Monday, November 29, 2021
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षापाकिस्तान की पंजाब को दहलाने की साजिश नाकाम: 22 विदेशी पिस्टल, 44 मैगजीन, हेरोइन...

पाकिस्तान की पंजाब को दहलाने की साजिश नाकाम: 22 विदेशी पिस्टल, 44 मैगजीन, हेरोइन के साथ हथियारों की बड़ी खेप बरामद

काउंटर इंटेलिजेंस और बीएफएफ ने पाकिस्तान की ओर से ड्रोन के माध्यम से भारत भेजी गई हथियारों की बड़ी खेप रात को बरामद की है। इसमें 22 विदेशी पिस्टल, 44 मैगजीन, 100 कारतूस (9एमएम) एक किलो हेरोइन और 72 ग्राम अफीम शामिल हैं।

अपनी नापाक हरकतों के लिए दुनिया भर में मशहूर पाकिस्तान को एक बार फिर से मुँह की खानी पड़ी है। दरअसल, त्योहारों के सीजन में पाकिस्तान द्वारा पंजाब को दहलाने साजिश को बुधवार (20 अक्टूबर 2021) नाकाम कर दिया गया।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, काउंटर इंटेलिजेंस और बीएफएफ ने पाकिस्तान की ओर से ड्रोन के माध्यम से भारत भेजी गई हथियारों की बड़ी खेप रात को बरामद की है। इसमें 22 विदेशी पिस्टल, 44 मैगजीन, 100 कारतूस (9एमएम) एक किलो हेरोइन और 72 ग्राम अफीम शामिल हैं।

बताया जा रहा है कि काउंटर इंटेलिजेंस के एआईजी सुखमिंदर सिंह मान को सूचना मिली थी कि पंजाब का माहौल खराब करने लिए पाकिस्तान भरसक प्रयास कर रहा है। इसको देखते हुए डीजीपी इकबाल प्रीत सिंह सहोता ने मंगलवार (19 अक्टूबर) को ही अलर्ट जारी कर दिया था।

इससे पहले भी पाकिस्तान पंजाब का माहौल खराब करने के लिए टिफिन बम ड्रोन से गिरा चुका है, लेकिन समय रहते पंजाब पुलिस ने हथियारों की इन खेपों को बरामद कर लिया था। आँकड़ों पर नजर डालें तो साल 2019 में 232.561 किलो हेरोइन पंजाब में पकड़ी गई थी। साल 2020 में यह आँकड़ा बढ़कर 506.241 किलोग्राम तक पहुँच गया। वहीं, 2021 में 31 मई तक 241.231 किलोग्राम हेरोइन पकड़ी जा चुकी है। 

गौरतलब है कि 15 अगस्त से पहले पाकिस्‍तान ने सीमा पर फिर नापाक हरकत को अंजाम दिया था। पाकिस्तान ने ड्रोन से पंजाब में अमृतसर के बॉर्डर क्षेत्र के गाँव डालेके में दो किलो आरडीएक्‍स (RDX) से भरा टिफिन बम फेंका था। हालाँकि, गाँव वालों की मुस्तैदी के कारण एक बड़ा हादसा होने से टल गया था। इस बम से पंजाब में स्‍वतंत्रता दिवस के दिन बड़ा धमाका करने की साजिश थी। इसके बाद से पुलिस व सुरक्षा एजेंसियाँ सतर्क हो गई थीं।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘जिनके घर शीशे के होते हैं, वे दूसरों पर पत्थर नहीं फेंका करते’: केजरीवाल के चुनावी वादों पर बरसे सिद्धू, दागे कई सवाल

''अपने 2015 के घोषणापत्र में 'आप' ने दिल्ली में 8 लाख नई नौकरियों और 20 नए कॉलेजों का वादा किया था। नौकरियाँ और कॉलेज कहाँ हैं?"

‘शरजील इमाम ने किसी को भी हथियार उठाने या हिंसा करने के लिए नहीं कहा, वो पहले ही 14 महीने से जेल में’: इलाहाबाद...

इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने अपनी टिप्पणी में कहा कि शरजील इमाम ने किसी को भी हथियार उठाने या हिंसा करने के लिए नहीं कहा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
140,506FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe