भारत देश के खिलाफ जमकर जहर उगला था।

कर्नाटक में बढ़ाए गए पेट्रोल-डीजल के दाम: लोकसभा चुनाव खत्म होते ही कॉन्ग्रेस ने शुरू की ‘वसूली’, जनता पर टैक्स का भार बढ़ा कर...

अभी तक बेंगलुरु में पेट्रोल 99.84 रुपये प्रति लीटर और डीजल 85.93 रुपये प्रति लीटर बिक रहा था, लेकिन नए आदेश के बाद बढ़ी हुई कीमतें तत्काल प्रभाव से लागू हो गई हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -