Wednesday, February 8, 2023
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षासेना पर हमले के लिए PAK ने बनाया 7 लश्कर आतंकियों का दस्ता,...

सेना पर हमले के लिए PAK ने बनाया 7 लश्कर आतंकियों का दस्ता, घुसपैठ करते 2 पकड़े गए

आतंकी नजनीन खोखर और खलील अहमद को गुलमर्ग के पास से पकड़ा गया है। इनसे पूछताछ की जा रही है। दोनों ने लश्कर के खचरबन और कोटली कैंप में ट्रेनिंग की बात कबूली।

जम्मू-कश्मीर में आर्टिकल 370 को निरस्त किए जाने के बाद पाकिस्तान लगातार घाटी में हिंसा भड़काने की कोशिश कर रहा है। मगर भारतीय सुरक्षा बल भी अलर्ट हैं। जानकारी के मुताबिक, कश्मीर में घुसपैठ की कोशिश कर रहे 2 पाक आतंकी पकड़े गए हैं। सेना के अधिकारियों ने सोमवार (सितंबर 2, 2019) को दोनों आतंकियों के पकड़े जाने की सूचना दी।

बता दें कि, जिन दो आतंकियों को गिरफ्तार किया गया है उनके नाम नाजिम खोखर (25) और खलील अहमद (36) है। इन्हें पिछले हफ्ते गुलमर्ग के पास से गिरफ्तार किया गया है। दोनों ही आतंकियों से पूछताछ की जा रही है। 

दोनों आतंकियों ने जाँच एजेंसियों को बताया है कि उन्हें लश्कर के खचरबन और कोटली कैंप में आतंकी हमले की ट्रेनिंग दी गई थी। आतंकी खलील अहमद और नाजिम खोखर ने कबूल किया है कि रावलपिंडी में पाकिस्तानी सेना के मुख्यालय में उनकी मुलाकात पाक सेना के कुछ बड़े अधिकारियों से कराई गई थी। इसके बाद कश्मीर में हमले के लिए 7 लश्कर आतंकियों के ग्रुप को तैयार किया गया। इनमें 3 अफगानी मूल के भी आतंकी हैं। इन्हें घाटी में सुरक्षा बलों पर हमले के लिए तैयार किया गया है।

गौरतलब है कि, जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक के सलाहकार फारूक खान ने रविवार (सितंबर 1, 2019) को जम्मू में पत्रकारों से बात करते हुए बताया था कि घाटी में सक्रिय आतंकियों की संख्या पहले से काफी कम हो गई है। उन्होंने बताया था कि कभी घाटी में हजारों की संख्या में सक्रिय रहने वाले आतंकियों की संख्या घटकर महज 150 से 200 के बीच रह गई है। इसके साथ ही उन्होंने आतंकियों को चेतावनी देते हुए कहा था कि आतंकियों को या तो जेल या फिर कड़ी सजा झेलने के लिए तैयार रहना पड़ेगा।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बिन दाढ़ी मुख सून… कौन थे हाथरस वाले प्रभुनाथ गर्ग, PM मोदी ने पढ़ा जिनका दोहा तो ठहाकों से गूँज उठी संसद: सामाजिक-राजनीतिक कुरीतियों...

जब काका हाथरसी सिर्फ 15 दिन के थे, तभी उनके पिता का निधन हो गया था। बड़े भाई भजन लाल उस समय केवल 2 साल के थे। प्रभुनाथ गर्ग से ऐसे बने 'काका'।

पहले PM मोदी को बदनाम किया, अब ISIS आतंकी बनने वाली महिला BBC के लिए बनी ‘महान काम करने वाली सेलेब्रिटी’: ब्रिटेन के लोग...

BBC के वीडियो में शमीमा बेगम ने कहा कि ISIS के भयानक वीडियो देखने के बाद भी उसने अपना विचार नहीं बदला था। उसने कहा कि वह ब्रिटेन लौटना चाहती है। 

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
244,416FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe