Wednesday, August 4, 2021
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षारघुनाथ मंदिर, बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन और लखदाता बाजार...: पुलवामा हमले की बरसी पर...

रघुनाथ मंदिर, बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन और लखदाता बाजार…: पुलवामा हमले की बरसी पर तबाही का था बड़ा प्लान

बीती रात हमने सोहेल नाम के एक शख्स को गिरफ्तार किया। उसके पास एक बैग था। पूछताछ के दौरान उसके बैग से 6-6.5 किलो आईईडी जब्त किया गया।"

पुलवामा हमले की दूसरी बरसी पर बड़े आतंकी हमले की साजिश को सुरक्षा बलों ने नाकाम कर दिया है। जम्मू-कश्मीर में कई जगह आतंकी वारदातों को अंजाम देने का प्लान था। जम्मू पुलिस ने रविवार (फरवरी 14, 2021) को प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए इस पूरी साजिश का खुलासा किया। पुलिस ने बताया कि पाकिस्तान से चंडीगढ़ में पढ़ने वाले एक युवक को मैसेज भेजकर आईईडी प्लांट करने का ऑर्डर दिया गया था।  

जम्मू पुलिस के आईजी मुकेश सिंह ने बताया, “हमारे पास पहले से ही इनपुट थे कि पुलवामा हमले की बरसी पर आतंकी ग्रुप्स वारदातों को अंजाम दे सकते हैं। इस वजह से हम हाई अलर्ट पर थे। बीती रात हमने सोहेल नाम के एक शख्स को गिरफ्तार किया। उसके पास एक बैग था। पूछताछ के दौरान उसके बैग से 6-6.5 किलो आईईडी जब्त किया गया। हालाँकि वह एक्टिवेट नहीं था।”

उन्होंने आगे बताया कि सोहेल ने खुलासा किया है कि वह चंडीगढ़ में नर्सिंग की पढ़ाई करता है। उसे पाकिस्तान के अल बदर तंजीम के हुक्मरान के जरिए मैसेज आया था कि उसको एक आईईडी प्लांट करनी है।

आईजी मुकेश सिंह ने पाकिस्तान की साजिश का भंडाफोड़ करते हुए कहा कि सोहेल को आईईडी लगाने के लिए तीन से चार जगहों का टारगेट दिया गया था। इनमें रघुनाथ मंदिर, बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन और लखदाता बाजार का नाम शामिल था। इसमें से किसी एक जगह पर उसे आईडी रखना था। इस आईडी को रखने के बाद उसे श्रीनगर की फ्लाइट पकड़नी थी, जहाँ उसे अल बदर तंजीम का ग्राउंड वर्कर अथर शकील खान उसे रिसीव करता।

उन्होंने बताया कि चंडीगढ़ के रहने वाला काज़ी वसीम को भी इसकी जानकारी थी। पुलिस ने उसे भी पिक कर लिया है। उसकी भी गिरफ्तारी हो जाएगी। इसके अलावा, आबिद नबी नाम के एक शख्स को भी गिरफ्तार किया गया है। अगर यह आईडी एक्टिव होती तो बड़ा धमाका हो सकता था। जान-माल की बड़ी हानि हो सकती थी।

मुकेश सिंह ने बताया कि बीती रात 15 छोटे आईईडी और 6 पिस्तौल सांबा सेक्टर से भी बरामद की गई।

पुलवामा हमले में 40 जवान हुए थे वीरगति को प्राप्त

बता दें कि दो साल पहले आज के ही दिन पुलवामा में जैश-ए-मोहम्मद के एक आतंकवादी ने विस्फोटकों से लदे वाहन से सीआरपीएफ जवानों की बस को टक्कर मार दी थी, जिसमें 40 जवान वीरगति को प्राप्त हो गए थे। हमले की दूसरी बरसी पर जम्मू-कश्मीर के लेथपुरा में सीआरपीएफ के कैंप में एक श्रद्धांजलि कार्यक्रम का आयोजन किया किया गया। दिल्ली में सीआरपीएफ मुख्यालय से डिजिटल माध्यम से बल के वरिष्ठ अधिकारियों ने कार्यक्रम में हिस्सा लिया। इस मौके पर सीआरपीएफ ने कहा कि देश उस हमले के जिम्मेदारों को माफ नहीं करेगा और जवानों के सर्वोच्च बलिदान को नहीं भूलेगा।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

राहुल गाँधी ने POCSO एक्ट का किया उल्लंघन, NCPCR ने ट्वीट हटाने के दिए निर्देश: दिल्ली की पीड़िता के माता-पिता की फोटो शेयर की...

राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (NCPCR) ने राहुल गाँधी के ट्वीट पर संज्ञान लिया है और ट्विटर से इसके खिलाफ कार्रवाई करने की माँग की है।

‘धर्म में मेरा भरोसा, कर्म के अनुसार चाहता हूँ परिणाम’: कोरोना से लेकर जनसंख्या नियंत्रण तक, सब पर बोले CM योगी

सपा-बसपा को समाजिक सौहार्द्र के बारे में बात करने का कोई अधिकार नहीं है क्योंकि उनका इतिहास ही सामाजिक द्वेष फैलाने का रहा है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,945FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe